राहत / आखिरकार 5 दिन बाद ब्रिटिश कालीन नाले से निकला पानी, लोगों की मुसीबत हुई कम

Finally 5 days later, water came out of the British carpet drain, people got less trouble
X
Finally 5 days later, water came out of the British carpet drain, people got less trouble

  • कीटनाशकों का हुआ छिड़काव, दो नए चेम्बर बने, उन्हें बंद करने की चुनौती

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:58 AM IST

जबलपुर. करीब 5 दिनों तक गुरंदी को गंदे पानी का तालाब बनाकर आखिरकार ब्रिटिश कालीन नाले ने साँस ली और गंदे पानी की निकासी हाेने लगी। निगम के कर्मियों ने कोरोना संकट में गजब का धैर्य दिखाया और दिन-रात काम करते हुए इस संकट को दूर किया। गुरुवार की रात करीब 2 बजे तक काम चला और शुक्रवार की सुबह 6 बजे से ही कर्मी पहुँच गए। इन्होंने एक और नया चेम्बर बनाया और उसके नीचे धँस चुकी दीवार का मलबा जैसे ही निकाला गया पानी भी तेजी से निकलने लगा। इसके बाद दोपहर करीब 1 बजे तक पूरे क्षेत्र में भरा गंदा पानी भी निकल गया। लोगाें के साथ ही निगम अधिकारियों ने भी चैन की साँस ली। बताया जाता है कि सोमवार को गुरंदी में नाला चोक हो गया था जिसके कारण गंदा पानी सड़कों पर बहने लगा था, इसकी सूचना निगम के अधिकारियों को मिली तो उन्होंने नाले के चेम्बरों को खोलना शुरू किया। लगातार चार चेम्बर खोले गए और मलबा निकाला भी गया, लेकिन इसके बाद भी पानी की निकासी नहीं हो पाई। इसके बाद नए चेम्बर खुदवाए गए और तब जाकर शुक्रवार को पानी की निकासी हो पाई। शुक्रवार की दोपहर जैसे ही पानी की निकासी हुई लोगों ने राहत की साँस ली और निगम अधिकारियों से कीटनाशकों के छिड़काव की माँग की, ताकि क्षेत्र में किसी प्रकार की संक्रामक बीमारियों का फैलाव न हो पाए। 
सेनिटाइजेशन किया गया- निगम ने एक टीम को मौके पर भेजा जिसने पूरे क्षेत्र को सेनिटाइज्ड किया, ताकि लोगों को किसी प्रकार का डर न सताए। यहाँ शिव-पार्वती मंदिर के पास भी कीटनाशकों का छिड़काव कराया गया और लोगों को कुछ दिन सावधानी बरतने के भी निर्देश दिए गए। 
खुले चेम्बर से होगी मुसीबत - यहाँ निगम द्वारा बनाए गए नए चेम्बर नई समस्या खड़ी कर सकते हैं। यहाँ दिन-रात लोगों की आवाजाही होती है और जानवर भी निकलते रहते हैं और खुले चेम्बर में कभी भी कोई गिर सकता है, इसलिए  लोगों ने निगम के लोक निर्माण विभाग से माँग की है कि जल्द ही खुले चेम्बरों को पक्का किया जाए। 

मरम्मत कराई जाएगी
पूर्व मंत्री अंचल सोनकर, पूर्व नेता प्रतिपक्ष राजेश सोनकर के साथ निगमायुक्त आशीष कुमार ने नाले के सुधार कार्य का निरीक्षण किया। निगमायुक्त ने कहा कि जब तक स्थायी समाधान नहीं हो जाता तब तक कार्य यहाँ सुचारु रूप से किया जायेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना