• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Ban On Sale Of 15 Acres Of Land Of Amkhera And Baitla Village Of Hamid Hussain, Father Of Rapist Youth

प्रशासन की बड़ी कार्रवाई:रेपिस्ट युवक के पिता की अमखेरा व बैतला गांव की 15 एकड़ भूमि बिक्री पर लगाई रोक

जबलपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टर के आदेश पर लगाई गई रोक। - Dainik Bhaskar
कलेक्टर के आदेश पर लगाई गई रोक।

नगर निगम से बिना अनुमति और नगर एवं ग्राम निवेश से बिना मंजूरी के प्लाॅटिंग कर जमीन बेचने पर रोक लगा दी है। दक्षिण मिलौनीगंज के रहने वाले हामिद हुसैन ने अमखेरा स्थित 63 हजार 400 वर्गफीट की जमीन और ग्राम बैतला में स्थित 15 एकड़ जमीन को राजस्व रिकॉर्ड में अहस्तांतरणीय घोषित कर दिया है।

एसडीएम अधारताल नम: शिवाय अरजरिया के मुताबिक भू-माफिया हामिद हुसैन ने नियमों काे दरकिनार करते हुए बिना सक्षम विभाग की अनुमति लिए अवैध प्लाॅटिंग कर भू-खण्ड बेच रहा है। आरोपी ने अमखेरा में दर्ज 63 हजार 400 वर्गफीट जमीन को दो भागों में प्लाटिंग कर बेच रहा है।

वहीं ग्राम बैतला में भी उसके नाम पर दर्ज लगभग 15 एकड़ भूमि को राजस्व रिकॉर्ड में अहस्तांतरणीय दर्ज करने का आदेश दिया गया है। यह कार्रवाई अनुविभागीय अधिकारी अधारताल ने अतिरिक्त तहसीलदार अधारताल और बैतला के पटवारी से प्राप्त आवेदनों पर की है।

अवैध कॉलोनी बसा रहा था हामिद

एसडीएम अरजरिया के मुताबिक हामिद हुसैन अमखेरा में 63 हजार 400 वर्गफीट जमीन में नगर निगम और नगर एवं ग्राम निवेश की अनुमति के बगैर प्लाॅटिंग कर अवैध कॉलोनी बसा रहा था। यहां सड़क, नाली के लिए जरूरी जमीन सुरक्षित रखा जाना जरूरी हो गया है। इस प्रतिवेदन के आधार पर अनुविभागीय अधिकारी ने कॉलोनी निर्माण से संबंधित वैध दस्तावेज प्रस्तुत किए जाने तक भूमि की बिक्री पर रोक लगा दी है।

15 एकड़ जमीन बैतला में

भूमि स्वामी को काॅलोनाइजर लाइसेंस, सक्षम प्राधिकारियों द्वारा जारी विकास अनुज्ञा, नगर एवं ग्राम निवेश द्वारा अनुमोदित अभिविन्यास और रेरा में पंजीयन की प्रति प्रस्तुत करने का नोटिस जारी किया गया है। इसी तरह अधारताल के ग्राम बैतला में हामिद हुसैन 15 एकड़ भूमि को भी छोटे-छोटे भूखंडों में काट कर बेचा जा रहा है।

अधारताल थाने में दर्ज है एफआईआर

मामले में उसके विरूद्ध नगर निगम जबलपुर के कॉलोनी सेल की ओर से अधारताल थाने में 3 फरवरी 2018 को एफआईआर दर्ज कराई गई है। अनुविभागीय अधिकारी ने एफआईआर दर्ज होने की वजह से नगर निगम जबलपुर से अभिमत प्राप्त होने तक इस भूमि को राजस्व अभिलेखों के अहस्तांतणीय दर्ज करने के आदेश नायब तहसीलदार गोरखपुर को दिए हैं।