पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Electrician Wrote In Suicide Note That I Am Troubled By Debt, Family Should Not Be Disturbed, Then Ate Poison

खुदकुशी से पहले लिखी व्यथा:इलेक्ट्रीशियन ने सुसाइड नोट में लिखा- कर्ज से परेशान हूं, परिजनों को परेशान न किया जाए, फिर खा लिया जहर

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हनुमानताल तालाब के पास पार्क में मिला इलेक्ट्रीशियन का शव। - Dainik Bhaskar
हनुमानताल तालाब के पास पार्क में मिला इलेक्ट्रीशियन का शव।

‘मैं कर्ज से परेशान हूं। मेरे परिवार को परेशान न किया जाए। मैं अपनी मर्जी से सुसाइड कर रहा हूं।’ यह सुसाइड नोट छोड़कर 47 साल के व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली। उसने जहर खा लिया था। शनिवार को उसकी लाश हनुमानताल तालाब स्थित जैन मंदिर के पास मिला। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है।

हनुमानताल पुलिस के मुताबिक जैन मंदिर के पास पार्क में एक व्यक्ति की सूचना पर टीम पहुंची। मौके पर एक व्यक्ति पड़ा था। उसके मुंह और नाक से खून निकला था। शव मिलने की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। मृतक की पहचान शुक्रवारी बजरिया निवासी रवि शेखर नामदेव के रूप में हुई। उसकी जेब से पुलिस ने एक सुसाइड नोट जब्त किया।

कर्जदारों से परेशान था रवि शेखर

हनुमानताल पुलिस के मुताबिक रवि शेखर नामदेव ने सुसाइड नोट में किसी के नाम नहीं लिखे हैं। अभी पत्नी और बच्चों के बयान नहीं हो पाए। बयान लेने के बाद ही पता चलेगा कि उसने कितनी रकम और किससे ली थी। सुसाइड नोट में उसने लिखा है कि कर्ज मेरा था। और किसी को परेशान न किया जाए। उसकी दीनदयाल बस स्टैंड के पास इलेक्ट्रीकल की दुकान थी। परिवार में पत्नी के अलावा तीन बच्चे हैं। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है।

लॉकडाउन या आर्थिक हालात, एक सप्ताह में तीसरा सुसाइड

शहर में एक सप्ताह में यह तीसरा सुसाइड है, जो आर्थिक हालात और कर्ज से परेशान होकर ये आत्मघाती कदम उठाए हैं। इससे पहले ओमती क्षेत्र में आलू-प्याज के थोक व्यापारी ने लॉकडाउन में घाटा और कर्ज से परेशान होकर फंदे से झूल गया था। वहीं संजीवनी नगर में इंजीनियरिंग की नौकरी छूटने के बाद परेशान होकर सुसाइड कर लिया। एक साल से वह घर पर ही था। अब इलेक्ट्रीशियन ने कर्ज से परेशान होकर सुसाइड कर लिया। एक साल के लॉकडाउन में वह भी आर्थिक रूप से टूट चुका था।

खबरें और भी हैं...