पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आत्महत्या की जांच में जुटी पुलिस:रीडर को नवंबर में था कोरोना, सुसाइड नोट में अब क्यों लिखा

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बहादुर सिंह केलवा - Dainik Bhaskar
बहादुर सिंह केलवा
  • अभी महिला का पता नहीं चला, मोबाइल भी बंद

जूनी इंदौर एसडीएम के रीडर बहादुर सिंह केलवा की आत्महत्या की जांच में पुलिस ने परिजन के बयान दर्ज किए हैं। परिजन का कहना है कि वे सर्दी खांसी से परेशान जरूर थे, लेकिन सास की मौत और अन्य कारणों से तनाव में थे। उधर, पुलिस यह पता कर रही है कि जब उन्हें नवंबर में कोरोना हुआ था तो अभी जिक्र क्यों किया।

हालांकि यह भी बात सामने आई है कि उनकी सर्दी खांसी ठीक नहीं हो रही थी इसलिए वे ज्यादा चिंतित थे। वहीं पुलिस को अभी तक उस लापता महिला का पता नहीं चला है, जिसके लिए रीडर से एक-दो बार पूछताछ भी की गई थी। अभी तक उसका मोबाइल भी बंद है। राजेंद्र नगर पुलिस के अनुसार, रीडर के घर से एक डायरी मिली है। सुसाइड नोट में खुद को कोरोना होने का जिक्र किया है, जबकि जांच में पता चला है कि वे नवंबर में संक्रमित थे। कुछ दिन बाद वे ठीक हो गए थे। अफसरों का मानना है कि महिला के मिलने के बाद ही स्थिति साफ होगी कि आत्महत्या से उसकी लिंक है।

खबरें और भी हैं...