• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Filled The Vermilion In The Demand Of The Student And Said That You Are My Wife, After Being Physically Abused For Three Years, Said That She Was A Pretense.

MP में ABVP नेता पर रेप का केस:मांग में सिंदूर भरकर कहा- तुम मेरी पत्नी हो, 3 साल शारीरिक शोषण किया, फिर बोला- वो तो ढोंग था

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के पूर्व महानगर मंत्री शुभांग गोटिया के खिलाफ महिला थाने में सोमवार को 23 वर्षीय छात्रा ने रेप का केस दर्ज कराया है। आरोपी पिछले 3 साल से उसका शारीरिक शोषण कर रहा था। छात्रा ने गोटिया पर आरोप लगाया है कि उसने मेरी मांग में सिंदूर भरकर बोला था- हिंदू धर्म के मुताबिक मैं उसकी पत्नी हूं। जब समाज के सामने शादी की बात आई, तो वह पलट गया और कहा कि वो तो ढोंग था।

जबलपुर की रहने वाली पीड़िता पुणे से पढ़ाई कर चुकी है। 2018 में उसकी मुलाकात राइट टाउन निवासी शुभांग गोटिया (25) से हुई थी। शुभांग तब अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का महानगर मंत्री हुआ करता था। उसने छात्रा को प्यार का झांसा दिया। फिर एक दिन उसकी मांग में सिंदूर भरते हुए बोला- हिंदू धर्म के मुताबिक आज से हम दोनों पति-पत्नी हैं।

पुणे भी जाता रहता था मिलने
छात्रा ने जबलपुर की महिला थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि जब वह पुणे में पढ़ाई कर रही थी, तो आरोपी भी वहां उससे मिलने जाता था। आरोपी पुणे, गोवा, कान्हा-किसली समेत कई जगह उसे घुमाने के बहाने ले जाकर शोषण करता रहा। जब भी छात्रा उससे शादी करने की बात करती, तो बोलता कि हम तो शादी कर ही चुके हैं, बस समाज के सामने होनी है, वो भी हो जाएगी।

पीड़ित छात्रा महिला थाने में शिकायत दर्ज कराती हुई।
पीड़ित छात्रा महिला थाने में शिकायत दर्ज कराती हुई।

जनवरी में मुकर गया आरोपी
छात्रा ने बताया कि आरोपी शुभांग से शादी करने की जिद पकड़ी, तो वह जनवरी 2021 में साफ मुकर गया। छात्रा को बताया कि उसकी शादी तय हो गई है। सौ एकड़ जमीन दहेज में मिल रही है। जब इसका विरोध किया तो निजी तस्वीरें वायरल कर बदनाम करने की धमकी दी। शुभांग के इस तरह धाेखे का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई। बड़ी मुश्किल से हिम्मत कर अपने साथ हुई आपबीती घरवालों को बताई, तो वे भी परेशान हो गए। पिता समेत अन्य परिजनों ने महीनों मुझसे बात नहीं की। पांच महीने तक परिवार इसी कश्मकश में रहा कि आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया जाए या नहीं।

बहन के समझाने पर पिता ने बेटी का दर्द समझा
पीड़ित छात्रा के पिता ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि उनकी बहन ने समझाया, तो मेरा भी गुस्सा शांत हुआ। मुझे लगा कि बेटी ने नासमझी में कदम उठा लिया, लेकिन मैं पिता हूं। उम्मीद लेकर शुभांग के पिता प्रदीप गोटिया के पास गया। बच्चों की गलती को लेकर बात की। कहा कि दोनों की शादी कर हम इस गलती को सुधार दें, लेकिन वे तो बेटी की इज्जत का ही सौदा करने लगे। बोले- 10-12 लाख रुपए लेकर मामला सेटल कर लो, नहीं तो तुम्हारी बेटी को बदनाम कर देंगे। तुम्हें जहां शिकायत करनी हो, कर लो।

बेटी को लेकर पिता पहुंचा महिला थाने
छात्रा को लेकर पिता सोमवार दोपहर महिला थाने पहुंचा। वहां छात्रा ने महिला टीआई शबाना परवेज के सामने बयान दर्ज कराए। सिंदूर भरने वाली फोटो और उनकी आपस में होने वाली बातचीत के रिकॉर्ड सुनाए। मामला अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व पदाधिकारी का था। टीआई ने अधिकारियों को प्रकरण संज्ञान में लाया। इसके बाद आरोपी के खिलाफ रेप का प्रकरण दर्ज हुआ।

गर्भपात भी करा चुका है शुभांग

छात्रा के मुताबिक आरोपी ने जुलाई 2020 में उसका धोखे से गर्भपात भी कराया था। तब आरोपी शुभांग के पिता, मां व बहन ने पीडि़ता से बात की थी। वे उसे लेकर यादव कॉलोनी एक हेल्थ सेंटर ले गए। वहां छात्रा को दवाएं दी गईं। इस दवा से उसका गर्भपात हो गया। हालत बिगड़ने पर फिर वहीं ले जाया गया। जहां उसका अर्बाशन कराया गया।

कई कारनामे सामने आ चुके हैं पिता-पुत्र के
राइट टाउन निवासी आरोपी शुभांग गोटिया (25) का पिता प्रदीप गोटिया बिल्डर है। पिता-पुत्र के खिलाफ जमीन कब्जे से लेकर सरकारी जमीन के फर्जीवाड़े के आरोप लग चुके हैं। 22 मार्च को शुभांग ने विजय नगर में एक महिला की जमीन पर कब्जे की कोशिश की थी। तब भी मामला काफी तूल पकड़ा था। शुभांग गोटिया मूलत: झालौन बेलखेड़ा का रहने वाला है। पूरा परिवार राइट टाउन में रहता है। पिता प्रदीप गोटिया 500 एकड़ जमीन फर्जीवाड़े में भी फंस चुका है। मां तारा देवी राइट टाउन में ही गोदावरी नाम से गर्ल्स हॉस्टल चलाती है।

भाजयुमो नेता की दबंगई: जेसीबी लेकर महिला की जमीन पर कब्जा करने पहुंचा, पीड़ित ने थाने में की शिकायत

पहले भी सामने आ चुके हैं मामले
ABVP से जुड़े पदाधिकारियों पर पूर्व में भी आरोप लग चुके हैं। 2 जून 2019 को रांझी निवासी योग शिक्षिका ने बीजेपी नेता उपेंद्र धाकड़ के खिलाफ रेप का आरोप लगाते हुए जबलपुर की महिला थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। तब धाकड़ ने 10 हजार का इनाम घोषित होने के बाद 13 अगस्त 2019 को सरेंडर किया था। आरोपी ने योग शिक्षिका के साथ 2013 में रानी दुर्गावती विवि में पढ़ाई के दौरान शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण किया था। बाद में वह शादी से मुकरते हुए वर्ष 2018 में दूसरी शादी कर ली। तब पीड़िता सामने आई।

खबरें और भी हैं...