पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंगल प्रवेश:अहिंसा यात्रा लेकर आ रहे आचार्य महाश्रमणजी का मंगल प्रवेश कल

पेटलावद12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में प्रवेश से पहले आचार्यश्री जहां से भी गुजर रहे हैं उनकी अगवानी कर हर कोई आशीर्वाद ले रहा है। - Dainik Bhaskar
जिले में प्रवेश से पहले आचार्यश्री जहां से भी गुजर रहे हैं उनकी अगवानी कर हर कोई आशीर्वाद ले रहा है।
  • गुरुदेव की अगवानी के लिए तेरापंथ समाज कर रहा तैयारी

तेरापंथ धर्मसंघ के अधिशास्ता आचार्यश्री महाश्रमणजी अहिंसा यात्रा लेकर जिले में आ रहे हैं। उन्हें मध्यप्रदेश शासन ने राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है। आचार्यश्री धार जिले से होते हुए झाबुआ जिले की सीमा बीडपाडा फाटे पर होते हुए झकनावदा में 8 जून को प्रवेश करेंगे। इसे लेकर तेरापंथ समाज झकनावदा तैयारियां कर रहा है।

गुरुदेव जिस रास्ते से अगवानी करेंगे उस रास्ते पर सांसद ने चार दिन में डामरीकरण करवा दिया। झाबुआ जिले की सीमा में प्रवेश करने के बाद सांसद भी आचार्यश्री के साथ पैदल चलेंगे। कोराना काल के चलते गाइडलाइन अनुसार ग्रामीणों द्वारा गुरुदेव के प्रवेश पर घर पर ही रहकर गुरुदेव के दर्शन वंदन किए जाएंगे। विनती करने बैंगलुरु गए थे : आचार्यश्री महाश्रमण जब बैंगलुरू में अपना चातुर्मास पूर्ण कर रहे थे तब तेरापंथ समाज मध्यप्रदेश व मालवा सभा ने गुरुदेव को अगले चातुर्मास के लिए भीलवाड़ा पहुंचने से पहले मध्यप्रदेश में पधारने के लिए विनती की थी।

तब मध्यप्रदेश के जनप्रतिनिधि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, रतलाम-झाबुआ सांसद गुमानसिंह डामोर, उनकी पत्नी सूरज डामोर ने गुरुदेव से मध्यप्रदेश में आने की विनती की थी। जिसे आचार्यश्री ने स्वीकार किया था।

खबरें और भी हैं...