फर्जी पत्रकारों पर 8वीं FIR:ब्लैकमेलर गैंग ने होटल को बदनाम करने की धमकी देते हुए 8 लाख रुपए हड़प लिए, चार आरोपियों में दो गिरफ्तार

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तिलवारा थाने में ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ 8वीं एफआईआर दर्ज, अमन व तुलसीदास गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
तिलवारा थाने में ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ 8वीं एफआईआर दर्ज, अमन व तुलसीदास गिरफ्तार।

ब्लैकमेलर गैंग की फेहरिस्त बढ़ती जा रही है। जबलपुर के एक नामी होटल में गैंग के एक गुर्गे ने शादी की बुकिंग कराई। 16 लाख 37 हजार का बिल बना था। 8 लाख आरोपियों ने दिए थे। शेष रकम के एवज में चेक दिए थे, जो बैंक में लगाने पर बाउंस हो गए। कैश मांगने पर आरोपी उसके होटल को बदनाम करने की धमकी देते हुए उलटे 5 लाख रुपए मांगने लगे। पीड़ित की शिकायत पर चार लोगों के खिलाफ तिलवारा पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच में लिया है।

तिलवारा पुलिस के मुताबिक अमन चौबे, संदीप तिवारी, कपिल दुबे, तुलसीदास अवस्थी ने शादी की बुकिंग तिलवारा उस पार स्थित होटल में थी। बात 16 लाख 37 हजार 541 रुपए में तय हुआ था। आरोपियों ने होटल में आठ लाख रुपए का भुगतान किया। शेष 8 लाख 37 हजार 541 के एवज में 3 लाख 37 हजार के चेक दिए। खाते में पैसे नहीं होने पर चेक बाउंस हो गया।

होटल में पहुंच कर किया हंगामा, पांच लाख रुपए मांगने लगे

विवेचक एएसआई विनोद द्विवेदी के मुताबिक होटल मैनेजर गौतम ने चेक बाउंस होने पर फोन लगाया तो आरोपी आक्रोशित हो गए। विवाह के तीसरे दिन संदीप तिवारी और कपिल दुबे आर्बिट होटल पहुंचे। होटल में विवाद करते हुए पत्रकार होने की धौंस दी। वीडियो बनाकर वायरल करते हुए होटल को बदनाम करने की धमकी देते हुए बकाया रकम देने से मना कर दिया। उलटे होटल को बदनामी से बचाने के एवज में पांच लाख रुपए मांगने लगे।

होटल आर्बिट को बदनाम करने की धमकी देते हुए मांग रहे थे 5 लाख रुपए।
होटल आर्बिट को बदनाम करने की धमकी देते हुए मांग रहे थे 5 लाख रुपए।

शराब पीकर कर्मचारियों के साथ की थी मारपीट

सात जुलाई को आयोजित विवाह समारोह के दौरान आरोपियों ने शराब पीकर होटल में हंगामा भी किया था। कर्मचारियों ने रोकने का प्रयास किया तो उनके साथ गालीगलौज और मारपीट की गई। इसकी पूरी रिकॉर्डिंग होटल में लगे सीसीटीवी में दर्ज हो गई थी। पीड़ित ने पुलिस को ये भी उपलब्ध कराए हैं। तिलवारा पुलिस ने मामले में अमन चौबे, संदीप तिवारी, कपिल दुबे, तुलसीदास अवस्थी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिए हैं। देर रात तिलवारा पुलिस ने दो आरोपियों पुरानी बस्ती करमेता माढ़ोताल निवासी अमन चौबे ( 28) और तुलसीदास अवस्थी (51) निवासी मेडिकल पंप हाउस के सामने ग्राम तेवर भेड़ाघाट को गिरफ्तार कर लिया।

ब्लैकमेलर गैंग का सरगना है संतोष जैन व जेपी सिंह।
ब्लैकमेलर गैंग का सरगना है संतोष जैन व जेपी सिंह।

अब तक आठ एफआईआर, 21 आरोपी, 10 फरार

जबलपुर पुलिस ने अब तक ब्लैकमेलर गैंग पर मदनमहल व गढ़ा में दो-दो, ग्वारीघाट, माढ़ोताल, संजीवनी नगर व तिलवारा में एक-एक एफआईआर दर्ज कर चुकी है। कुल 21 आरोपी बनाए गए हैं। 11 आरोपी संतोष जैन, पंकज गुप्ता, विवेक मिश्रा, जेपी सिंह, अंकित श्रीवास्तव, बादल पटेल, दिलीप थोरात उर्फ बबला, प्रेम सिंह लोधी, कोमल पटेल, अमन चौबे, तुलसीदास अवस्थी को गिरफ्तार किया है। वहीं 10 आरोपी अर्पित ठाकुर, शैलेंद्र गौतम, उसकी बहन मोना उर्फ भारती गौतम, मां चंद्रवती, रवि बेन, गौरव सोनी और देवेन्द्र यादव और तिलवारा में दर्ज प्रकरण के दो आरोपी संदीप तिवारी, कपिल दुबे फरार चल रहे हैं।

राशन दुकानदार से मांगे थे 1.50 लाख रुपए:ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ 7वीं एफआईआर संजीवनी नगर में दर्ज, तीन नामजद सहित अन्य बने आरोपी

खबरें और भी हैं...