पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सम्मेलन:अमेरिकी कंपनी ने प्लास्टिक के बैग बनाने की इंडस्ट्री डालने के लिए 50 करोड़ रुपए निवेश का रखा प्रस्ताव

पीथमपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंत्री ने कहा-हफ्तेभर में उद्योग से जुड़े जमीन के मसले हल करें, उद्योगपतियों ने 100 करोड़ निवेश की बात कही
  • तमिलनाडु, पुणे, बेंगलुरू, मुंबई, दिल्ली के निवेशकों ने बताई समस्याएं

औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर में अमेरिकी कंपनी ने जम्मू यानी प्लास्टिक के बैग बनाने की इंडस्ट्री शुरू करने के लिए 50 करोड़ का निवेश करने का प्रस्ताव रखा है। कंपनी के मिस्टर आर्ट ट्राई ने सूक्ष्म लघु एवं मध्यम विभाग के मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा के सामने पीथमपुर में आयोजित निवेशकों के सम्मेलन में प्रस्ताव रखा। मंत्री सकलेचा ने जिला उद्योग केंद्र महाप्रबंधक को कहा कि हफ्तेभर में उद्योगों को दी जाने वाली जमीन के मामले हल किए जाएं।

सम्मेलन में देश के विभिन्न हिस्सों से 26 निवेशक भी शामिल हुए। तमिलनाडु, पुणे, बेंगलुरू, मुंबई, दिल्ली व इंदौर के निवेशकों ने भी समस्याएं बताईं, जिन्हें हल करने के लिए मंत्री ने निर्देश दिए। उद्योग मंत्री ने लेबर इंस्पेक्टर से यह भी जाना कि प्रवासी मजदूरों की नौकरी के लिए क्या व्यवस्था की गई है। तहसीलदार विनोद राठौड़ से भी चर्चा और पता किया कि औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर के आसपास कितनी सरकारी जमीन है। यहां कितने लोग उद्योग लगाना चाहते हैं। तहसीलदार राठौर ने बताया कि रायन क्षेत्र के पास 15 हेक्टेयर, उज्जैनी के पास 5 हेक्टेयर भूमि और सरफराज के पास 9 हेक्टेयर भूमि है जहां उद्योग लगाए जा सकते हैं।

1035 उद्योग में 35632 लोगों को रोजगार मिला
मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारी टीएस चतुर्वेदी ने बताया कि अप्रैल में 20 फीसदी दवाई कंपनियां चालू थी, मई में 30 फीसदी, जून में 70 फीसदी और जुलाई-अगस्त में पूरी 100 फीसदी कंपनियां चालू हो गई है। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक सुनील त्रिपाठी ने बताया 2019 तक यहां 1035 उद्योग संचालित एमएसएमई के तहत हुए हैं जिसमें 35632 लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है एवं 24827 करोड़ रुपए पूंजी निवेश हुई है। 1 जुलाई 2020 के बाद 57 बड़े उद्योग मध्यम उद्योग में परिवर्तित हुए हैं, इसमें भी 2068 करोड़ की पूंजी का निवेश हुआ है।

ऑटो टेस्टिंग ट्रैक भी देखा
लघु उद्योग भारती अध्यक्ष पीथमपुर जीआर नारखेड़े, औद्योगिक संगठन अध्यक्ष गौतम कोठारी, संजय दुबे, प्रतिभा सिंटेक्स के एमडी अशोक जैन, महिमा के रोहित डोशी, उद्योगपति राजेश खंडेलवाल, किरण शास्त्री, राजीव मजूमदार, मनोज द्विवेदी मौजूद थे। मंत्री सकलेचा ने आॅटो टेस्टिंग ट्रैक भी देखा, यहां नैट्रेक्स के अधिकारी एन करुपया और प्रियंका मिश्रा से बात की। मप्र टैक्सटाइल मिल्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों से भी चर्चा की, जिसमें उन्होंने गारमेंट उद्योग विकसित करने की बात कही। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक सुनील त्रिपाठी ने बताया कि 15 दिन बाद मंत्री सकलेचा फिर से पूरे मामले की समीक्षा करेंगे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें