• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Mahamandaleshwar Mahamandaleshwar Jagatguru Dr. Swami Shyam Devacharya Maharaj Died From Corona, Was Infected While Joining Haridwar Kumbh

कोरोना से 60 मौतें:महामंडलेश्वर जगतगुरु डॉक्टर स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज का कोरोना से निधन, हरिद्वार कुंभ में शामिल होकर लौटे थे

जबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नरसिंह मंदिर गीताधाम के प्रमुख महामंडलेश्वर जगतगुरु डॉक्टर स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज का कोरोना से मौत। - Dainik Bhaskar
नरसिंह मंदिर गीताधाम के प्रमुख महामंडलेश्वर जगतगुरु डॉक्टर स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज का कोरोना से मौत।
  • जबलपुर में 45 संक्रमित और दो संदिग्ध शवों का चौहानी तो 14 का तिलवारा में हुआ अंतिम संस्कार

जबलपुर में कोरोना का कहर जारी है। शुक्रवार को जबलपुर में नरसिंह मंदिर गीताधाम के प्रमुख महामंडलेश्वर जगतगुरु डॉक्टर स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज की कोरोना से मौत हो गई। वे कुंभ मेले में शामिल होने हरिद्वार गए थे। कुंभ में ही स्वामी श्याम देवाचार्य संक्रमित हुए थे। शनिवार को उनका अंतिम संस्कार होगा। कोरोना के चलते शहर के विभिन्न अस्पतालों और घर में जान गंवाने वाले 59 लोगों का अंतिम संस्कार चौहानी और तिलवारा घाट में हुआ।

स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज हरिद्वार में चल रहे कुंभ मेला के दौरान आयोजित शाही स्नान में शामिल होने पहुंचे थे। हरिद्वार में ही वे संक्रमित हो गए थे। वहां से लौटने के बाद शुक्रवार को उनकी मौत हो गई। महामंडलेश्वर ने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवाई थी। बावजूद वे कोविड पॉजिटिव हुए और उनकी मौत भी हो गई।

सीएम ने दी श्रद्धांजलि

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने नरसिंह मंदिर गीताधाम के संचालक जगतगुरु डॉक्टर श्याम देवाचार्य महाराज के देवलोक गमन पर दुख प्रकट किया है। सीएम ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी भावनाओं को व्यक्त किया। लिखा है कि धर्म व मानवता की सेवा के लिए आपने अपना सम्पूर्ण जीवन समर्पित कर दिया। आपके मंगलकारी विचार और पुण्य प्रयास सदैव हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे।

दो संक्रमितों ने घर में तो 57 ने अस्पतालों में तोड़ा दम
शुक्रवार को दो संक्रमितों ने घर में दम तोड़ दिया। इसमें एक रतन नगर और दूसरा शहर के ही रहने वाले थे। उनकी लाश गुरुवार रात से घर में पड़ी थी। मोक्ष संस्था के आशीष ने शव को घर से उठवा कर चौहान में अंतिम संस्कार किया। वहीं एक जज का भी निधन हो गया। चौहानी में कुल 45 संक्रमितों और दो संदिग्ध मरीजों का अंतिम संस्कार किया गया। वहीं तिलवारा में 14 संक्रमितों का अंतिम संस्कार नगर निगम की ओर से किया गया।

पैसे के बंटवारे को लेकर हंगामा
कोरोना से लोगों की जान जा रही है। वहीं चौहानी में अंतिम संस्कार करने वाले नगर निगम कर्मियों में शुक्रवार को पैसों को लेकर विवाद हो गया। दरअसल यहां पर लकड़ी, अंतिम संस्कार की सामग्री की अलग-अलग व्यवस्था है। नगर निगम के कर्मी कोरोना मरीजों से सभी का पैसा एक साथ अपना कमीशन जोड़कर परिजनों से ले लेते हैं। एक परिजन ने अधिक पैसे को लेकर सवाल कर दिए तो वहां हंगामा मच गया।

अंतिम संस्कार की सामग्री बेचने वाला पंडा रामलाल और उसका बेटा शवों को जलाने के समय लकड़ी सजाने से लेकर राख समेटने का काम करते हैं। अधिक पैसों का आरोप लगा तो पिता-पुत्र ने निगम कर्मियों की कमीशनखोरी की पोल खोल दी। इसके बाद निगम के सुपरवाइजर ने कर्मियों से लकड़ी का रजिस्टर लेकर टाल वाले को दे दिया। वहीं हिदायत दी कि सभी अपनी सामग्री का पैसा खुद देंगे।

कैजुअल्टी के सामने ही एंबुलेंस में महिला ने दम तोड़ा, हंगामा
जिला अस्पताल में गम्भीर हालत में लाए गए एक मरीज की कैजुअल्टी के सामने ही एंबुलेंस में मौत हो गई। सदर क्षेत्र अंतर्गत संजय गांधी नगर निवासी महिला को शुक्रवार तड़के गम्भीर हालत में परिजन जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर सो रहे थे।

जगाने पर नाराज हो गए। कहासुनी में ही आधा घंटा निकल गए। उसके बाद एंबुलेंस में जाकर मरीज को देखा तो तब तक सांसें थम चुकी थी। परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा किया। शव को एंबुलेंस में ओमती थाने ले गए। जहां, पुलिस अधिकारियों के समझाने के बाद शव ले गए।

खबरें और भी हैं...