• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • BJP MP Congress Is Running Chipko Dumna Movement In Protest Against The Proposed Green Sports City, The Congressmen Led By The State President Arrested

डुमना बचाने कांग्रेस का जाेरदार आंदोलन:BJP सांसद प्रस्तावित ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी के विरोध में चिपको डुमना आंदोलन चला रही है कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष की अगुवाई में कांग्रेसियों ने दी गिरफ्तारी

जबलपुरएक वर्ष पहले
प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछार करती पुलिस।

डुमना नेचर पार्क में बीजेपी सांसद राकेश द्वारा 25 एकड़ में प्रस्तावित ग्रीन स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स के निर्माण के विरोध में चिपको डुमना आंदोलन चला रही कांग्रेस ने 19 जून शनिवार को जोरदार प्रदर्शन किया। युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया की अगुवाई में युवा कांग्रेस ने जबलपुर में कृत्रिम पेड़ों की रैली निकाली और गिरफ्तारी दी। पुलिस ने कांग्रेसियों को रोकने के लिए चारों तरफ बेरीकेटिंग की और वाटर कैनन से बौछार कर तितर-बितर किया।

चिपको डुमना आंदोलन की अगुवाई कर रहे युवा कांग्रेस के समर्थ अवस्थी के मुताबिक कोविड कॉल में लोगों ने ऑक्सीजन की उपयोगिता को अच्छी तरह से समझ लिया है। मदनमहल पहाड़ी और डुमना नेचर पार्क जबलपुर शहर के लिए ऑक्सीजोन का काम करते हैं। ऐसे में बीजेपी सांसद राकेश सिंह डुमना नेचर पार्क की हरियाली की कीमत पर वहां कांक्रीट के जंगल बनाना चाहते हैं। जबकि शहर के चारों और बहुत सी सरकारी जमीन है, जहां इस प्रोजेक्ट को शिफ्ट किया जा सकता है। बरेला के नीमखेड़ा में पहले से एक स्टेडियम है।

नुक्कड़ नाटक के साथ पेड़ निकले अपनी व्यथा सुनाने
कांग्रेस अनूठे अंदाज में चिपको आंदोलन को आगे बढ़ा रही है। 5 जून को डुमना में पेड़ों से लिपट कर बचाने का संदेश दिया तो शहर में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरुक कर समर्थन मांगा। शनिवार को बड़ी संख्या में कृत्रिम पेड़ लेकर बीजेपी सांसद राकेश सिंह के कार्यालय ज्ञापन देने निकले थे। इस दौरान कुल्हाड़ी से पेड़ काटने पर खून को प्रदर्शित करते हुए लाल कलर का उपयोग किया। वहीं कोविड में आॅक्सीजन की उपयोगिकता को दर्शान के लिए स्ट्रेचर पर एक कार्यकर्ता कृत्रिम ऑक्सीजन ले रहा था। नुक्कड़ नाटक के कलाकार पेड़ो को बचाने का संदेश दे रहे थे।

तीन बजे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
दोपहर पौने तीन बजे कार्यकर्ता मदनमहल चौराहे पर पहुंचे। वहां पुलिस ने बेरीकेटिंग कर आगे बढ़ने से रोक दिया। पूर्व विधायक नीलेश अवस्थी भी कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ा रहे थे। पुलिस ने वाटर कैनन से बौछार कर उत्तेजित कार्यकर्ताओं को तितर-बितर किया गया। एसडीएम नम: शिवाय अरजरिया के निर्देश पर पुलिस सभी को गिरफ्तार कर दद्दा परिसर ले गई। वहां सभी को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया।

एएसपी की अगुवाई में 200 का बल रहा मुस्तैद
प्रदर्शन को देखते हुए एएसपी सिटी रोहित काशवानी की अगुवाई में सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा, सीएसपी अधारताल अशोक तिवारी, एसडीओपी पाटन देवी सिंह सहित 12 टीआई और 200 एसआई से लेकर आरक्षक व महिला बल मदनमहल चौराहे पर पहले से मुस्तैद थे। चारों तरफ बैरीकेटिंग कर सांसद के कार्यालय तक जाने वाले रास्तों को बंद कर दिया गया था। कार्यालय से लेकर पहुंच मार्ग पर जगह-जगह पुलिस के जवान तैनात थे।

विक्रांत भूरिया ने एमपी सरकार पर निशाना साधा।
विक्रांत भूरिया ने एमपी सरकार पर निशाना साधा।

सीएम बोलते हैं पेड़ा लगाओ, उनके सांसद यहां जंगल उजाड़ रहे-विक्रांत

युवक कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने कहा कि जबलपुर के नेचर पार्क डुमना को बचाने की ये लड़ाई है। स्टेडियम के नाम पर पेड़ों को उजाड़ा जा रहा है। एक तरफ सीएम बोलते हैं कि पेड़ लगाओ और दूसरी ओर पैसों के लालच में जंगल को उजाड़ा जा रहा है। पूरे प्रदेश से पेड़ बुलाए गए हैं, ये पेड़ ही खुद को बचाने की अपील करने कांग्रेस सांसद के कार्यालय तक जाने वाले थे। हालांकि पुलिस प्रशासन ने पहले ही हमें रोक लिया। पर हमारा विरोध जारी रहेगा।

खवासा रोड जाकर देख लें कैसे जंगल और जानवरों की चिंता की गई है-विनय
प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस विधायक विनय सक्सेना ने कहा कि खेल स्टेडियम और खेल सुविधाएं बढ़े, इसका विरोध नहीं है, लेकिन जंगल और जंगली जानवरों की कीमत पर यह नहीं होना चाहिए। खवासा बार्डर उदाहरण है कि कैसे वहां जंगल और जंगली जानवरों की चिंता की गई है। विशेषज्ञों से सलाह लेकर काम करें। मनमाने तरीके से कोई काम थोपना विकास नहीं है।

खबरें और भी हैं...