फर्जी आदेश बनाने वाले IAS की जमानत याचिका खारिज:दाे माह से जेल में बंद है संतोष वर्मा, फर्जी आदेश बनाकर लिया था प्रमोशन

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

27 जून को फर्जी आदेश बनाकर प्रमोशन लेने वाले संतोष वर्मा की जिला न्यायालय ने जमानत याचिका खारिज कर दी गई है। 2 माह पूर्व एमजी रोड थाना पुलिस ने संतोष वर्मा को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था, जिसमें कूटरचित दस्तावेज तैयार करके संतोष वर्मा ने आईएएस का पद हासिल करा था। जिला कोर्ट द्वारा उन्हें कुछ दिनों पहले जिला जेल भेज दिया गया था, जहां से लगातार वह जमानत के लिए आवेदन लगा रहे लगा रहे हैं।

MP का आशिक मिजाज अफसर:फर्जी IAS वर्मा ने नौकरानी सहित 4 लड़कियों से रचा ली शादी; एक के प्रेमजाल में करोड़ों लुटाए पर उसे पत्नी नहीं बनाया
इसके पहले वर्मा की शुक्रवार को जमानत खारिज की गई थी। इसमें निलंबित IAS संतोष वर्मा के ‌वॉइस सैंपल लिए गए थे। इस समय कोर्ट ने माना था कि वर्मा ने राजपत्रित अधिकारी होते हुए पद का दुरुपयोग किया। न्यायालयों की न्यायिक व्यवस्था एवं न्यायिक प्रशासन को चुनौती देना सीधे-सीधे न्यायालयों को चुनौती देने जैसा है।

खबरें और भी हैं...