जबलपुर में 7 एकड़ सीलिंग की भूमि मुक्त:पुलिस प्रशासन ने अवैध तरीके से निर्मित दो मकान, गोदाम किए जमींदोज, 28 करोड़ की है जमीन

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीलिंग की भूमि को निजी बताकर कर रहा था प्लाटिंग। प्रशासन ने निर्माण तोड़ा। - Dainik Bhaskar
सीलिंग की भूमि को निजी बताकर कर रहा था प्लाटिंग। प्रशासन ने निर्माण तोड़ा।

पुलिस-प्रशासन ने 6 अक्टूबर बुधवार को अधारताल क्षेत्र में 7 एकड़ सीलिंग की भूमि को मुक्त कराया। इसकी कीमत 28 करोड़ बताई जा रही है। वहीं इस पर दो करोड़ की लागत से अवैध तरीके से निर्मित दो मकान व गोदाम को भी जमींदोज कर दिया। कार्रवाई के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।

माफिया विरोधी अभियान के क्रम में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर पुलिस, प्रशासन और नगर निगम की संयुक्त टीम अधारताल में कार्रवाई करने पहुंची थी। यहां महाराजपुर में खसरा नंबर 127/126 की सीलिंग भूमि पर बड़ी ओमती निवासी मोहम्मद युसुफ ने 4 एकड़ भूमि पर कब्जा कर रखा है।

दो मकान तन गए थे, तो 4 की नींव भर चुकी थी।
दो मकान तन गए थे, तो 4 की नींव भर चुकी थी।

निजी भूमि बता कर प्लाटिंग कर रहा था

इसकी कीमत 16 करोड़ रुपए है। आरोपी यहां कॉलोनी बना रहा था। आरोपी ने सीलिंग की जमीन को निजी भूमि बताकर प्लॉट बेच रहा है। 6 लोगों ने यहां एक करोड़ की लागत से डबल व सिंगल स्टोरी के दो मकान बनवा लिए हैं। 4 मकानों की नीव का निर्माण किया जा चुका था। सभी को जमींदोज कर दिया गया।

सीलिंग की जमीन पर गोदाम बना लिया था।
सीलिंग की जमीन पर गोदाम बना लिया था।

सुहागी में भी तीन एकड़ सीलिंग की जमीन मुक्त

इसी प्रकार सुहागी निवासी मुकेश शर्मा ने सुहागी में खसरा नम्बर 280 की 2 एकड़ सीलिंग की जमीन और अबरार हुसैन ने खसरा नंबर 11 की 01 एकड़ भूमि पर कब्जा कर लिया था। इसकी कीमत 12 करोड़ रुपए है। यहां भी आरोपियों ने 2000 वर्ग फीट में गोदाम और नींव डाली थी। इसे भी बुलडोजर लगाकर तोड़ दिया गया।

कार्रवाई के दौरान मौजूद अधिकारी।
कार्रवाई के दौरान मौजूद अधिकारी।

एसडीएम अधारताल की अगुवाई में हुई कार्रवाई

विवाद को देखते हुए एसडीएम अधारताल नमः शिवाय अरजरिया, सीएसपी अधारताल प्रियंका किरचाम, टीआई अधारताल शैलेष मिश्रा, तहसीलदार राजेश सिंह, नायब तहसीलदार संदीप कुमार जायसवाल और नगर निगम का अतिक्रमण दस्ता मौजूद था।

निर्मित मकान को तोड़ा गया।
निर्मित मकान को तोड़ा गया।
खबरें और भी हैं...