पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • The Speed Of Corona Left The Figure Of September Also, In Eight Days, Two Thousand New Infected People Came In Front.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

83 दिन में पांच हजार नए केस:कोरोना की रफ्तार ने सितंबर का भी आंकड़ा पीछे छोड़ा, आठ दिन में दो हजार नए संक्रमित आ गए सामने

जबलपुर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ रही। - Dainik Bhaskar
गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ रही।
  • पिछली बार 21 से 25 सितंबर 2020 के बीच आए थे चार दिन में एक हजार मामले

जिले में कोरोना संक्रमितों की रफ्तार ने स्वास्थ्य अधिकारियों की भी मुश्किलें बढ़ा दी है। आलम ये है कि अस्पताल मरीजों से पैक चल रहे हैं। प्रशासन के खाली बेडों के दावे से अलग आम लोगों को मरीजों को भर्ती कराने में लोगों के पसीने छूट जा रहे हैं। गंभीर मरीजों के लिए ऑक्सीजन और वेंटिलेटर युक्त बेड कम पड़ गए हैं। 83 दिनों में कोरोना का संक्रमण 16 हजार से बढ़कर 21 हजार पहुंच गया। इसमें भी चार हजार केस 13 मार्च के बाद बढ़े हैं।

जिले में सरकारी दावे के मुताबिक 2217 कोविड बेड हैं। इसमें भी 945 अभी खाली है। पर इन खाली बेड वाले अस्पतालों में मरीजों की होने वाली दुर्गति को देखकर कोई भी परिजन वहां अपनो को भर्ती कराने के लिए तैयार नहीं होता। चारों ओर प्रयास करने के बाद आखिरी में इन अस्पतालों में मजबूरी के चलते लोग अपने मरीजों को भर्ती कराते हैं। जिले में 507 कोविड मरीजों की हालत काफी गंभीर है। सभी की सांसें वेंटिलेटर पर टिकी हुई है। इनके लंस में इंफेक्शन 80 से 90 प्रतिशत तक फैल चुका है।

कोरोना की दूसरी लहर हुई खतरनाक, चार दिन में एक हजार पहुंचा आंकड़ा
तारीखपॉजीटिव केससमय लगा
06 सितंबर 2020514707 दिन
11 सितंबर604305 दिन
16 सितंबर703105 दिन
21 सितंबर800005 दिन
25 सितंबर909804 दिन
30 सितंबर10,02505 दिन
08 अक्टूबर11,10908 दिन
15 अक्टूबर12,01007 दिन
06 नवंबर13,00022 दिन
26 नवंबर14,05520 दिन
17 दिसंबर15,00220 दिन
15 जनवरी 202116,00030 दिन
13 मार्च17,01157 दिन
24 मार्च18,05011 दिन
30 मार्च19,00506 दिन
04 अप्रैल20,02505 दिन
08 अप्रैल21,17504 दिन

765 संक्रमितों को सांस लेने में कठिनाई

जिले में कोरोना के एक्टिव केस आठ अप्रैल को बढ़कर 2015 हो चुके हैं। इसमें से 1272 ही अस्पताल में भर्ती हैं। अन्य होम आईसोलेशन में रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। अस्पताल में भर्ती 1272 मरीजों में 765 को सांस लेने में कठिनाई हो रही है। सभी के शरीर में ऑक्सीजन का लेवल 90 से नीचे आ चुका है। सभी को कृत्रिम ऑक्सीजन देना पड़ रहा है।

रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत

कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज में उपयोग किए जा रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन की की किल्लत पड़ गई है। सांसद राकेश सिंह ने भी 10 हजार इंजेक्शन की व्यवस्था करने की पहल की है। बावजूद आठ अप्रैल को दवा बाजार में लोग इस इंजेक्शन के लिए परेशान होते दिखे। आपूर्ति घटने के बाद प्रशासन ने रेमेडसिविर इंजेक्शन की बिक्री पर निगरानी रखी। इसके बावजूद गंभीर मरीजों के परिजन पर्चा लेकर परेशान होते दिखे। इसी तरह कोरोना की जांच के लिए भी मारामारी मची है। संदिग्ध लक्षण के बावजूद फीवर क्लीनिक और पैथालॉजी लैब में दोपहर तक ही किट समाप्त हो जा रहे हैं। फीवर क्लीनिक में कोविड जांच आरटीपीसीआर का किट दो से तीन घंटे में ही समाप्त हो जा रहा है।

दो दिनों में 46 हजार से अधिक को लगी वैक्सीन

जिले में वैक्सीन लगाने की रफ्तार बढ़ाई जा रही है। बुधवार को जिले में 25 हजार 135 को वैक्सीन लगी तो गुरुवार को 21 हजार 218 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। जिले में रोज 200 के लगभग सेशन आयोजित किए जा रहे हैं। सरकारी अस्पतालों में लंबी लाइनों में खड़े होकर लोग वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

और पढ़ें