• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Worshiping Mahalakshmi By Rotating Yellow Objects In All Directions And Wishing For Happiness And Prosperity

महालक्ष्मी पूजन:सिंधी समाज ने पीली वस्तुएं चारों दिशा में घुमाकर सुख-समृद्धि की कामना की; कई स्थानों पर सामूहिक पूजन भी

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिलाओं ने किया सामूहिक पूजन। - Dainik Bhaskar
महिलाओं ने किया सामूहिक पूजन।

सिंधी समाज ने बुधवार रात को महालक्ष्मी पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया। सिंधी बाहुल्य क्षेत्रों में पर्व को लेकर चहल-पहल बनी रही। वहीं कई स्थानों पर सामूहिक पूजन का भी आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में समाज की महिलाएं शामिल हुई। बुधवार रात को सिंधी समाज की महिलाओं ने महालक्ष्मी पर्व पूरी श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया। महिलाओं ने घर के हर सदस्य को पीला धागा बांधा। वहीं पीला प्रसाद, मीठा व्यंजन लेकर चार मुखी दीप जलाकर चारों दिशाओं में सुख-समृद्धि की कामना कर महालक्ष्मी का पर्व मनाया। वहीं इस पर्व में पुरुषों और बच्चों ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

भारतीय सिंधु सभा महिला शाखा की महामंत्री चांदनी फुंदवानी ने बताया आठवें श्राद्ध के दिन सिंधी समाज की महिलाओं ने महालक्ष्मी पर्व मनाया। इस पर्व में सिंधी समाज के हर परिवार में प्रत्येक सदस्यों को सगिड़ा (पीला धागा) पहनाकर अष्टमी के दिन उसे मीठीपुड़ी पर लपेटकर ब्राह्मण के यहां पूजा करके फिर अक्खा डालकर दिया जाता है। इस दिन तरह-तरह के मीठे पकवान बनाए जाते है। जिनका लक्ष्मी जी को भोग लगाकर बांटकर खाया जाता हैं।

धन का घमंड कभी ना करें

उन्होंने बताया इस तरह यह पर्व संदेश देता है कि धन का घमंड कभी नहीं करना चाहिए। जो व्यक्ति लक्ष्मीजी का अनादर करता हैं वे उससे रूष्ट होकर चली जाती है और जो नम्रता और आदर से लक्ष्मी का आव्हान करता है उनके यहां लक्ष्मीजी सदा निवास करती हैं। इधर, समाज की महिलाएं इस पर्व पर सजधज कर पूजन में शामिल होती हैं। बुधवार को भी बड़ी संख्या में महिलाएं सजधज कर सामूहिक पूजन में शामिल हुई। पर्व के चलते सिंधी बाहुल्य क्षेत्रों में काफी चहल-पहल भी रही। उन्होंने बताया

सामूहिक महालक्ष्मी पूजन हुआ

उन्होंने कहा कि लाड़काना नगर में पंडित इंद्रलाल शर्मा द्वारा सामूहिक महालक्ष्मी पूजन कराया गया। समाज की महिलाओं और पुरुषों ने हाथ में बंधा पीला सगड़ा उतारा और घरों व मंदिरों में ऐरावत हाथी की पूजा कर मीठे व्यंजनों जिसमें सतपुड़ा, सिवईयां, मीठे चावल और खीर का भोग लगाया गया। वहीं महिलाओं ने सजधज कर पूजन किया और परिवार के सुख-समृद्धि की कामना कर समाजजनों ने महालक्ष्मी की कथा सुनी। इंदौर में सिंधी बाहुल्य इलाके जिसमें गोपाल बाग, पलसीकर कॉलोनी, जयरामपुर कॉलोनी, काटजू कॉलोनी, सिंधी कॉलोनी सहित कई इलाकों में सामूहिक पूजन हुआ।

खबरें और भी हैं...