पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीकाकरण:आधे स्वास्थ्य कर्मियों ने नहीं लगवाया कोरोना का टीका

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लगभग 16 हजार  कर्मियों ने लगवाई वैक्सीन - Dainik Bhaskar
लगभग 16 हजार कर्मियों ने लगवाई वैक्सीन
  • लक्ष्य से 43 फीसदी पीछे रहा स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण
  • जिले में लगभग 16 हजार कर्मियों ने ही लगवाई वैक्सीन

कोरोना काल में अपनी जान की परवाह किए बिना स्वास्थ्य कर्मियों ने अपने फर्ज को निभाया। एेसे में जब वैक्सीनेशन की बारी आई तो सबसे पहले चरण के वैक्सीनेशन के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को ही चुना गया, ताकि उन्हें राहत प्रदान की जा सके। उम्मीद थी कि ज्यादा से ज्यादा हैल्थ वर्कर्स टीका लगवाएँगे, लेकिन हुआ इसके उलट।

जिले में लगभग 23 हजार से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मियों का पंजीयन टीकाकरण के लिए हुआ था, लेकिन लगभग आधे कर्मियों ने टीका लगवाने में रुचि नहीं दिखाई। पहले सप्ताह में 66 फीसदी और दूसरे सप्ताह में 55 फीसदी हैल्थ वर्कर्स ने टीका लगवाया। इस तरह जिले में कुल 57 फीसदी वैक्सीनेशन हुआ।

ऐसा माना जा रहा था कि लगभग 5 प्रतिशत हितग्राही, जिनमें गर्भवती महिलाएँ, किसी बीमारी से पीड़ित स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं, वैक्सीन नहीं लगवा पाएँगे। इन्हें छोड़ भी दें, तो भी टीकाकरण अपने टारगेट से बहुत पीछे रहा। शनिवार को स्वास्थ्य कर्मियों के लिए टीका लगवाने का अंतिम दिन था, इस दिन 60 फीसदी टीके लगे।

अभी एक मौका और

स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगवाने का एक और मौका मिलेगा। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसएस दाहिया ने बताया कि 3 या 4 फरवरी को मॉपअप राउंड कराया जाएगा। इस राउंड में उन्हें ही मौका मिलेगा, जो किसी मजबूरी के कारण टीका नहीं लगवा सके।

ऐसे हैल्थ वर्कर्स जो बार-बार मैसेज मिलने के बाद भी नहीं पहुँचे, उनका नाम पोर्टल से हटा दिया जाएगा। वहीं 6 फरवरी से नगर निगम के सफाई कर्मी, पुलिस और राजस्व विभाग के कर्मियों का टीकाकरण शुरू होगा। अब तक 6554 पंजीयन हो चुके हैं।

क्या कहते हैं आँकड़े

सप्ताह लक्ष्य टीके लगे

पहला 2581 1969 दूसरा 24955 13796 कुल 27536 15765

एक नजर

  • पहले चरण के दो सप्ताहों में 9 दिन वैक्सीनेशन हुआ।
  • पहले हफ्ते में 7 केंद्र बनाए गए।
  • दूसरे हफ्ते में केंद्रों की संख्या 42 तक पहुँची।
  • कुल 292 सेशन 9 दिनों में हुए।
  • शहरी केंद्रों के मुकाबले, ग्रामीण केंद्रों पर लगभग 90 फीसदी टीके लगे।

नोट : जिले में 23500 हैल्थ वर्कर्स पंजीकृत हुए थे, इनमें से जो मैसेज और कॉल के माध्यम से पहले बुलावे पर नहीं आए, उन्हें दूसरी और तीसरी बार भी बुलावा भेजा गया। दूसरी और तीसरी बार नाम रिपीट होने के कारण, आँकड़ा 27 हजार के पार पहुँचा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें