• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Party Thinkers Have Been Prepared In Wardha, By Giving Training, A Team Of 20 20 People Will Be Formed In Every Sector.

कांग्रेस महंगाई को मुद्दा बनाने की तैयारी में:वर्धा में तैयार किए गए हैं पार्टी के थिंकर, प्रशिक्षण देकर हर सेक्टर में 20-20 लोगों की बनाएंगे टीम

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा हम महंगाई को लेकर 29 नवंबर तक करेंगे जनजागरण। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा हम महंगाई को लेकर 29 नवंबर तक करेंगे जनजागरण।

आरएसएस की तर्ज पर कांग्रेस ने वर्धा में थिंकर तैयार किए हैं। ये पार्टी के वैचारिक और समर्पित लोग हैं। तथ्यों से यह लोगों के बीच जाकर सच्चाई से अवगत कराएंगे। इसके लिए प्रशिक्षण की एक वृहद योजना बनाई गई है। इसका संगठन सेक्टर तक होगा। हर सेक्टर में 20-20 लोगों की टीम को प्रशिक्षित किया जाएगा। दरअसल कांग्रेस 15 से 29 नंवबर के बीच जनजागरण के माध्यम से महंगाई को प्रदेश में बड़ा मुद्दा बनाने में जुटी है। लोगों का समर्थन हासिल करने के लिए तकनीक की भी मदद ली जा रही है।

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के मुताबिक आज महंगाई से हर व्यक्ति परेशान है। प्रदेश में महंगाई को लेकर बड़ा आंदोलन खड़ा करने के लिए कांग्रेस 29 नवंबर तक जनजागरण अभियान चलाएगी। हम जनता के पास जाएंगे, बताएंगे कि कैसे महंगाई ने हमारे परिवार व घर का बजट बिगाड़ दिया है। उनका समर्थ लेने की कोशिश करेंगे।

वर्धा में पांच लोगों की हुई है ट्रेनिंग

महंगाई सहित अन्य विषयों पर लोगों तक अपनी बात अधिक सटीकता और प्रभावी ढंग से पहुंचाने के लिए प्रदेश के पांच लोगों की ट्रेनिंग वर्धा में हुई है। वे हर संसदीय क्षेत्र में 10-10 लोगों को ट्रेंड करेंगे। ये 10 लोग विधानसभा में गठित सेक्टर मंडल में 20-20 लोगों को प्रशिक्षित करेंगे। इनके साथ मिलकर कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता और पदाधिकारी लोगों के बीच जाएंगे।

टोल-फ्री नंबर से लोगों का समर्थन जुटाएंगे

महंगाई को लेकर चलाए जा रहे जनसंपर्क अभियान के लिए एक टोल फ्री नंबर 1800212000011 जारी किया गया है। इस नंबर पर मिस्ड कॉल कर महंगाई को लेकर समर्थन किया जा सकता है। कॉल करने पर एक मैसेज आएंगा। इसमें नाम-पता लिखकर देना होगा। इसके बाद महंगाई को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन में समर्थन देने या सक्रिय भागीदारी का विकल्प चुनना होगा। पार्टी की ओर से पम्पलेट भी वितरित किया जाएगा।

पेट्रोल-डीजल की कमाई का हिसाब दें मोदी जी

महंगाई लिए दिग्विजय सिंह ने सीधे तौर पर केंद्र की मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। आंकड़ों से समझाया कि 2014 में पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 3 रुपए तो पेट्रोल पर 9 रुपए था। वर्तमान में ये डीजल पर 32 और पेट्रोल पर 35 रुपए कर दिया गया है। मतलब 2014 की तुलना में पेट्रोल पर 26 तो डीजल पर 29 रुपए अधिक वसूला गया। हैं।

एक साल में सरकार के खजाने में पहुंचा साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए

इससे एक साल में केंद्र सरकार ने आम जनता की जेब से साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए वसूल लिए। इसमें ऑयल बॉड के री-पेमेंट के तौर पर साढ़ तीन हजार करोड़ रुपए, फ्री वैक्सीनेशन पर 20 हजार करोड़ रुपए खर्च किए। कार्पोरेट सेक्टर का टैक्स घटाकर 30 से 22 प्रतिशत करने पर लगभग सवा लाख करोड़ रुपए का भार पड़ा। फिर भी साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए का हिसाब मोदी जी को बताना चाहिए।

दिग्विजय की भाजपा को चुनौती: कहा- मुझसे अच्छा हिंदू हो तो बता दो, बिरसा मुंडा के नाम पर राजनीति कर रही BJP