पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसे ने खोली पोल:जबलपुर-कटनी हाइवे पर प्रतिबंधित थाई मांगुर से भरा ट्रक पलटा, मछली लूटने पहुंच गए ग्रामीण

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कंटेनर पलटने के बाद सड़क पर बिखरी थाई मंगुर। - Dainik Bhaskar
कंटेनर पलटने के बाद सड़क पर बिखरी थाई मंगुर।

जबलपुर-कटनी हाइवे पर बहदन के पास शनिवार सुबह 7 बजे तेज रफ्तार ट्रक एपी 31 टीजी 6598 अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे के बाद रोड पर प्रतिबंधित थाई मांगुर मछलियां फैल गईं। जैसे ही, इसकी जानकारी आसपास के ग्रामीणों को लगी, वे मौके पर मछलियां लूटने पहुंच गए। सूचना पर भेड़ाघाट और संजीवनी नगर थाने का बल लगाना पड़ा। क्रेन बुलाकर ट्रक को रोड से हटाया गया। वहीं, मछलियां को फिशरी विभाग के सुपुर्द किया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हादसा इतना भीषण था कि ट्रक के चारों पहिए हवा में हो गए। हादसे के चलते कंटेनर में भरी मछलियां सड़क पर फैल गईं। आसपास के ग्रामीण जमा हो गए। राह चलते लोग भी अपने-अपने वाहन खड़े कर यहां-वहां रुक गए। सूचना पाकर भेड़ाघाट पुलिस मौके पर पहुंची। हादसे के बाद ट्रक ड्राइवर मौके से भाग गया। हादसे में कोई घायल नहीं हुआ।

मछलियों को ग्रामीणों से बचाने में हलकान होते रहे जवान
हादसे के बाद ग्रामीण मछली लेकर भागने लगे। वहीं, कई वाहनों के नीचे कुचल गईं। मौके पर पुलिस के चार जवान जूझते रहे। पुलिस ने कई बार ग्रामीणों को खदेड़ा भी। पुलिस विभाग ने हादसे के बाद फिशरी विभाग को सूचना दी, लेकिन विभाग के लोग दो घंटे बाद मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर कुछ मछलियां ड्रमों में भर कर सुरक्षित किया।

नर्मदा में छोड़ने की तैयारी
प्रशासन ने मछलियों को नर्मदा में छोड़ने की बात कह रही थी। हालांकि समाजसेवी विमल रैकवार ने इसका विरोध किया। तर्क दिया कि थाई प्रजाति की मांगुर मछली प्रतिबंधित है। यह दूसरे जलीय जीवों के लिए घातक हैं। मौके पर संजीवनी नगर टीआई भूमेश्वरी चौहान भी पहुंची थीं। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि थाई मांगुर का कारोबार प्रतिबंधित है। ट्रक नंबर के आधार पर आरोपी के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...