इंदौर के गरबा पंडाल में पहचान छिपाकर पहुंचे मुस्लिम युवक:लड़कियों के VIDEO बनाते देख पकड़ा,किसी ने नाम संदीप तो किसी ने बबलू बताया

इंदौर4 महीने पहले

इंदौर के पंढरीनाथ चौराहे के गरबा पंडाल में पहचान छुपाकर आए 7 मुस्लिम युवकों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की है। ये युवक वहां फोटो-वीडियो बना रहे थे, उनकी हरकतें देखकर वहां मौजूद बजरंग दल के सदस्यों को उन पर शक हुआ। जिसके बाद उन्होंने उनका नाम पूछा और आईडी दिखाने को कहा। सभी युवकों ने अपने नाम गलत बताए। आईडी मांगने पर भी नहीं दिखाई। इसके बाद उन युवकों को पुलिस के हवाले कर दिया। सभी के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

इस बारे में बजरंग दल के पदाधिकारी राजेश उर्फ राजू राठौर ने बताया कि जब वह कार्यकर्ताओं के साथ पंडाल पहुंचे तो युवकों की हरकतें संदिग्ध दिखीं। उन पर नजर रखी गई। वे मोबाइल से लड़कियों और महिलाओं के फोटो ले रहे थे और वीडियो भी बना रहे थे। शंका होने पर कार्यकर्ताओं ने उनसे पूछताछ की, तो पहले उन्होंने गलत नाम बताए। किसी ने अपना नाम संदीप तो किसी ने बबलू बताया। बाद में सभी के असली नामों की पहचान होने पर उन्हें पुलिस के सुपुर्द किया गया।

पंडाल में पहचान छिपाकर आए युवकों को बजरंग दल ने पकड़ा।
पंडाल में पहचान छिपाकर आए युवकों को बजरंग दल ने पकड़ा।

बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने नहीं लिखाई रिपोर्ट
TI सतीश पटेल के मुताबिक सभी युवक मोती तबेला और मल्हारगंज इलाके के रहने वाले हैं। हिंदू संगठन की तरफ से मामले में कोई रिपोर्ट नहीं लिखाई गई है। सभी युवकों को थाने लाकर तफ्तीश करने के बाद प्रतिबंधात्मक धाराओं में केस दर्ज किया गया है। सभी युवकों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया था। कोर्ट उन्हें से जमानत मिल गई है।

बजरंग दल ने दी थी ये चेतावनी
बजरंग दल संयोजक तनु शर्मा ने शनिवार को ही गैर हिंदू समाज के युवकों को चेतावनी देते हुए कहा था कि, वे गरबा पंडाल में आएंगे दो पैरों पर और जाएंगे चार कंधों पर। उनके मुताबिक लव जिहाद की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए ही उन्होंने ये बात कही है। उन्होंने बताया था कि नवरात्रि के दौरान गरबा पंडालों में बजरंग दल के कार्यकर्ता तैनात रहने और प्रत्येक युवक की आईडी देखने की बात भी कही थी। शर्मा ने कहा था कि गैर हिंदू युवक पंडाल में नजर आएगा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।

आरोपी युवकों पर प्रतिबंधात्मक धाराओं में कार्रवाई की गई है।
आरोपी युवकों पर प्रतिबंधात्मक धाराओं में कार्रवाई की गई है।

उज्जैन में भी गरबा में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक
उज्जैन के नानाखेड़ा ग्राउंड में आयोजित किए जा रहे गरबा पंडालों में भी गैर हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया गया है। गरबा ‘सेवा ही संकल्प’ समिति की ओर से आयोजित किया जा रहा है। पंडाल में इसके लिए होर्डिंग लगाया गया है। समिति अध्यक्ष बहादुर सिंह राठौर ने बताया कि बुधवार से पंडाल में आधार कार्ड चेक करने के बाद ही लोगों को प्रवेश दिया जाएगा।

गरबा पंडालों में प्रवेश से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें...

संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने भी गरबा पंडालों को लेकर दी थी हिदायत

शिवराज सरकार में संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने लव जिहाद और गरबा पंडाल को लेकर पिछले दिनों ग्वालियर में बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि गरबा पंडाल लव जिहाद का बड़ा माध्यम बन चुके हैं, इसलिए बहुत जरूरी है कि कोई भी व्यक्ति गरबे में अपनी पहचान छिपाकर नहीं आए। पंडाल में आने वाले हर व्यक्ति को आईडी देखकर ही एंट्री दें। ये सभी आयोजकों को तय करना चाहिए। पूरी खबर यहां पढ़ें

कांग्रेस ने किया था संस्कृति मंत्री के बयान का विरोध
कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर के बयान पर कांग्रेस ने निशाना साधते हुए कहा था कि उन्हें भारतीय संस्कृति का ज्ञान नहीं है। पूरी खबर यहां पढ़ें

​​​​

खबरें और भी हैं...