• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 21 Cases Were Reported On The Third Day Of The Year, 89% Travel History Came Out, 21 To 64 Years Old Infected

जबलपुर में कोरोना बम फूटा:साल के तीसरे दिन 21 केस सामने आए, 89% की ट्रैवल हिस्ट्री निकली; 21 से 64 साल के संक्रमित

जबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर में तीन दिन में आए 26 नए संक्रमित, एक्टिव केस 51 हुआ। - Dainik Bhaskar
जबलपुर में तीन दिन में आए 26 नए संक्रमित, एक्टिव केस 51 हुआ।

जबलपुर में कोरोना का बम फूटा है। साल के तीसरे दिन 21 नए संक्रमित सामने आए। जिले में कोविड के एक्टिव केस बढ़कर 51 हो गए हैं। संक्रमितों में 89% की ट्रैवल हिस्ट्री सामने आई है। सभी को हल्के लक्षण हैं। सभी होम आईसोलेट हैं।

संक्रमितों में तीन आंध्रप्रदेश, दो दिल्ली, मुम्बई से एक आए हैं। वहीं अन्य 10 अन्य लोग अलग-अलग शहरों से आए हैं। नए संक्रमितों में पांच महिलाएं हैं और सभी पुरुष हैं। संक्रमितों में सबसे कम उम्र 21 वर्षीय युवक की है। वहीं सबसे अधिक उम्र 62 वर्षीय बुजुर्ग की है।

सभी को लग चुका है टीका

नए 21 संक्रमितों में सभी को डबल डोज लग चुका है। यही कारण है कि सभी में सामान्य लक्षण हैं। बाहर से आने के चलते ही सभी के सैम्पल रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर लिए गए थे। हेल्थ विभाग ने 5310 सेम्पल भेजे थे। इसमें एक स्वस्थ्य हुआ। तीन लोग संक्रमितों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए थे।

51 हुए एक्टिव केस

जिले में तीन दिन में कोविड के 26 केस सामने आए हैं। इसी के साथ एक्टिव केस बढ़कर 51 हो गए हैं। सभी को हल्के लक्षण के चलते होम आईसोलेट किया गया है। कोविड कमांड एंड कंट्रोल रूम से सभी की निगरानी की जा रही है।

प्रभारी मंत्री ने बैठक में कोविड के तीसरी लहर की आाशंका को देखते हुए तैयारियों की समीक्षा की।
प्रभारी मंत्री ने बैठक में कोविड के तीसरी लहर की आाशंका को देखते हुए तैयारियों की समीक्षा की।

प्रभारी मंत्री ने ली आपदा प्रबंधन समिति की बैठक

प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने सोमवार को आपदा प्रबंधन समिति की बैठक ली। बोले कि कोविछ की दूसरी लहर की विभीषिका हमने झेली है। वो डर व दहाश्त फिर से न आए, इसके लिए प्रशासन जनप्रतिनिधियों को मिलकर काम करना होगा।

आईसोलेट मरीजों को दी जाए किट

आईसोलेट मरीजों के लिए पर्याप्त मात्रा में किट तैयार करें। उन्होंने विक्टोरिया जिला अस्पताल के ऑक्सीजन सेप्रेशन यूनिट और आईसीयू वार्ड भी देखा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि इस बार प्राइवेट अस्पतालों को किसी कोविड मरीजों को लूटने नहीं दे सकते। सामान्य इलाज से 25 प्रतिशत से अधिक कोई भी कीमत नहीं ले सकता है।

खबरें और भी हैं...