गुस्साए परिजनों ने किया थाने का घेराव:संदिग्ध परिस्थितयों में हुई युवक की मौत ,परिवार ने लगाया हत्या का आरोप

इंदौर11 दिन पहले

बुधवार रात संदिग्ध परिस्थिति में बुटिक पर काम करने वाली युवक की मौत के मामल में गुस्साए परिजन शनिवार दोपहर विजय नगर थाने का घेराव करने पहुंचे। परिवार व समाज के लोगो ने कुछ देर सड़क पर जाम करने की कोशिश की लेकिन पुलिस द्वारा परिजनों को समझाइश देकर उन्हें थाने से रवाना किया गया। समाज के लोगो का आरोप था कि मृतक धीरज की मौत नहीं हुई हत्या हुई है। लेकिन पुलिस मामले में अब तक किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है। वहीं पुलिस मृतक के पीएम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

सड़क पर किया प्रदर्शन
सड़क पर किया प्रदर्शन

घटना विजय नगर थाने के स्कीम 74 के एक बुटीक में काम करने वाले मृतक धीरज वर्मा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। बुटीक से मिली सूचना के बाद परिजन अरबिंदो हॉस्पिटल पहुंचे और वहां शव के गले पर निशान देख हत्या की आशंका जताई थी । पुलिस का कहना है पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद स्थिति साफ होगी।

एसीपी निहित उपाध्याय ने बताया कि विजय नगर इलाके में बुटिक में काम करने वाले धीरज वर्मा की मौत के बाद अस्पताल पहुंचे परिजन राकेश सिलावट ने आरोप लगाये थे कि धीरज के बुटीक पर ही काम करने वाली एक महिला से संबंध थे। इसी वजह से महिला पक्ष के लोगों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी, क्योंकि जब हमें सूचना मिली तब तक उसे हॉस्पिटल ले जाकर सफेद चादर में लपेट दिया था। हमने चादर हटाकर शव देखा तो रस्सी या कपड़े से गला कसने के निशान दिखे। घटना वाली रात भी परिजनों ने पुलिस को हत्या का शंका होने पर उन्होंने विजय नगर पुलिस को शिकायत की।

मृतक के बेटे को लेकर पहुंचे थाने
मृतक के बेटे को लेकर पहुंचे थाने

6 बहनों का इकलौता भाई था
कुछ दिन पहले धीरज की बहन की शादी थी। 2 मई को अपनी शादी की सालगिरह मनाई। 6 बहनों के इकलौते भाई की मौत के बाद पूरे मोहल्ले में शोक की लहर दौड़ गई थी । हालांकि परिजनों ने उसके गले पर मिले निशान पर हत्या की आशंका जाहिर की थी । मृतक का 3 साल का एक बेटा है। नेहरू नगर रोड नंबर 6 पर रहने वाला धीरज वर्मा दिन में विजय नगर क्षेत्र में बुटिक फोटोग्राफी करता था और बचे हुए समय में फोटोग्राफी भी करता था। इससे समय मिलता था तो रात में सुंदरकांड और भगवान के भजन भी करता था। जिस बुटिक पर वह काम करता था, वहां की संचालिका ने परिजनों को बताया कि उसे हार्ट अटैक आया है और उसे लेकर अरबिन्दो अस्पताल गए हैं। हालांकि उसकी मौत हो गई। बाद में परिजनों ने जब उसके गले पर निशान देखे तो हत्या की आशंका जाहिर की

हाथों में तस्वीर लिए रोती रही मृतक की बहन
हाथों में तस्वीर लिए रोती रही मृतक की बहन