जिम्मेदार अधिकरियों ने नहीं दिया ध्यान:ठेकेदार की लापरवाही ने ली दो बच्चों की जान, भाजपा ने भी की सख्त कार्रवाई की मांग

कटनी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वह गड्‌ढा, जिसमें डूबकर हुई बच्चियों की मौत। - Dainik Bhaskar
वह गड्‌ढा, जिसमें डूबकर हुई बच्चियों की मौत।

कुठला थाना अंतर्गत कुठला बस्ती के पास सुरक्षा मानकों को दरकिनार कर सीवर प्लांट के लिए खोदे गए गड्ढे में भरे पानी में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत के बाद ठेकेदार पर लग रहे लापरवाही के आरोप थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। कांग्रेस के बाद भाजपा के पदाधिकारी भी ठेकेदार पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

भाजपा जिला अध्यक्ष रामरतन पायल ने ठेकेदार पर आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग है। इससे पहले कांग्रेस ने ठेकेदार और नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारियों पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी।

जिलाध्यक्ष रामरतन पायल ने कलेक्टर और एसपी को पूरे मामले की जांच के लिए लिखा है। साथ ही कहा कि सीवर लाइन के नाम पर पूरे शहर में सड़क खोदकर जगह-जगह गड्ढे बनाए गए हैं, जिससे आए दिन हादसे और वाहन दुर्घटनाएं होने का भय बना रहता है।

उन्होंने कहा कि कुठला बस्ती में घटित हादसे के लिए प्रथम दृष्टया सीवर लाइन का ठेकेदार दोषी प्रतीत होता है। रहवासी बस्ती के पास सीवर लाइन के ट्रीटमेंट प्लांट को स्थापित करना ही हादसों को निमंत्रण देने वाला है, लेकिन न तो इस ओर ठेकेदार ने ध्यान दिया और न ही जिम्मेदार अधिकारियों ने।

आपको बता दें कि, 26 सितंबर को कुठला बस्ती निवासी रामदास बेन की 9 साल की बच्ची रिया उर्फ अस्सो और दिनेश बेन का 8 साल का बच्चा कृष्णा सुबह लगभग 7 बजे घर के पीछे खेल रहे थे। कुछ देर बाद जब दोनों बच्चे परिजनों को नहीं दिखे तो उन्होंने उनकी खोजबीन शुरू की।

घर के पीछे बने सीवर लाइन के प्लांट के गड्ढे के पास बच्चों की चप्पल दिखी। जिस पर गड्ढे में बच्चों की तलाश क्षेत्रीय लोगों द्वारा की जाने लगी। सूचना पर पुलिस नगर निगम की टीम भी पहुंची। लोहे के जाल को गड्ढे में डालकर बच्चों की खोजबीन शुरू की गई। करीब 4 घंटे तक चले रेस्क्यू में दोनों के शव को गड्ढे से बाहर निकाला गया। दोनों के शवों को पोस्टमार्टम कराया गया है। पुलिस मर्ग प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

इस मामले में कांग्रेस द्वारा ठेकेदार और नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारी और कर्मचारियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की धारा के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग कर चुकी है।

खबरें और भी हैं...