• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In Jabalpur, Both The Legs Of A 32 year old Youth Were Found Broken And Deep Wounds Were Found In The Leg, The Youth Had Collided With LTT Guwahati

रेलवे ट्रैक पर मरणासन्न मिले युवक की मौत:जबलपुर में 32 वर्षीय युवक के दोनों पैर टूटे मिले, एलटीटी-गुवाहाटी से टकराया था युवक

जबलपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कछपुरा मालगोदाम के पास ट्रैक पर युवक एलटीटी-गुवाहाटी ट्रेन से टकराया, मौत। - Dainik Bhaskar
कछपुरा मालगोदाम के पास ट्रैक पर युवक एलटीटी-गुवाहाटी ट्रेन से टकराया, मौत।

जबलपुर में 32 वर्षीय युवक मरणासन्न हालत में 08 दिसंबर को कछपुरा रेलवे ट्रैक पर मिला। मेडिकल ले जाते समय उसकी मौत हो गई। युवक के दोनों पैर की हडि्डयां टूटी हुई मिली। उसके पैरों में गहरे घाव भी थे। सिर में भी गहरी चोट थी। युवक एलटीटी-गुवाहाटी ट्रेन से टकराया था। ड्राइवर द्वारा मदनमहल स्टेशन मास्टर को दी गई सूचना के बाद जीआरपी मौके पर पहुंची और घरवालों को हादसे के बारे में बताया था।

जीआरपी टीआई सुनील नेमा के मुताबिक युवक की पहचान मोबाइल के आधार पर विवेक श्रीवास (32) पुत्र दिनेश प्रीत निवासी कुंजबिहार कॉलोनी के रूप में हुई। विवेक मरणासन्न हालत में कछपुरा मालगोदाम के पास मिला था। रात 11.30 बजे घरवालों को खबर पहुंची तो वे भी पहुंचे। अस्पताल ले जाने से पहले रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। मौके पर बाइक की चाबी और मोबाइल मिला। वहीं उसकी बाइक गुलौआ चौक पर खड़ी मिली।

इस तरह शरीर पर मिले थे चोट और रगड़ के निशान।
इस तरह शरीर पर मिले थे चोट और रगड़ के निशान।

तो सुसाइड के इरादे से गया था विवेक

ट्रेन 15645 एलटीटी-गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन के ड्राइवर द्वारा मदनमहल स्टेशन मास्टर को दी गई सूचना में बताया गया था कि एक युवक अचानक ट्रेन के सामने आ गया था। टक्कर लगने पर वह दूर जा गिरा। स्टेशन मास्टर के मेमो पर मदनमहल जीआरपी मौके पर पहुंची थी। गुलौआ चौक में बाइक छोड़कर जिस तरह से कछपुरा मालगोदाम तक युवक गया, उससे साफ है कि वह सुसाइड के इरादे से गया था।

पीएम करने वाले डॉक्टरों ने बताया एक्सीडेंट

गुरुवार 09 दिसंबर को विवेक के शव का पीएम मेडिकल कॉलेज में हुआ। चोट, शरीर पर घिसटने के निशान और घटनास्थल पर मिले मांस के लोथड़े और हड्‌डी के टुकड़े भी इसी ओर इशारा कर रहे हैं। पीएम करने वाले डॉक्टर ने भी इसे ट्रेन एक्सीडेंट ही माना है। हालांकि पीएम रिपोर्ट अभी मिलना शेष है। जीआरपी पीएम रिपोर्ट मिलने के आधार पर ही आगे की कार्रवाई करने की बात कह रही है।

पीएम के पहले पंचनामा की कार्रवाई करती मदनमहल जीआरपी।
पीएम के पहले पंचनामा की कार्रवाई करती मदनमहल जीआरपी।

परिजनों का दावा, मारपीट कर किसी ने ट्रैक पर डाला

उधर विवेक श्रीवास के पत्रकार पिता दिनेश प्रीत और मामा का दावा है कि ये ट्रेन एक्सीडेंट नहीं हत्या है। किसी ने मारपीट कर मरणासन्न हालत में ट्रैक पर विवेक को डाल दिया था। जिससे ये हादसा प्रतीत हो। हालांकि ट्रेन ड्राइवर की सूचना और परिजनों के दावों में विरोधाभाष है। विवेक श्रीवास प्राइवेट जॉब करता था। वह रात 8.30 बजे घर से बाइक लेकर निकला था। 10 बजे के लगभग परिजनों ने उसे कॉल किया तो फोन रिसीव नहीं हुआ। इसके बाद कॉल किया तो जीआरपी ने मोबाइल रिसीव करते हुए हादसे की सूचना दी थी।

खबरें और भी हैं...