पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जैन भूगोल की प्रदर्शनी:पर्युषण : उत्तम आर्जव धर्म की पूजा की

राणापुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दिगंबर जैन समाज के पर्युषण पर्व के तीसरे दिन उत्तम आर्जव धर्म की पूजा नगर के दोनों जैन मंदिरों में की गई। दिगंबर जैन बड़ा मंदिर में शांति धारा करने का पुण्य अनूप कुमार पीठवा व पांडुक शीला पर भगवान को विराजमान कर के अभिषेक व शांति धारा करने का पुण्य नटवर लाल थानिया परिवार को प्राप्त हुआ।

48 दीपक से भक्तामर काव्य पढ़कर दीप प्रज्ज्वलित कर आरती की गई। जिसका लाभ नटवरलाल थानिया परिवार को प्राप्त हुआ। नगर में चातुर्मास के लिए विराजमान क्षुल्लिका 105 विस्मिता श्री माताजी एवं क्षुल्लिका 105 विगम्या श्री माताजी के सान्निध्य पिछले 45 दिन से चल रही जैन भूगोल के ऊपर एग्जिबिशन समाज के युवाओं और युवतियों द्वारा लगाया गया।

जिसमें ढ़ाई द्वीप, नंदीश्वर द्वीप, पंचमेरू, जंबू वृक्ष, गंगा कुंड, लवण समुद्र आदि बनाए गए। जिनका आज से एग्जिबिशन शुरू होगा।

खबरें और भी हैं...