पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Flight Arrived With Eight 1.51 Lakh Dose Vaccines At Night, Now 12 Thousand Health Workers Will Be Vaccinated, 07 Centers Will Be Made

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जबलपुर पहुंचा जिंदगी का टीका:कोवीशील्ड की 1.51 लाख डोज लेकर दो घंटे देरी से रात आठ बजे पहुंची फ्लाइट, अभी सात सेंटर्स पर 12 हजार हेल्थ कर्मियों को लगेगी वैक्सीन

जबलपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डुमना एयरपोर्ट पर स्पाइस जेट की फ्लाइट से वैक्सीन को वाहन में लोड करते हुए - Dainik Bhaskar
डुमना एयरपोर्ट पर स्पाइस जेट की फ्लाइट से वैक्सीन को वाहन में लोड करते हुए
  • जबलपुर संभाग के लिए 93 हजार 300 डोज, 57 हजार 380 डोज लेकर रीवा-शहडोल संभाग के सात वैक्सीन वाहन रवाना

कोरोना वैक्सीन का इंतजार खत्म हुआ। रात आठ बजे स्पाइस जेट की फ्लाइट 1.51 लाख डोज लेकर डुमना एयरपोर्ट पर लैंड हुई। यहां से वैक्सीन वैन को कड़ी सुरक्षा में संभागीय भंडारण गृह तक लाया गया। 93 हजार 300 वैक्सीन जबलपुर संभाग के आठ जिलों को आवंटित हुआ है। वहीं 57 हजार 380 वैक्सीन रीवा-शहडोल संभाग के सात जिलों को मिली है। सात वैक्सीन वाहन से रीवा-शहडोल संभाग के अलग-अलग जिलों के लिए आवंटित डोज रवाना किया गया। जबलपुर जिले में पहले चरण में 12 हजार हेल्थ कर्मियों को वैक्सीन लगेगा। इसके लिए सात सेंटर बनाए गए हैं। एक सेंटर पर रोज 100 वैक्सीन लगेगी।

इस वैक्सीन वाहन से लाया गया कोवीशील्ड वैक्सीन
इस वैक्सीन वाहन से लाया गया कोवीशील्ड वैक्सीन

दो घंटे देरी से पहुंची फ्लाइट
जानकारी के अनुसार जबलपुर-रीवा और शहडोल संभाग की वैक्सीन लेकर स्पाइस जेट की फ्लाइट पूरे दो घंटे देरी से पहुंची। डुमना एयरपोर्ट पर हेल्थ विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में 13 कार्टून में पैक वैक्सीन को उतारा गया और रनवे पर ही वैक्सीन वाहन में लोड किया गया। वहां से 8.30 बजे के लगभग उसे क्षेत्रीय संचालक कार्यालय स्थित भंडार गृह लाया गया।

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और हेल्थ अफसर
कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और हेल्थ अफसर

कलेक्टर-सीएमएचओ पहुंचे मौके पर
कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ्य सेवाएं डॉक्टर वाइएस ठाकुर, सीएमएचओ रत्नेश कुररिया, जिला टीकारण अधिकारी डॉक्टर शत्रुघन दाहिया सहित अन्य जिलों से आए हेल्थ ऑफिसर मौजूद थे। वैक्सीन वैन से एक-एक कार्टून उतारकर भंडार गृह में रखवाया गया। इसके बाद रीवा-शहडोल संभाग के सात जिलों से आई वैक्सीन वाहन से कोवीशील्ड वैक्सीन की डोज रवाना कर दी गई। जबलपुर संभाग के आठ जिलों की वैक्सीन गुरुवार को रवाना की जाएगी।

वैक्सीन भंडार गृह में रखा गया कोवीशील्ड वैक्सीन
वैक्सीन भंडार गृह में रखा गया कोवीशील्ड वैक्सीन

संभागवार इस तरह आवंटित हुई है डोज
जबलपुर संभाग-93,300

  • जबलपुर-28,030
  • बालाघाट-9,660
  • छिंदवाड़ा-15,070
  • डिंडोरी-6,590
  • कटनी-8,300
  • मंडला-8,830
  • नरसिंहपुर-7,340
  • सिवनी-9,480

रीवा-शहडोल संभाग-57,380

  • अनूपपुर-3,960
  • रीवा-14,790
  • सतना-13,820
  • शहडोल-7,940
  • सीधी-7,820
  • सिंगरौली-5,710
  • उमरिया-3,340
इस वैन से वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचेगी वैक्सीन की डोज
इस वैन से वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचेगी वैक्सीन की डोज

15 जनवरी को जिले के सात सेंटर पर पहुंचेगा डोज
सीएमएचओ डॉक्टर रत्नेश कुररिया ने बताया कि वैक्सीन का पहला डोज लगवाने के लिए मैं तैयार हूं। पर शासन की मंशा है कि वैक्सीन के पहले डोज का श्रीगणेश सफाई कर्मी को लगाकर की जाए। आगे जैसा निर्देश मिलेगा। 15 जनवरी को सभी सात सेंटर पर वैक्सीन का डोज पहुंचा दिया जाएगा। प्रतिदिन एक सेंटर पर 100-100 वैक्सीन की डोज लगेगी। वैक्सीनेशन के लिए 16, 18, 20 व 23 जनवरी का दिन तय किया गया है। 40 लोगों का प्रशिक्षण गुरुवार को रखा गया है। इस प्रशिक्षण में कोविन एप पर जरूरी जानकारी अपलोड करने वाली टीम और वैक्सीन लगाने वाली टीम के लोग शामिल होंगे।

वैक्सीन वैन से कोवीशील्ड वैक्सीन को उतारते हुए हेल्थ कर्मी
वैक्सीन वैन से कोवीशील्ड वैक्सीन को उतारते हुए हेल्थ कर्मी

जबलपुर में सात सेंटर पर लगेगी वैक्सीन
पहले चार दिनों के लिए जिले में सात सेंटर बनाए गए हैं। जिला टीकारण अधिकारी डॉक्टर शत्रुघन दाहिया ने बताया कि जबलपुर जिले में मेडिकल कॉलेज, विक्टोरिया जिला अस्पताल, रेलवे अस्पताल, पनागर, शहपुरा, मझौली व कटंगी सामुदायिक केंद्र में वैक्सीन लगेगा। सभी सात सेंटर पर रोज 700 लोगों को वैक्सीन लगेगी। अभी 12 हजार हेल्थ कर्मियों को वैक्सीन लगाया जाएगा। 28 दिन बार फिर इन हेल्थ कर्मियों को दूसरा डोज दिया जाएगा।

इस तरह आइस पैक के बीच में रखा जाता है वैक्सीन वायल
इस तरह आइस पैक के बीच में रखा जाता है वैक्सीन वायल

कोल्ड चेन बरकरार रखने का यह है सिस्टम
जबलपुर से दूसरे जिलों में वैक्सीन ले जाने वाली गाड़ी पर बैनर पोस्टर लगाए गए थे। वैक्सीन पूरी तरह से कोल्ड चैन के माध्यम से वैक्सीनेशन सेंटर और फिर जिलों तक भेजी गई। वैक्सीन को 2 डिग्री से 8 डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान में रखना है। इसके लिए वैक्सीन को आईएलआर में रखा गया है। इसका तापमान 2 से 8 डिग्री सेल्सियस रहता है। यह सिस्टम मोबाइल फोन से कनेक्ट होता है। इसमें कोई भी खराबी आने पर एक ऑटो जनरेट SMS आ जाता है। वैक्सीन को निकालकर कर कोल्ड बॉक्स के अंदर आइस पैकेट के बीच में रख दिया जाएगा। इससे यह 72 घंटे तक सुरक्षित रहती है।

वैक्सीन की डोज को मोबाइल में कैद करते हेल्थ ऑफिसर
वैक्सीन की डोज को मोबाइल में कैद करते हेल्थ ऑफिसर

समय सुबह 8 से शाम 5 बजे तक
सीएमएचओ डॉक्टर रत्नेश कुररिया ने बताया कि वैक्सीन लगाने का समय सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक होगा। एक दिन में एक सेशन होगा। वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट तक इंतजार करना होगा। वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन सिर्फ COWIN ऐप पर ही होगा। वैक्सीन लगाने के बाद इसी एप पर जरूरी जानकारी भी अपलोड की जाएगी।
वैक्सीनेशन के लिए ये दस्तावेज जरूरी
वैक्सीनेशन के दौरान 15 डाक्यूमेंट्स में से एक देना होगा। यानी आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, हेल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट, कार्ड जो केंद्रीय श्रम मंत्रालय द्वारा जारी किया गया हो, मनरेगा जॉब कार्ड, पैन कार्ड पासबुक बैंक या पोस्ट ऑफिस द्वारा जारी किया गया पासपोर्ट, पेंशन डॉक्यूमेंट, सर्विस कार्ड और वोटर कार्ड में से कोई एक की जानकारी अपलोड करना होगी।

वैक्सीन सेंटर्स का होगा लाइव प्रसारण
जिले में पहले चरण के लिए बनाए गए सभी सात वैक्सीनेशन सेंटर्स का लाइव प्रसारण होगा। सीएमएचओ ने सभी सेंटर्स को वैक्सीनेशन प्रोटोकॉल के अनुसार गुरुवार तक तैयार करने का निर्देश दिया है। वहीं लाइव प्रसारण के लिए हर सेंटर्स पर बेहतर नेट कनेक्शन के साथ एक-एक लैपटॉप और डाटा एंट्री आपरेटर को नियुक्ति करने का निर्देश दिया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser