पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Amidst The Strictness Of The Police In The Total Lockdown, The Miscreants Played A Bloody Game With Sword, Rod And Knife, One Died On The Spot, Seven Injured

जबलपुर में खूनी संघर्ष:टोटल लॉकडाउन में पुलिस की सख्ती के बीच बदमाशों ने तलवार, रॉड और चाकू से खेला खूनी खेल; 1 की मौत, 7 घायल

जबलपुर13 दिन पहले
खूनी संघर्ष में हत्या के बाद मौके पर पहुंची पुलिस।

जबलपुर में लॉकडाउन की सख्ती के बीच बदमाशों के दो गुटों में खूनी संघर्ष हाे गया। बदमाशों में दो थाना क्षेत्रों में घंटों विवाद होता रहा। तिलवारा क्षेत्र से शुरू हुआ मारपीट और बलवा का प्रकरण देर रात गढ़ा में खूनी खेल में तब्दील हो गया। दोनों पक्ष के बदमाशों ने एक-दूसरे पर तलवार, रॉड, चाकू व लाठी-डंडे से वार किया। घटना में 18 वर्षीय युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वहीं दोनों पक्षों के 7 लोग घायल हुए हैं।

गढ़ा क्षेत्र के गौतम मढ़िया के पास रहने वाले चक्रवर्ती और सड़क के दूसरी ओर रहने वाले सौरभ ठाकुर के बीच लॉकडाउन से रंजिश चल रही है। दरअसल सौरभ ठाकुर साउंड बॉक्स तेज आवाज में बजाता था। इसी को लेकर उनके बीच कई बार कहासुनी और विवाद हो चुका है। रविवार को रात लगभग 8.45 गौतम मढ़िया निवासी सौरभ ठाकुर (22) अपने दोस्त आकाश पटेल व राहुल ठाकुर के साथ एक बाइक से तिलवारा नर्मदा दर्शन करने के लिए निकला था।

विवेक झारिया (18) की जीवित अवस्था की फोटो।
विवेक झारिया (18) की जीवित अवस्था की फोटो।

शनि मंदिर के पास चक्रवर्ती भाइयों ने कर दिया हमला
सौरभ ठाकुर के कृत्यों से परेशान चक्रवर्ती परिवार के नितिन चक्रवर्ती, करन चक्रवर्ती, सचिन चक्रवर्ती और अन्य तीन-चार लड़कों ने शनि मंदिर के पास सौरभ ठाकुर और उसके दोस्तों को रोक लिया। आरोपी लाठी, डंडे, लोहे की रॉड से लैस थे। नितिन चक्रवर्ती के इशारे पर सभी ने मिलकर सौरभ ठाकुर और उसके दोस्तों पर हमला कर दिया। तीनों ने खेतों में दौड़ लगाकर जान बचाई और जाकर तिलवाराघाट के भाऊ आश्रम में छिप गए। आरोपियों ने सौरभ ठाकुर की बाइक में तोड़फोड़ कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया।

खूनी संघर्ष के दौरान वाहनों में भी तोड़फोड़ हुआ।
खूनी संघर्ष के दौरान वाहनों में भी तोड़फोड़ हुआ।

फोन कर परिवार और दोस्तों को बुलाया
चक्रवर्ती भाइयों के हमले की सूचना सौरभ ठाकुर ने अपने परिवार और दोस्तों को दी। पीली बिल्डिंग शारदा चौक निवासी विवेक झारिया (18), वैभव पटेल, रंजीत सिंह, नितिन चक्रवर्ती, रोहित झारिया, यश केवट सहित अन्य के साथ तिलवाराघाट पहुंचे। वहां से सौरभ, आकाश व राहुल को सुरक्षित लेकर तिलवारा थाने पहुंचे और थाने में शिकायत दी।

दो पहिया वाहन भी क्षतिग्रस्त हालत में पुलिस को मिले।
दो पहिया वाहन भी क्षतिग्रस्त हालत में पुलिस को मिले।

थाने से सभी गौतम की मढ़िया पहुंचे, फिर हुआ खूनी खेल
बताते हैं कि तिलवारा थाने से सौरभ ठाकुर सहित दोस्त विवेक झारिया और अन्य सीधे गौतम मढ़िया चक्रवर्ती परिवार को सबक सिखाने पहुंचे। सभी लाठी, तलवार, डंडे, बेसबॉल व चाकू से लैस होकर रात लगभग 10.40 बजे गौतम जी की मढ़िया परम मैरेज गार्डन नउआ नाला के पास पहुंचे। यहां चक्रवर्ती परिवार भी तैयार बैठा था। दोनों पक्षाें में खूनी झड़प हो गया। एक-दूसरे पर तलवार, डंडे, चाकू, बेसबॉल से हमला कर दिया।

विवेक झारिया (18) ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया।
विवेक झारिया (18) ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया।

आधे घंटे तक रोड पर होता रहा विवाद, गढ़ा पुलिस को भनक तक नहीं हुई
लॉकडाउन के चलते पुलिस रोड पर थी। चौराहे-तिराहे पर उसकी मूवमेंट थी। बावजूद गौतम मढ़िया में सरेराह खूनी झड़प आधे घंटे तक चला। चक्रवर्ती परिवार के सचिन चक्रवर्ती, नितिन चक्रवर्ती, गोपाल चक्रवर्ती, करण चक्रवर्ती, रंजीत चक्रवर्ती, विक्की उर्फ अरुण चक्रवर्ती, तरुण चक्रवर्ती एवं अम्मू तथा अन्य पांच-सात लोगों ने मिलकर विवेक झारिया (18) को सिर, चेहरे, गर्दन पर लाठी, रॉड व चाकू से कई वार कर मौत के घाट उतार दिया। वहीं वैभव पटेल, आकाश पटेल, रंजीत सिंह, नितिन चक्रवर्ती, रोहित झारिया, यश केवट आदि को भी खून से लथपथ कर दिए। पूरी सड़क पर खून बिखरा था।

विवाद के बाद आरोपी इस तरह रोड पर तलवार आदि फेंक कर भागे थे।
विवाद के बाद आरोपी इस तरह रोड पर तलवार आदि फेंक कर भागे थे।

पूरी वारदात दूध डेयरी की सीसीटीवी में कैद
यह पूरी वारदात पास के दूध डेयरी की सीसीटीवी में कैद हो गई। विवाद की सूचना पाकर गढ़ा पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को मेडिकल कॉलेज पहुंचाया। घटनास्थल और रोड पर बिखरे तलवार आदि जब्त किए। मौके पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एएसपी सिटी साउथ गोपाल खांडेल, डीएसपी तुषार सिंह, सीएसपी गोरखपुर आलोक शर्मा और एफएसएल टीम भी पहुंच गई। शव को पीएम के लिए भिजवाया।

इस प्रकरण में गढ़ा पुलिस ने विवेक झारिया के भाई रोहित झारिया की शिकायत पर मारपीट, बलवा, हत्या के प्रयास, हत्या व आर्म्स एक्ट का प्रकरण दर्ज किया। देर रात आरोपियों की धरपकड़ में पुलिस की कई टीमें दबिश देने में जुटी रहीं। घटनास्थल पर क्षतिग्रस्त कार, तीन स्कूटी और एक बाइक भी गढ़ा पुलिस ने जब्त किए। तिलवारा पुलिस ने हत्या के बाद रात 11 बजे सौरभ ठाकुर की पहले दी गई शिकायत पर रास्ता रोकने, मारपीट व बलवा का प्रकरण दर्ज किया। अगर पुलिस पहले ही कार्रवाई करती तो यह घटना नहीं होती।

खबरें और भी हैं...