• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Army And Police Hospitals Will Be Treated For Kovid Infected, Staff Deployed With Necessary Resources

सेना और पुलिस अस्पताल में होगा इलाज:कोविड संक्रमितों के लिए सेना और पुलिस के अस्पतालों में होगा इलाज, जरूरी संसाधन के साथ स्टाफ तैनात

जबलपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेना बना रही 100 बेड का कोविड केयर सेंटर। - Dainik Bhaskar
सेना बना रही 100 बेड का कोविड केयर सेंटर।

कोरोना महामारी के बीच में सेना और पुलिस ने एक बड़ी राहत दी है। सेना जहां 100 बेड का कोविड अस्पताल बनाने की कवायद में जुटा है। वहीं पुलिस ने सर्वसुविधायुक्त 16 बेड का अस्पताल शुरू कर दिया। इसके अलावा 400 बेड का कोविड केयर सेंटर माढ़ोताल क्षेत्र में बनाया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार पुलिस लाइन में सभी टीआई और अन्य लोगों के सहयोग से 16 बिस्तर के स्पेशल वार्ड तैयार किए गए हैं। ऑक्सीजन युक्त इस अस्पताल में 24 घंटे डाॅक्टर व नर्सिंग स्टाफ की टीम रहेगी। सुबह व शाम को स्पेशलिस्ट चिकित्सकों का भ्रमण भी होगा। आईजी भगवत सिंह चौहान और एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने कोविड केयर सेंटर पहुंच कर वहां की सुविधाओं को देखा। अधिकारियों ने बताया कि 24 घंटे ड्यूटी करके बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी भी संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में एक डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर की जरूरत महसूस हो रही थी।

आईजी भगवत सिंह चौहान व एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा स्टाफ के साथ।
आईजी भगवत सिंह चौहान व एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा स्टाफ के साथ।

अस्पताल में मेडिसन शॉप भी खोला गया है। इसमें बाजार मूल्य से कम दरों पर सभी प्रकार की दवाईयां उपलब्ध कराई जाएंगी। इसमें पुलिस परिवार का भी इलाज हो सकेगा। सुबह शाम चिकित्सक डॉक्टर अखिलेश कुमार, डॉक्टर अभिजीत बैनर्जी, डाॅक्टर मयंक चंसोरिया, डॉक्टर अखिलेश तिवारी, डॉक्टर राघवेंद्र तिवारी भ्रमण कर परामर्श देंगे।
1000 फेस शील्ड दिया
संत निरंकारी सतसंग समिति ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए पुलिस कन्ट्रोलरूम को 1000 फेस शील्ड प्रदान किया। समिति ने एएसपी शिवेश सिंह बघेल को उक्त शील्ड प्रदान करते हुए बताया कि 24 घंटे पुलिस कर्मी संक्रमण के खतरे के बीच रहते हैं। फेस शील्ड कोरोना से बचाएगी।

गोराबाजार में सेना बना रही 100 बेड का कोविड केयर सेंटर।
गोराबाजार में सेना बना रही 100 बेड का कोविड केयर सेंटर।

सेना की मदद से 100 बेड का कोविड केयर सेंटर होगा स्थापित
सेना ने भी कोरोना महामारी की आपदा से नागरिकों को बचाने के लिये हाथ आगे बढ़ाया है। छावनी परिषद द्वारा सेना और जिला अस्पताल की मदद से कोविड की रोकथाम के लिए गोराबाजार के आगे 4-TTR में 100 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर तैयार किया जा रहा है। कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने सेना अधिकारियों के साथ इसका जायजा लिया। इसमें प्रारंभिक लक्षण वाले और एसिम्टोमेटिक या माइल्ड सिम्टोमेटिक संक्रमितों को रखा जाएगा।
फैक्ट्री अस्पतालों में भी कोरोना का इलाज शुरू करने का निर्देश
शहर के अंदर स्थित तीनों वीकल फैक्ट्री, ओएफके, जीआईएफ व जीसीएफ फैक्ट्री अस्पतालों में भी कोरोना के इलाज की व्यवस्था करने का निर्देश कलेक्टर ने दिया है। आयुक्त नगर निगम संदीप जीआर की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में रांझी एसडीएम दिव्या अवस्थी, तीनों फैक्ट्रियों के वरिष्ठ चिकित्साधिकारी और अन्य अधिाकरी शामिल हुए।

हर अस्पताल को उन्नत कर कोविड संक्रमित का इलाज कराने के लिए जरूरी संसाधन उपलबध कराने के निर्देश दिए। इसमें एयर सेपरेशन यूनिट, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन पाइप लगाने के निर्देश दिए। वहीं जरूरी डॉक्टर व स्टाॅफ को तीन से छह महीने के ठेके पर लेने की प्रकिया पूरी करने का निर्देश दिया।
जस्टिस दीपक वर्मा ने रेडक्रास सोसायटी को 11 लाख रुपए का दिया चेक
जस्टिस दीपक वर्मा ने कोरोना से बचाव के लिए रेडक्रास सोसायटी को मरीजों के इलाज और अन्य जरूरी चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए 11 लाख रुपए का चेक दिया। वहीं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने मोक्ष संस्था को 51 हजार रुपए और पीपीई किट प्रदान किया।
डी-मार्ट में 400 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बना रहे
माढोताल क्षेत्र स्थित डी-मार्ट में एसिम्टेमेटिक लोगों के लिए 400 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर तैयार किया जा रहा है। भविष्य में आवश्यकता को देखते हुये इसका और विस्तार भी किया जा सकता है। यहां कुछ स्वयंसेवी संगठनों ने स्वेच्छा से सहयोग देने की बात कही है।

प्राइवेट कॉलेज के नर्सिंग स्टॉप के साथ-साथ प्राइवेट हॉस्पिटल के चिकित्सक भी सहयोग देंगे। वहीं शासकीय लोगों का भी यहां के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। इस सेंटर में एसिम्टेमेटिक लोगों को रखा जाएगा। जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है लेकिन उनकी केयर की जरूरत है।