• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 200 Ml Milk Is Being Sold By Sanchi Milk Union For 30 Rupees, Goat Farmers Will Get 50 To 70 Rupees Price

बकरी दूध के कमाल के फायदे:जबलपुर सांची दूग्ध संघ की ओर से 30 रुपए में 200 एमएल दूध बेचा जा रहा, बकरी पालकों को मिलेगी 50 से 70 रुपए कीमत

जबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गुणों की खान बकरी का दूध अब जबलपुर में बिकेगा। - Dainik Bhaskar
गुणों की खान बकरी का दूध अब जबलपुर में बिकेगा।

गाय-भैंस की तरह अब बकरी का दूध भी जबलपुर में बिकने लगा है। सांची की ओर से स्टारलाइज्ड दूध बिक्री का शुभारंभ संभागायुक्त बी. चंद्रशेखर ने किया। शहर के हर सांची पार्लर में बकरी का दूध मिलेगा। ग्राहकाें को जहां 200 एमएल बकरी का दूध 30 रुपए में मिलेगा। वहीं बकरी पालकों को प्रति लीटर के एवज में 50 से 70 रुपए मिलेंगे।

पशुपालन एवं डेयरी विभाग की पहल पर जबलपुर दुग्ध संघ द्वारा बकरी के दूध आम लोगों तक पहुंचाने का नेटवर्क तैयार किया गया है। औषधीय और पौष्टिक तत्वों से भरपूर बकरी का स्टरलाइज्ड दूध इम्युनिटी बूस्टर का काम करेगा। इसे सांची के हर पार्लरों पर इसे उपलब्ध कराया जाएगा।

बकरी पालन अब होगा डबल फायदे वाला।
बकरी पालन अब होगा डबल फायदे वाला।

सिवनी व बालाघाट के जनजातियों से बकरी का दूध खरीदा जा रहा है

जबलपुर दुग्ध संघ संभाग के सिवनी और बालाघाट जिलों के जनजातियों से 50 से 70 रुपए लीटर की दर से खरीदा जा रहा हे। स्टरलाइज्ड और पैकेजिंग के बाद सांची पार्लरों में वितरित किया जाएगा। जबलपुर दुग्ध संघ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी दीपक शर्मा के मुताबिक बकरी का स्टरलाइज्ड दूध 200 मिली की बॉटल में अधिकतम 30 रुपए की दर से सांची पार्लर पर उपलब्ध होगा।

पौष्टिक तत्वों से भरपूर है बकरी दूध

बकरी का दूध पौष्टिक खनिज तत्वों से भरपूर होता है। कार्बोहाईड्रेट, प्रोटीन, वसा, विटामिन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, तांबा, जिंक आदि का उत्तम स्त्रोत होने से यह शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक है। वसा के कण अन्य दूध की तुलना में छोटे होने से जल्दी और आसानी से पच जाता है।

दैनिक अनुसंशित मूल्य का 33 प्रतिशत कैल्शियम शरीर को प्रदान करते हुए हड्डियों के घनत्व को बढ़ाता है। बकरी के दूध में मध्यम श्रेणी का फैटी एसिड होने से यह शरीर को अधिक ऊर्जा देने के बावजूद चर्बी के रूप में जमा नहीं होता। इससे वजन नियंत्रित रहता है। आंतों के विकार और कोरोनरी रोग के इलाज में भी सहायक है।

कोलेस्ट्रॉल को कम करता है

बकरी का दूध शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाकर खराब कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर नियंत्रित करता है। हृदय को कोरोनरी बीमारी से बचाने में प्रभावी है। बकरी का दूध चयापचय (मेटाबॉलिक) एजेंट होने से कॉपर और आयरन को भी मेटाबोलास कर सकता है।

पाचन और कब्ज की समस्या और सूजन दूर करने में भी सहायक है। बकरी के दूध में उपलब्ध वसा और ट्राइग्लेसराइडस मानव त्वचा में निखार लाते हैं। त्वचा को नर्म और स्वस्थ रखता है। इसमें मौजूद विटामिन-'A' चेहरे के कील-मुंहासे को दूर कर रंग में निखार लाता है।

डेंगू से सुरक्षा का भी बचाव

बकरी का दूध रक्त में प्लेटलेट्स को नियंत्रित कर डेंगू से सुरक्षा करता है। लेक्टोज इन्टोलरेंट लोगों के लिये बकरी का दूध एक अच्छा विकल्प है। जिये दुग्ध शर्करा से एलर्जी है, उनके लिए बकरी का दूध अच्छा विकल्प है।

बकरी के दूध में अधिकतर A-2 (Casien) नामक प्रोटीन होता है, जो एलर्जिक नहीं होता और कोलाइटिस, चिड़चिड़ापन और आंतों के सिंड्रोम आदि से बचाता है। बकरी का दूध अस्थि क्षय को भी रोकता है।