• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • GRP Caught A Young Man Riding In Howrah Mumbai, The Youth Was Going To Mumbai With The Money Of A Businessman Of Karamchand, Who Had Become A Hawala Stronghold

ट्रेन में हवाला के 30 लाख जब्त:जबलपुर GRP ने युवक को दबोचा; एक व्यापारी का पैसा लेकर मुंबई जा रहा था आरोपी, एक ट्रिप के मिलने थे 2 हजार

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हवाला की रकम जब्त करने के बाद कार्रवाई करती जबलपुर जीआरपी। - Dainik Bhaskar
हवाला की रकम जब्त करने के बाद कार्रवाई करती जबलपुर जीआरपी।

जबलपुर हवाला का केंद्र बना हुआ है। GRP ने गुरुवार को हावड़ा-मुंबई में सवार एक युवक को 30 लाख रुपए के साथ दबोचा। आरोपी बतौर कैरियर ये रकम लेकर निकला था। इसके एवज में उसे दो हजार रुपए मिलते। उसे मुंबई में ये रकम किसी को देने थे। GRP की सूचना पर आयकर विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है। कुछ दिन पहले ही RPF ने 50 लाख रुपए से अधिक की नकदी जब्त की थी।

यूपी में अलकायदा के आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पूरे देश में अलर्ट है। GRP भी मुख्य स्टेशन पर यात्री और उनके सामानों की जांच में जुटी है। गुरुवार को इसी क्रम में हावड़ा-मुंबई में सवार एक युवक का पिट्‌ठू बैग की तलाशी ली तो उसमें नोटों की गडि्डयां मिलीं। प्लेटफार्म नंबर एक पर हुई युवक की पैसों के साथ गिरफ्तारी से हड़कंप मच गया।

GRP टीआई सुनील नेमा के मुताबिक पूछताछ में युवक की पहचान सरकारी कुआं घमापुर निवासी कार्तिक गुप्ता पुत्र कृष्णा गुप्ता (19) के रूप में हुई। उसके बैग से GRP ने 30 लाख रुपए जब्त किए। प्रारंभिक पूछताछ में कार्तिक ने बताए कि ये रकम कृष्णा इलेक्ट्रॉनिक्स करमचंद चौक के संचालक कृष्णा उर्फ बाबू ने दिए थे। इसे मुंबई ले जा रहा था।

दुकान में काम करता है कार्तिक

कार्तिक की आर्थिक हालत ठीक नहीं है। यही कारण है कि वह पढ़ाई छोड़कर कृष्णा इलेक्ट्रॉनिक्स में नौकरी करता है। उसे पगार के अलावा इस तरह हवाला के रकम एक शहर से दूसरे शहर ले जाने के एवज में एक से डेढ़ हजार रुपए की अतिरिक्त आमदनी होती है। कार्तिक ने बताया कि इसके पूर्व भी वह कई बार मुम्बई सहित दूसरे शहरों में पैसे पहुंचा चुका है। पहली बार वह पकड़ा गया है। आयकर विभाग कृष्णा इलेक्ट्रॉनिक्स के संचालक कृष्णा से भी पूछताछ में जुटी है।

GRP के साथ आयकर विभाग भी जांच में जुटी।
GRP के साथ आयकर विभाग भी जांच में जुटी।

करमचंद चौक से हो रह हवाला का कारोबार

GRP की सूचना पर देर रात पहुंची GST और आयकर विभाग ने भी आरोपी से पूछताछ शुरू कर दी है। करमचंद चौक हवाला का केंद्र बिंदु के रूप में उभर चुका है। यहीं का पंजू गोस्वामी सबसे पहले हवाला मामले में गिरफ्तार हाे चुका है। इसके बाद लगतार यहां के अलग-अलग व्यवसायियों के नाम हवाला की रकम भेजने के तौर पर सामने आते रहे हैं।

जबलपुर में हवाला के 50.94 लाख रुपए जब्त:सोमनाथ एक्सप्रेस से हबीबगंज के लिए एसी कोच में सवार हुआ था कैरियर, एक ट्रिप के मिलने थे ढाई हजार रुपए

जबलपुर में गहरी है हवाला की जड़ें

  • 15 नवम्बर 2018 को करमचंद चौक कॉफी हाउस के सामने की गली में पंचू गोस्वामी की शॉप पर छापा मारकर आयकर विभाग ने 65 लाख रुपए जब्त किए।
  • 5 जनवरी 2019 को विजय नगर में रितेश कुमार के घर पर छापेमारी में 50 लाख रुपए जब्त किए गए।
  • 3 अप्रैल 2019 को शांतिनगर निवासी खूबचंद लालवानी के घर से 1 करोड़ रुपए जब्त किए गए।
  • 13 जून 2020 को GRP ने गुजरात के व्यापारी पत्थूजी और संजय कुमार को जबलपुर-बांद्रा सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन में 21 लाख 11 हजार रुपए के साथ पकड़ा।
  • 2 अक्टूबर को GRP ने पाटलिपुत्र एक्सप्रेस से 1.27 करोड़ रुपए और 6 किलो चांदी के जेवरों के साथ थानाराम चौधरी को गिरफ्तार किया था।
  • 23 अक्टूबर 2020 को गोंडवाना एक्सप्रेस से दिल्ली जा रहे दीपक अहिरवार के पास से GRP ने 4 लाख 50 हजार रुपए जब्त किए।
  • 25 अक्टूबर 2020 को महानगरी एक्सप्रेस से मुंबई जा रहे अशोक कुमार से GRP ने 1 करोड़ रुपए जब्त किए।
  • 29 नवम्बर 2020 को महानगरी एक्सप्रेस से 50 लाख रुपए लेकर मुंबई जा रही मुस्कान को RPF ने पकड़ा।
  • 9 दिसंबर 2020 को RPF ने असलम नाम के युवक को 25 लाख रुपए के साथ पकड़ा था।
  • 24 दिसंबर को GRP ने मिलौनीगंज निवासी वीरेंद्र चौबे 35 लाख 60 हजार रुपए के साथ दबोचा था।
  • 11 मार्च 2021 को RPF ने सराफा निवासी अनिल सोनी 11 लाख रुपए के साथ पकड़ा था।
  • 3 जुलाई 2021 को RPF ने भोपाल निवासी राजेश पाल को 50 लाख 94 हजार रुपए के साथ पकड़ा था।

टैक्स बचाने का खेल, हवाला के जरिए नकद लेन-देन

नोटबंदी और GST लागू होने के बाद से हवाला कारोबार में तेजी आई है। कोरोना के बाद इसमें और उछाल आया है। सूत्रों की मानें तो तीन प्रतिशत वाले इस गोरखधंधे में सात प्रतिशत तक मुनाफा हो रहा है। यही कारण है कि हवाला कारोबारी रकम पहुंचाने के लिए अलग-अलग पैंतरे अपना रहे हैं। अलग-अलग युवक-युवतियों को भोपाल, मुंबई, दिल्ली, गुजरात जैसे शहरों में हवाला की रकम लेकर भेजा जाता है।

जबलपुर हवाला कांड के तार भोपाल से जुड़े:राजधानी के दवा कारोबारी और सतना के व्यापारी के नामों का खुलासा, IT और RPF जांच से पहले कारोबारी ने मोबाइल बंद किया

खबरें और भी हैं...