इंदौर में गुंडों ने राहगीर की उंगली काट दी:शराब दुकान के सामने बच्चे को बेरहमी से पीटा; बचाने वाले पर चाकू लेकर टूट पड़े

इंदौर5 महीने पहले

इंदौर में गुंडों ने अधेड़ की चाकू से उंगली काट दी। 55 साल के रमेश का कसूर सिर्फ इतना था कि, गुंडे 12 साल के बच्चे को बेरहमी से पीट रहे थे, रमेश उसे बचाने की कोशिश कर रहा था। तभी दो और गुंडे कार से निकले और चाकू निकालकर उंगली काट दी। उंगली जमीन पर गिर गई और सभी भाग निकले। ओमकार मार्ग गांधी नगर के रहने वाले रमेश सोनी ने बताया...

मैं गांधी नगर चौराहे के पास एक दुकान पर काम करता हूं। दुकान पर काम खत्म होने के बाद राजमोहल्ला जा रहा था। तभी छोटा बांगड़दा रोड की वाइन शॉप के सामने कुछ गुंडे एक बच्चे को बुरी तरह पीट रहे थे। मैं वहां से गुजरा तो बच्चे ने मुझसे मदद मांगी। मैं गुंडों को समझाने पहुंचा और बच्चे को उनसे छुड़ाने की कोशिश की। तभी वहीं खड़ी कार से दो लड़के निकले, उनमें से एक के हाथ में चाकू था। एक ने मेरा हाथ पकड़ा और दूसरे ने चाकू से मेरी उंगली काट दी। मैं दर्द से कराह उठा। मेरी उंगली हाथ से अलग होकर जमीन पर गिर गई। ये देखकर गुंडे कार में बैठे और भाग निकले। मैंने खुद को संभाला और बच्चे से पूछा कि गुंडे उसे क्यों मार रहे थे? उसने बताया कि, खेलने के दौरान उसके हाथ से एक पत्थर गुंडों की कार को लग गया था। इसके बाद उसे पकड़कर पीटने लगे।

डॉक्टर नहीं जोड़ पाए उंगली

एरोड्रम पुलिस के मुताबिक रमेश (55) पुत्र मिश्रालाल सोनी निवासी ओमकार मार्ग गांधी नगर अपनी कटी उंगली लेकर थाना पहुंचे थे। यहां पहुंचते ही पुलिस उन्हें रिपोर्ट लिखाने के पहले एमवाय अस्पताल में उपचार के लिए ले गई। अस्पताल में डॉक्टरों ने हाथ की स्थिति देखते हुए और अधिक समय हो जाने के कारण उंगली जोड़ पाने में असमर्थता जताई। इसके बाद मरहम-पट्टी की गई। रमेश के उपचार के बाद FIR दर्ज कर उसे रवाना किया गया। आरोपियों की तलाश की जा रही है।