पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संक्रमण चरम पर:फिर जले 21 शव, लेकिन रिकॉर्ड में 1 मौत

जबलपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चौहानी मुक्तिधाम के वायरल वीडियो ने किया स्तब्ध, जगह नहीं होने से नीचे जलाए जा रहे शव, इधर फिर टूटा रिकाॅर्ड, मिले सर्वाधिक 269 पॉजिटिव

कोरोना का संक्रमण इस समय अपनी चरम स्थिति पर है। इसके प्रमाण मंगलवार को आई कोरोना संक्रमितों की रिपोर्ट में आए। पिछले सभी रिकाॅर्डों को तोड़ते हुए इस दिन 269 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए। वहीं चौहानी मुक्तिधाम के एक वायरल वीडियो ने लोगों को स्तब्ध किया। इस वीडियाे में कई शव शेड से हटकर नीचे की तरफ फर्श पर भी जलते दिखाई दिए, जिसने यह संकेत दिए कि मुक्तिधाम में अब शेड तले शव जलाने की जगह नहीं बची है। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो मंगलवार को यहाँ 21 शवों की अंत्येष्टि की गई।

इनमें 9 मृतक कोरोना से संक्रमित थे, जबकि 12 मृतकों को कोरोना संदिग्ध माना गया है। हैरानी की बात यह है कि मंगलवार को सरकारी रिकॉर्ड में मात्र 1 मौत दर्ज बताई गई है। उल्लेखनीय है कि सोमवार को भी हेल्थ रिकाॅर्ड में मात्र एक मौत दर्ज दिखाई गई थी, जबकि चौहानी मुक्तिधाम में 18 शवों का अंतिम संस्कार हुआ था।

इसमें से मृतक 14 कोरोना संक्रमित बताए गए थे। लोग यह नहीं समझ पा रहे हैं कि आखिरकार मौतों पर पर्दा डालने के पीछे सरकार की मंशा क्या है? आँकड़ों में भिन्नता क्यों रखी जा रही है? वैसे सवाल पॉजिटिव आने वाले मरीजों की संख्या पर भी खड़े हो रहे हैं। जानकार मान रहे हैं इनका वास्तविक ग्राफ भी ज्यादा हो सकता है।

(उक्त टेबल में केवल कोरोना से मृत हुए व्यक्ति ही शामिल हैं। कोरोना के संदिग्ध मृतकों की संख्या अलग है। संदिग्ध मृतकों के शवों का भी चौहानी मुक्तिधाम में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया है।)
(उक्त टेबल में केवल कोरोना से मृत हुए व्यक्ति ही शामिल हैं। कोरोना के संदिग्ध मृतकों की संख्या अलग है। संदिग्ध मृतकों के शवों का भी चौहानी मुक्तिधाम में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया है।)

सांसद ने कहा - आँकड़ों में रखें पारदर्शिता
सांसद राकेश सिंह ने कहा है कि कोराेना से रही मौतों की जानकारी में पारदर्शिता होनी चाहिए, ताकि लोगों को वास्तविक स्थिति के बारे में पता चल सके। वे सजग हो सकें। कोरोना के पलटवार को देखते हुए अब और भी जागरूक व सतर्क रहने की जरूरत है।

सांसद निधि से शासकीय अस्पतालों में उपलब्ध कराए जाएँगे 10 हजार इंजेक्शन
कोरोना पीड़ित मरीजों के लिए शासकीय अस्पतालों में सांसद राकेश सिंह ने अपनी निधि से 10 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। श्री सिंह ने कहा कि कोरोना मरीजों के इलाज में किसी तरह की कमी न होने पाए, इसलिए शासकीय अस्पतालों को जल्द ही इंजेक्शन सौंप दिए जाएँगे। सांसद श्री सिंह ने पहले भी सांसद निधि से रेमडेसिविर इंजेक्शन शासकीय अस्पतालों में भर्ती जरूरमंद लोगों को उपलब्ध कराए थे।

आँकड़े छिपा रही सरकार
कोरोना संक्रमण फैलने के बाद मौतों का आँकड़ा भी बढ़ गया है, लेकिन सरकार न जाने क्यों आँकड़ाें में हेर-फेर कर संख्या कम बता रही है। मप्र कांग्रेस कमेटी के सदस्यों व प्रदेश प्रवक्ता टीकाराम कोष्टा ने यह आरोप लगाया है। कांग्रेस का कहना है कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने में असफल हो रही है। मुख्यमंत्री को इस मामले में इस्तीफा दे देना चाहिये। जनता के हितैषी बनने वाले ही जनता की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज का दिन मित्रों तथा परिवार के साथ मौज मस्ती में व्यतीत होगा। साथ ही लाभदायक संपर्क भी स्थापित होंगे। घर के नवीनीकरण संबंधी योजनाएं भी बनेंगी। आप पूरे मनोयोग द्वारा घर के सभी सदस्यों की जरूर...

    और पढ़ें