जबलपुर में लोडिंग ड्राइवर की हत्या:पार्किंग विवाद में दो भाइयों ने मारा चाकू, एक घंटे तक तड़पता रहा, किसी ने मदद नहीं की

जबलपुर8 महीने पहले
गोहलपुर क्षेत्र के रद्दी चौकी में ऑटो ड्राइवर की चाकू गोदकर हत्या।

जबलपुर में लोडिंग ड्राइवर की पार्किंग विवाद में दो भाइयों ने चाकू मार कर हत्या कर दी। युवक घटनास्थल पर एक घंटे तक तड़पता रहा, लेकिन कोई मदद के लिए आगे नहीं आया। जब तक उसे अस्पताल पहुंचाया जाता, मौत हो चुकी थी। गोहलपुर पुलिस ने केस दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

गोहलपुर टीआई अरविंद चौबे के मुताबिक सुब्बाशाह मदार छल्ला निवासी शेरखान उर्फ कुन्नू (30) लोडिंग वाहन एमपी 20 एलए 7805 चलाता था। वह रद्दी चौकी में खंडेलवाल फर्नीचर के सामने लोडिंग वाहन लगाता था। यहां से बिकने वाले फर्नीचर को पहुंचाने की बुकिंग करता था। शाम करीब 5.15 बजे वह लाेडिंग वाहन लेकर दुकान के सामने पहुंचा था। लोडिंग पार्क कर रहा था, तभी लकड़गंज निवासी सोनू खान व मोनू खान अपना लोडिंग लेकर पहुंचे।

रद्दी चौकी खंडेलवाल फर्नीचर के सामने हुई हत्या के बाद जमा भीड़।
रद्दी चौकी खंडेलवाल फर्नीचर के सामने हुई हत्या के बाद जमा भीड़।

पार्किंग को लेकर विवाद, मोनू ने मारा चाकू
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, पार्किंग को लेकर शेरखान और मोनू-सोनू का विवाद हो गया। दरअसल, वे अपना वाहन खड़ा करना चाहते थे। कहासुनी के दौरान दोनों भाइयों से शेरखान की हाथापाई होने लगी। इसी दौरान, मोनू खान ने चाकू से शेरखान के छाती पर वार कर दिया। एक ही वार में वह छाती पकड़ कर वहीं गिर पड़ा।

प्रत्यक्षदर्शियों के बयान दर्ज करते टीआई अरविंद चौबे।
प्रत्यक्षदर्शियों के बयान दर्ज करते टीआई अरविंद चौबे।

एक घंटे तक तड़पता रहा, कोई मदद को आगे नहीं आया
क्षेत्रीय पूर्व पार्षद गुलाह हुसैन के मुताबिक, शेरखान लहूलुहान हालत में एक घंटे तक तड़पता रहा, पर कोई मदद के लिए आगे नहीं आया। दुकान में 15 से 20 लोग काम करते हैं। बावजूद किसी ने उसे अस्पताल नहीं पहुंचाया। वह मदद के लिए गिड़गिड़ाता रहा। यहां तक कि किसी ने पुलिस को भी खबर कर दी होती, तब भी जान बच सकती थी। अधिक रक्तस्राव के चलते मौत हो गई। शाम करीब 6.15 बजे के उसे पास के निजी अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी।

मृतक शेरखान की लोडिंग वाहन की पार्किंग को लेकर आरोपियों से हुआ था विवाद।
मृतक शेरखान की लोडिंग वाहन की पार्किंग को लेकर आरोपियों से हुआ था विवाद।

एक आरोपी गिरफ्तार, दूसरे की तलाश
खबर मिलते ही गोहलपुर टीआई, सीएसपी गोहलपुर अखिलेश गौर, एएसपी रोहित काशवानी भी मौके पर पहुंचे। तब तक शेरखान के पिता मुन्ना खान सहित अन्य लोग भी पहुंच गए। गोहलपुर पुलिस ने तुरंत घेराबंदी कर सोनू खान को गिरफ्तार कर लिया है। मोनू खान की तलाश जारी है। पुलिस ने प्रकरण में हत्या का मामला दर्ज कर शव को पीएम के लिए भिजवा दिया है।

शेरखान (30) की जीवित अवस्था की फोटो।
शेरखान (30) की जीवित अवस्था की फोटो।

शादी-शुदा था शेरखान, दो बच्चों का था पिता
पिता मुन्ना खान ने बताया कि शेरखान उसकी पहली पत्नी की इकलौता बेटा था। दूसरी पत्नी से उनके 8 बच्चे हैं। मुन्ना खान भी पेशे से ड्राइवर हैं। शेरखान की शादी हो चुकी थी। उसके दो बच्चे आयशा (05) और बेटा अरमान (02) के हैं। उसकी मौत की खबर सुनते ही पत्नी अफसाना का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है।

पिता मुन्ना खान के मुताबिक बेटे को कोई अस्पताल पहुंचा दिया होता तो बच सकती थी जान।
पिता मुन्ना खान के मुताबिक बेटे को कोई अस्पताल पहुंचा दिया होता तो बच सकती थी जान।
खबरें और भी हैं...