पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरोप:इंदौर में युवक ने केरोसिन डालकर जान देने की कोशिश की, आरोप- 10 गुना ज्यादा पैसे लाैटाए, फिर भी परेशान कर रहा

इंदौर10 महीने पहले
पुलिस ने युवक के हाथ से केरोसिन की बोतल छुड़ाई और उसे पकड़कर बिठाया।
  • पीड़ित बोला- 1 लाख 60 हजार रुपए उधार लिए थे, अब तक 10 लाख 60 हजार दे चुका
  • अन्नपूर्णा, भंवरकुआं थाने में शिकायत की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई तो डीआईजी ऑफिस पहुंचा
  • प्रापर्टी ब्रोकर का आरोप - रजिस्ट्री के बदले 6 लाख लिए, अब नहीं लौटाने का बना रहा दबाव
  • डीआईजी मिश्र हरकत से नाराज, बोले लोग ऐसी हरकतें ध्यान आकर्षित करने के लिए करते हैं

रीगल चौराहे स्थित कन्ट्रोल रूम पर सोमवार दोपहर को उस वक्त खलबली मच गई, जब वहां एक स्टाम्प वेंडर ने खुद पर घासलेट डाल लिया। उसने आत्मदाह का प्रयास किया, लेकिन पुलिसकर्मियों ने रोक लिया। वेंडर का आरोप है कि उसने प्रापर्टी का कामकाज करने वाले एक व्यक्ति से 1.60 उधार लिए थे, लेकिन 10 लाख लौटाने के बाद भी मूल मांग रहे हैं। उधर, डीआईजी ने भी वेंडर की हरकत पर नाराजगी जताई है। कहा - आवेदन तो दिया, लेकिन पुलिस से वह मिलने ही नहीं पहुंचा। यहां माहौल बनाने के लिए आया है।

जानकारी के अनुसार सुदामा नगर निवासी संजय पांडे ने डीआईजी कार्यालय के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया। उसका कहना है कि वह कलेक्टर ऑफिस में स्टाम्प वेंडर का कार्य करता है। पुरानी जान - पहचान के कारण उसने प्रापर्टी का कामकाज करने वाले ओम प्रकाश सलूजा से 1 लाख 60 हजार रु. लिए थे, जिसके बदले वह अब तक 10 लाख 60 हजार दे चुका है। पांडे का कहना है कि सलूजा अब हर महीने 40 हजार रुपए मूल और 10 हजार रुपए का ब्याज मांग रहा है। इससे परेशान होकर वह जान देने आया था।

वहीं, दूसरे पक्ष से प्रापर्टी का काम करने वाले ओपी सलूजा का कहना है कि वे आए दिन रजिस्ट्रियां करवाते हैं। इसी दौरान उनकी संजय पांडे से पहचान हो गई। पांडे ने कहा कि वह दूसरों से कम दाम में रजिस्ट्रियां कर दिया करेगा। इस पर सलूजा से उसने एक रजिस्ट्री के 6.60 लाख रुपए ले लिए। कुुछ दिन बाद जब रजिस्ट्री नहीं हुई तो सलूजा को पांडे ने कहा कि रुपए खर्च हो गए हैं। इसलिए वह बाद में रजिस्ट्री कर देगा। कई दिनों बाद जब रजिस्ट्री नहीं हुई तो सलूजा ने अपने रुपए मांगे। इस पर पांडे ने उन्हें 10 हजार रुपए महीने में रुपए लौटाना शुरू कर दिए। 4 लाख रुपए लौटाने के बाद अब धमकाने लगा। सुबह भी धमकाया कि अब रुपए नहीं देगा और अब घासलेट डालकर आत्महत्या का बहाना बनाकर पुलिस से एफआईआर भी करवाएगा। उधर, पुलिस का कहना है कि वे दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद जांच करेंगे।

ध्यान आकर्षित करने के लिए करते हैं ऐसी हकरतें

उधर, मामले में डीआईजी उसकी इस हरकत से नाराज हैं। उन्होंने पता किया तो जानकारी मिली कि पांडे ने कभी संबंंधित टीआई से संपर्क ही नहीं किया। उसे थाने बुलाया तो वह गया ही नहीं। पूछने पर बोला कि उसकी तबीयत खराब हो गई थी, इसलिए नहीं जा पाया। इस पर डीआईजी का कहना है कि लोग पुलिस का ध्यान आकर्षित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। अब उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें