• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 10 Arms Licenses Issued In The Name Of Six Family Members Including Wife Of Infamous Abdul Razzaq Canceled, Katni Collector Issued Order

हिस्ट्रीशीटर के पास 22 लाइसेंसी हथियार:जबलपुर के रज्जाक की पत्नी, परिवार के सदस्य और कर्मचारी के नाम पर जारी 12 शस्त्र लाइसेंस निरस्त; 10 अभी और बचे हैं

जबलपुरएक महीने पहले
28 अगस्त के दिन पुलिस ने अब्दुल रज्जाक को घर से गिरफ्तार किया था।

जबलपुर के कुख्यात अब्दुल रज्जाक ने प्रशासन को गुमराह कर शस्त्र लाइसेंस हासिल किए थे। अब रज्जाक की पत्नी, भाई व बहू आदि 7 लोगों के नाम पर जारी 12 शस्त्र लाइसेंस कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने निरस्त कर दिए। कटनी कलेक्टर ने आदेश में कहा है कि वे अपने हथियार ओमती थाने में जमा करा दें। बता दें, जबलपुर SP सिद्धार्थ बहुगुणा ने 18 लाइसेंस निरस्त करने की अनुशंसा कटनी, सीधी व अनूपपुर जिला प्रशासन को भेजी है। चार लाइसेंस की जानकारी जुटाई जा रही है।

SP सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि बड़ी ओमती निवास अब्दुल रज्जाक और उसके भतीजे शहबाज को 28 अगस्त को तड़के ओमती और विजय नगर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। आरोपी के घर से इटली मेड सहित कुल पांच हथियार जब्त हुए थे। वहीं, 10 कारतूस और बका नुमा चाकू बड़ी संख्या में मिले थे। दरअसल, चाचा-भतीजे के खिलाफ विजय नगर थाने में मारपीट, बलवा, हत्या के प्रयास की वारदात में शामिल होने और साजिश रचने के मामले में आरोपी बनाया गया था। जब्त हथियार की जांच हुई तो पता चला कि तीनों रज्जाक की पत्नी, भाई व बहू के नाम के और दो मुरैना और रीवा निवासी गार्ड के नाम पर जारी कराए गए हैं।

कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा द्वारा जारी किया गया आदेश पत्र।
कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा द्वारा जारी किया गया आदेश पत्र।

17 सदस्यीय SIT की जांच में खुलासा
SP सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर ASP सिटी रोहित काशवानी और एएसपी क्राइम गोपाल खांडेल के नेतृत्व में 17 सदस्यीय SIT गठित की गई है। विजय नगर और ओमती में दर्ज आर्म्स एक्ट के प्रकरण की विवेचना CSP गोहलपुर अखिलेश गौर को सौंपी गई है। जांच में पता चला कि रज्जाक ने परिवार के नाम पर 2016 के बाद अवैध तरीके से और अपराधों को छुपा कर कटनी, सीधी, अनूपपुर और शहडोल से कुल 22 लाइसेंस बनवाए हैं। 12 लाइसेंस कटनी से जारी कराए गए थे, उस समय कटनी में प्रकाश जांगड़े कलेक्टर थे। वहीं, सीधी से एक और अनूपपुर और शहडोल से जारी कराए गए 5 लाइसेंस का विवरण मिला है। अन्य की जानकारी जुटाई जा रही है।

रज्जाक की फिर से हिस्ट्रीशीट जबलपुर पुलिस खोल चुकी है।
रज्जाक की फिर से हिस्ट्रीशीट जबलपुर पुलिस खोल चुकी है।

3 सितंबर को एसपी जबलपुर ने लाइसेंस निरस्त करने की भेजी थी अनुशंसा
एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने 3 सितंबर को सभी 18 लाइसेंस निरस्त करने के लिए कटनी, सीधी, अनूपपुर, शहडोल आदि जिले के कलेक्टर को पत्र भेजा था। इसी पत्र के आधार पर कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने रज्जाक की पत्नी, भाई, बहू, भाई की पत्नी आदि 7 लोगों के नाम पर कटनी में संचालित अलग-अलग माइंस के पते पर जारी 12 शस्त्र लाइसेंस निरस्त करते हुए उसे तत्काल ओमती थाने में जमा कराने का आदेश जारी किया है। सारे लाइसेंस अलग-अलग लोगों के नाम जारी कराने के बावजूद उसका उपयोग रज्जाक और उसके गुर्गे कर रहे थे।

ये लाइसेंस हुए निरस्त

  • अब्दुल रज्जाक की पत्नी सुबीना बानो बेगम के नाम पर 2017 में जारी 0.22 बोर की राइफल और 12 बोर का बंदूक मेसर्स जुजावल मार्बल स्लीमनाबाद के पते पर जारी कराया गया था।
  • अब्दुल रज्जाक के भाई मोहम्मद महमूद के नाम पर 2016 में लाइसेंस जारी कराया गया था। लाइसेंस में एनपी रियाज के नाम से लाइसेंस बनवाया गया। पता स्लीमनाबाद सथित एसडब्ल्यू एंड संस मार्बल माइंस का पता दिया गया।
  • रज्जाक के भाई महमूद की पत्नी सुल्ताना बेगम के नाम 2016 में एसडब्ल्यू एंड संस मार्बल माइंस के पते पर शस्त्र लाइसेंस जारी कराया गया था।
  • रज्जाक के भाई की पत्नी शमीम बानो के नाम 2020 में कटनी से ही एसडब्ल्यू एंड संस मार्बल माइंस का पता दर्शाकर 2 लाइसेंस जारी कराए गए थे।
  • सबा आरा पति मोहम्मद सरूराज, जो रज्जाक के बेटे की पत्नी हैके नाम से मेसर्स जुजावल मार्बल स्लीमनाबाद के पते पर 2017 में जारी कराया गया।
  • रज्जाक के भाई मोहम्मद रियाज पुत्र अब्दुल वहीद के नाम से एसडब्ल्यू एंड संस मार्बल माइंस स्लीमनाबाद के पते से 3 लाइसेंस 2016 में जारी कराए गए थे।
  • रज्जाक के कर्मचारी छोटी ओमती निवासी कमरूल ईबाद के नाम पर 2017 में एक रायफल और एक बंदूक के लाइसेंस जारी कराए गए थे। इसका भी पता रज्जाक के कटनी स्लीमानाबाद स्थित माइंस का दिया गया था।

कुख्यात रज्जाक पत्नी के नाम से करता था कारोबार:पति के अपराधों को छुपा कर कटनी में खदान के पते पर जारी कराया था लाइसेंस, अब फाइल गुमी

अब्दुल रज्जाक पर NSA की भी कार्रवाई हो चुकी है।
अब्दुल रज्जाक पर NSA की भी कार्रवाई हो चुकी है।

अब तक ये हो चुकी गिरफ्तारी
विजय नगर के प्रकरण में शहबाज, अब्दुल रज्जाक, अजहर की जहां गिरफ्तारी हो चुकी है। वहीं आर्म्स एक्ट के प्रकरण में रज्जाक की गिरफ्तारी दिखाई गई है। रज्जाक की गिरफ्तारी NSA में भी हुई है। तीन गिरफ्तारी जिला कोर्ट में हुए विवाद में किया जा चुका है। पुलिस ने विजय नगर के प्रकरण में सभी आरोपियों सज्जाद, शेरू जग्गड़, सद्दाम, अरबाज, सोहेल उर्फ शोएब, शेख अजहर, राजा टेंट वाला, बुरहान दादा, कमरूल इबाद, सैफअली, विकास, शाकिब सूटर, शेखू उर्फ अब्दुल सईद, अब्दुल सईद, अब्दुल मजीद उर्फ करिया, मोहम्द तौसीफ और मोहम्मद बिलाल को चिन्हित करते हुए नामजद कर दिया है।

अब्दुल रज्जाक की पत्नी सहित परिवार के सदस्यों को जारी 12 लाइसेंस निरस्त।
अब्दुल रज्जाक की पत्नी सहित परिवार के सदस्यों को जारी 12 लाइसेंस निरस्त।
खबरें और भी हैं...