• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Indore ED Sought Information From SP Jabalpur About Sarabjit Mokha, Accused In The Fake Remdesivir Injection Case

ED ने मोखा व भगवती फार्मा की मांगी जानकारी:नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन मामले के आरोपी सरबजीत के बारे में इंदौर ईडी ने SP जबलपुर से मांगी जानकारी

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन मामले में आरोपी सरबजीत मोखा सहित उसकी पत्नी व अन्य। - Dainik Bhaskar
नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन मामले में आरोपी सरबजीत मोखा सहित उसकी पत्नी व अन्य।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन मामले के आरोपी सिटी हॉस्पिटल के संचालक सरबजीत मोखा की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। अब ईडी ने एसपी जबलपुर को गोपनीय पत्र लिखकर मोखा के बारे में और उसके खिलाफ दर्ज कार्रवाई की जानकारी मांगी है। साथ में भगवती फार्मा के संचालक के संबंध में भी जानकारी मांगी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि ईडी भी इस मामले में कार्रवाई कर सकती है।

एसपी सिटी रोहित काशवानी के मुताबिक इंदौर ईडी के डिप्टी डायरेक्टर भुवनेश कुमार तिवारी ने मोखा, कर्मचारी देवेश चौरसिया, भगवर्ती फार्मा के संचालक सपन जैन के संबंध में दर्ज एफआईआर सहित अन्य जानकारी मांगी है। इसमें एफआईआर, कोर्ट में दायर चार्जशीट, अखबारों में प्रकाशित खबर के कतरनें मांगी है। सरबजीत मोखा को हाल ही में सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल पाई है।

दूसरी लहर में लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वाले चेहरे।
दूसरी लहर में लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वाले चेहरे।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन का ये था मामला

एक मई 2021 को गुजरात में नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन का भंडाफोड़ हुआ था। 6 मई की देर रात गुजरात पुलिस ने जबलपुर से सपन जैन को उठाया। सपन के खुलासे पर ओमती पुलिस ने 9 मई को सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा व देवेश के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। जांच आगे बढ़ी तो 9 और आरोपी बनाए गए। जांच में पता चला कि जबलपुर में कुल 500 इंजेक्शन आए थे।

सिटी हॉस्पिटल में फिर से कोविड मरीजों को भर्ती करने का आवेदन लगाया गया है।
सिटी हॉस्पिटल में फिर से कोविड मरीजों को भर्ती करने का आवेदन लगाया गया है।

465 सिटी अस्पताल में 23 व 27 अप्रैल को अम्बे ट्रांसपोर्ट के माध्यम से तो 35 इंजेक्शन सपन जैन ने रख लिए थे। सिटी अस्पताल में 171 मरीजों को कुल 209 इंजेक्शन लगाए गए थे। इसमें 9 लोगों की मौत हुई है। चार नकली इंजेक्शन साबूत जब्त हुए हैं तो 196 के लगभग टूटी शीशियां जब्त हुई हैं। भर्ती मरीजों के बयान और बिल भी एसआईटी ने चालान के साथ संलग्न किया है।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की जांच पूरी:जबलपुर SIT 7 अगस्त तक पेश कर देगी चालान, सिटी हॉस्पिटल संचालक सरबजीत सिंह मोखा सहित 47 को आरोपी बनाया

खबरें और भी हैं...