पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • CBI Raids Together In FCI Bribery Case, Many Important Documents Seized, Search Of Transporters In Jabalpur Narsinghpur

MP और महाराष्ट्र में 13 जगह CBI रेड:भोपाल में FCI अफसरों के रिश्वतकांड में एक साथ की कार्रवाई, कई दस्तावेज जब्त; जबलपुर-नरसिंहपुर में ट्रांसपोर्टरों के यहां सर्चिंग

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीबीआई की टीम ने क्लर्क के यहां छापा मारा था। (फाइल फोटो)। - Dainik Bhaskar
सीबीआई की टीम ने क्लर्क के यहां छापा मारा था। (फाइल फोटो)।

भोपाल में एफसीआई के बाबू और अफसरों द्वारा घूसखोरी के मामले में CBI ने मंगलवार को मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के 13 जगह छापा मारा। मध्यप्रदेश में जबलपुर व नरसिंहपुर समेत भोपाल, विदिशा, खंडवा, झाबुआ में एक साथ कार्रवाई की। जबलपुर व नरसिंहपुर में चार ट्रांसपोर्टरों के यहां छापे मारे गए। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक हर्ष इनायका के खाते में इन ट्रांसपोर्टरों द्वारा पैसों का भुगतान किया गया है।

एफसीआई (FCI) रिश्वत मामले में सीबीआई भोपाल से एक इंस्पेक्टर जबलपुर पहुंचे थे। स्थानीय सीबीआई की टीम के साथ बल्देवबाग स्थित बालाजी, नर्मदा, तिरुपति और नरसिंहपुर स्थित नरेंद्र राजपूत ट्रेवल्स नाम के ट्रांसपोर्टरों के यहां टीम पहुंची थी। यहां से टीम ने उनके बैंक डिटेल्स और एफसीआई के डिविजनल मैनेजर के खाते में रकम जमा करने के संबंध में पूछताछ की है। जबलपुर सीबीआई एसपी पीके पांडे ने बताया, भोपाल से आए इंस्पेक्टर ने सर्चिंग में मदद के लिए टीम मांगी थी। कार्रवाई भोपाल सीबीआई की है। जांच की जद में आने वाले सभी लोग ठेके पर काम करने वाले कॉन्ट्रेक्टर और कुछ परिवहन से जुड़े लोग हैं।

सीबीआई की इन जिलों में भी रेड
सीबीआई ने इसके अलावा भोपाल, विदिशा, खंडवा, झाबुआ, और महाराष्ट्र के नांदेड व जलगांव में भी छापामार कार्रवाई की है। पिछले दिनों भारतीय खाद्य निगम के चार अधिकारी और कर्मचारियों पर कार्रवाई के दौरान सीबाआई के हाथ एक डायरी भी लगी थी। इसके अलावा CBI को FCI में हुए कुछ ठेकों में लेनदेन के बैंक डिटेल्स मिले थे। इसी के बाद सीबीआई ने इन 13 जिलों में इन ठेकेदारों और परिवहन से जुड़े ट्रांसपोर्टरों के यहां सर्चिंग की कार्रवाई की है।

भोपाल में FCI के बाबू के यहां अकूत संपत्ति मामला:खंडवा के ट्रांसपोर्टर से जुड़े तार; सीबीआई टीम ने भाटी ट्रांसपोर्ट के यहां दी दबिश

10 जून तक सीबीआई ने आरोपी को रिमांड पर लिया
सीबीआई ने असिस्टेंट ग्रेड वन किशोर मीणा को 10 जून तक की रिमांड पर लिया है। सीबीआई ने पिछले दिनों गुरूग्राम स्थित सुरक्षा एजेंसी कैप्टन कपूर एंड संस की शिकायत पर एफसीआई के डिविजनल मैनेजर हर्ष इनायका, अकांउट मैनेजर अरूण श्रीवास्तव, सिक्युरिटी मैनेजर मोहन पराते और क्लर्क किशोर मीणा को गिरफ्तार किया था।

अधिकारियों द्वारा सुरक्षा एजेंसी के बिल पास कराने के एवज में हर माह 10 फीसदी कमीशन की मांग की थी, इसके बाद ये लोग एक लाख रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़े गए थे। चारों के बैंक डिटेल्स की छानबीन में 2 दिसंबर 2012 से 29 मई 2021 तक कुल 2 करोड़ 93 लाख तीन हजार 396 रुपए की लेन-देन की जानकारी सामने आई है।

FCI में अनलिमिटेड घूसखोरी:CBI के छापे में क्लर्क के लॉकर में 3 करोड़ रु., सोना, चांदी और नोट गिनने की मशीन मिली; सारे अफसर क्लर्क के घर में छुपाते थे काली कमाई

खबरें और भी हैं...