पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • IG Jabalpur Rewarded 20 Thousand Rupees, Bloody Body Of Missing 12 year old Innocent Was Found After Two Days

दीपेश काछी हत्याकांड:IG जबलपुर ने इनाम की राशि 20 हजार रुपए की, लापता 12 वर्षीय मासूम की दो दिन बाद मिली थी रक्तिरंजित लाश

जबलपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दो दिन से लापता दीपेश काछी की 30 मई को मिली थी रक्तरंजित लाश। - Dainik Bhaskar
दो दिन से लापता दीपेश काछी की 30 मई को मिली थी रक्तरंजित लाश।

गोसलपुर के हृदयनगर निवासी 12 वर्षीय दीपेश काछी की हत्या का मामला पुलिस अब तक नहीं सुलझा पाई है। 28 मई की रात को दादी के घर से निकले दीपेश की रक्तरंजित लाश 30 मई की रात पौने नौ बजे मिली थी। इस हत्याकांड के बारे में सूचना देने वालो को एसपी ने 10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था। अब आईजी ने इस रकम को 20 हजार कर दिया है।

गोसलपुर पुलिस के मुताबिक बालकृष्ण काछी के दो बेटों में दीपेश काछी छोटा था। 28 मई को वह हृदयनगर में ही रहने वाली दादी के घर गया था। वहां खाना खाने के बाद वह सात बजे के लगभग ये कहते हुए निकला था कि अभी आ रहा है। काफी देर बाद भी नहीं लौटा तो दादी ने बेटे बालकृष्ण से उसके बारे में पता किया। वहां भी दीपेश नहीं पहुंचा था। इसके बाद दीपेश की तलाश शुरू हुई।

रात भर तलाशते रहे परिजन

दीपेश को परिजन पूरी रात तलाशते रहे। देर रात गोसलपुर थाने में पिता बालकृष्ण ने उसके अपहरण का मामला दर्ज कराया। परिजन उसे तलाश ही रहे थे कि 30 जून की रात नौ बजे उसका शव गांव के बाहर मिला। उसके पेट के कुत्ते नोच रहे थे। बाद में पीएम रिपोर्ट में ये सामने आया कि उसकी बेरहमी से पेट पर चाकू से चार से पांच वार कर हत्या की गई है।

मासूम दीपेश की हुई थी बेरहमी से हत्या:हत्यारे ने उसके पेट पर किए थे चाकू से 10 वार, तीन डॉक्टरों के पैनल ने शार्ट पीएम रिपोर्ट में की पुष्टि

12 साल के मासूम की किससे रंजिश, ये सवाल बना हुआ है

12 साल के मासूम को जिस बेरहमी से हत्या की गई है। उसने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। पुलिस को भी समझ में नहीं आ रहा है कि इस उम्र के बच्चे से इतनी रंजिश भला कौन रख सकता है? घटनास्थल के पास ही एक ट्रैक्टर-ट्राली में भी खून के छींटे मिले थे। छानबीन में पता चला कि उसके शव को कहीं और से लाकर वहां फेंका गया होगा। गोसलपुर पुलिस हर एंगल से जांच में जुटी है, लेकिन अब तक ऐसा कोई ब्रेकथू नहीं मिल पाया है, जिससे वह कातिलों तक पहुंच सके। पुलिस ने मामले में हत्या, शव छिपाने और अपहरण का प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है।

इनाम बढ़ाने भेजा था प्रतिवेदन

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के मुताबिक दीपेश हत्याकांड में इनाम की राशि बढ़ाने आईजी जबलपुर को प्रतिवेदन भेजा गया था। 11 जून को आईजी ने इनाम की राशि 20 हजार कर दी है। इस हत्याकांड से जुड़ी कोई भी सूचना दे सकता है। उसकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी।

गुटखा के विवाद में ड्राइवर की हत्या:जबलपुर में 20 साल के युवक की चाकू से गोदकर हत्या, बाइक सवार तीन युवकों ने दिया वारदात को अंजाम

ड्राइवर हत्याकांड के बाद मौके पर पहुंचे एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा।
ड्राइवर हत्याकांड के बाद मौके पर पहुंचे एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा।

ड्राइवर हत्याकांड में भी नहीं मिले आरोपी

उधर, गोराबाजार क्षेत्र के सिद्धनगर निवासी दुर्गा प्रसाद गौड़ (20) की हत्या करने वाले बाइक सवार तीनों बदमाशों की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस को जैतपुरी गांव में पूछताछ के दौरान कुछ जानकारी मिली है। इसके आधार पर पुलिस आरोपियों तक पहुंचने की जुगत में है। दुर्गा प्रसाद की गुटखा विवाद में बदमाशों ने चाकू से गोदकर बेरहमी से 10 जून की रात सात बजे के लगभग मार डाला था।

पुजारी हत्याकांड भी अनसुलझी

बरेला के हिनौतिया भोई में वीकल से रिटायर्ड 70 वर्षीय गोपाल मार्को की हत्या कर दी गई थी। शिव मंदिर के सेवादार गोपाल मार्को की भी चाकू से गोदकर बेरहमी से हत्या की गई थी। अब तक इस हत्याकांड का खुलासा पुलिस नहीं कर पाई है।

शिव मंदिर के सेवादार की हत्या:जबलपुर वीकल फैक्ट्री से रिटायर था सेवादार, चेहरे और गले में धारदार हथियार से वार कर किया गया मर्डर, जनेऊ से चाबी और जेब से पैसे गायब जबलपुर 3 दिन पहले

खबरें और भी हैं...