पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरोप-घटिया सामग्री का उपयोग कर रहे:88 लाख की सड़क का काम शुरू होने के 2 दिन बाद रुकवाया

राणापुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • राणापुर में पूर्व अध्यक्ष साइट पर पहुंचे, झाबुआ में विधायक ने कलेक्टर से शिकायत की

सड़क निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग करने को लेकर यहां 88 लाख रुपए की लागत से बन रही सड़क का काम रोक दिया गया। काम दो दिन पहले ही शुरू किया गया था। सीसी रोड का निर्माण कष्टभंजन पेट्रोल पंप की तरफ से शुरू किया गया था। रोड निर्माण के लिए बनाए जा रहे बेस में उपयोग की जा रही रेत और अन्य सामग्री पर कांग्रेस नेताओं ने सवाल खड़े किए। पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष ने साइट पर जाकर विरोध जताया । झाबुआ में विधायक कांतिलाल भूरिया ने कलेक्टर से शिकायत की। बुधवार को पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष कैलाश डामोर, पार्षद नारायण जैन एवं हरीश नलवाया ने इस निर्माण कार्य की शिकायत विभाग के सहायक यंत्री गीते, कलेक्टर सोमेश मिश्रा एवं सीएमओ कमलेश गोले से की। काम रोकने की मांग की गई। बुधवार को जब इस रोड का कार्य चल रहा था, इसी दौरान ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश डामोर वहां पहुंचे। उन्होंने आरोप लगाया, सड़क निर्माण के लिए जो बेस वर्क किया जा रहा है, वो एकदम घटिया स्तर का है। डामोर ने कांग्रेस के पार्षद हरीश नलवाया, नारायण जैन व आईटी सेल के दिनेश गाहरी को बुलवा लिया।

सहायक यंत्री और सीएमओ को सूचना दी गई। निर्माण स्थल पर नप इंजीनियर अर्पित हटीला आए। इंजीनियर हटीला ने भी निर्माण कार्य मे उपयोग की जा रही सामग्री पर असंतोष जताते हुए ठेकेदार को बुलवाकर काम बंद करने के निर्देश दिए। अर्पित हटीला ने बताया कि बुधवार सुबह जो रेत ठेकेदार ने खरीदी उसमें मिट्टी की मात्रा अधिक होने से मटेरियल में मिट्टी दिखाई दे रही थी। ठेकेदार को रेत बदलने के लिए कहा है। लेकिन ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष का कहना था कि इसमें गिट्टी की जगह वेस्टेज चूरी का उपयोग किया जा रहा है। जिससे व्यस्ततम ट्रैफिक वाले रोड पर यह निर्माण जल्द ही उखड़ जाएगा।
काम रुकवाया जाए, नहीं ताे कांग्रेस करेगी विरोध प्रदर्शन
डामोर ने इंजीनियर हटीला से कहा कि फौरन काम रुकवाया जाए, वर्ना कांग्रेस धरना देगी। दिनेश गाहरी ने सड़क की चौड़ाई को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि सड़क के दोनों तरफ नाली निर्माण के लिए बराबर जगह छोड़़ी जानी चाहिए। पार्षद जैन व नलवाया ने आरोप लगाया कि बेस में 10 मिमी गिट्टी की जगह चूरी डाली जा रही है। सीमेंट भी बहुत कम मिलाई जा रही है। बाद में डामोर, पार्षद नारायण जैन एवं हरीश नलवाया के साथ थैली में मटेरियल भरकर विधायक कांतिलाल भूरिया को साथ लेकर कलेक्टर से शिकायत करने पहुंचे। कलेक्टर को घटिया रोड निर्माण रोककर जांच करने का आवेदन दिया। डामोर ने बताया, कलेक्टर ने एसडीएम को बुलाकर जांच के निर्देश दिए।
सामग्री बदलने के निर्देश दिए हैं
ठेकेदार द्वारा लाल रेत का उपयोग किया जा रहा था। उसके बाद काम रोका गया। ठेकेदार को रेत बदलने के लिए कहा है। -कमलेश गोले, सीएमओ, नप राणापुर

खबरें और भी हैं...