पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Husband wife And Nephew Tied The Young Man To A Tree And Beat Him With Sticks, When He Fainted, He Started Bringing Water To His Senses, Then Left And Ran Away.

पीट-पीटकर युवक की हत्या:पति-पत्नी और भतीजे ने युवक को पेड़ से बांधकर लाठियों से पीटा, बेहोश हुआ तो पानी डालकर होश में लाने लगे, फिर छोड़कर भागे

कटनी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार।

कटनी के स्लीमनाबाद थाना क्षेत्र राखी गांव में मिली युवक की लाश के मामले में पुलिस ने हत्या का केस दर्जकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। युवक की हत्या गांव में रहने वाले एक दंपति ने अपने भतीजे के साथ मिलकर की थी। युवक आए दिन परेशान करता था और घर का दरवाजा बाहर से बंद कर देता था, जिससे तंग आकर तीनों ने उसे पकड़ा और फिर रस्सी से पेड़ में बांध दिया और लाठियों से पीटना शुरू कर दिया। मारपीट से युवक जब बेहोश हो गया तो तीनों ने उसे पेड़ से खोलकर होश में लाने के लिए पानी भी छिड़का, लेकिन युवक जब होश में नहीं आया तो उसे वहीं छोड़कर भाग गए। पुलिस ने बताया कि मृतक आदतन अपराधी था और उसके खिलाफ बहोरीबंद थाने से जिलाबदर की कार्रवाई भी की जा चुकी।

पुलिस ने बताया कि 29 मई को राखी गांव के मोहल्ले में एक युवक की लाश मिलने की सूचना मिली थी। जिसके बाद पुलिस टीम वहां पर पहुंची। शव को अपने कब्जे में लेकर पंचनामा की कार्रवाई के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। शव की पहचान बहोरीबंद थाना क्षेत्र के कुआं गांव निवासी प्रमोद पिता रविशंकर नायक (32) के रूप में की गई। हत्या का मामला दर्जकर प्रकरण की विवेचना शुरू की गई। इस दौरान संदेह के आधार पर राखी गांव निवासी शंकरलाल बर्मन और उसकी पत्नी गुड्डी बाई बर्मन और भतीजे सचिन बर्मन से पूछताछ की गई। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि प्रमोद नायक आए दिन उन्हें परेशान करता था, गाली-गलौज कर घर का दरवाजा बाहर से बंद कर देता था, 29 मई की सुबह भी घर का दरवाजा उसने बाहर से बंद कर दिया। जिस पर उन्होंने भतीजे सचिन से दरवाजा खुलवाया। दरवाजा खुलने के बाद प्रमोद मिल गया। जिसे पकड़कर तीनों ने घर के पीछे लगे पेड़ में बांध दिया और लाठी से पिटाई शुरू कर दी। मारपीट के दौरान वह बेहोश हो गया। प्रमोद को पेड़ से खोलकर उसे होश में लाने के लिए पानी भी डाला गया, लेकिन उसे होश नहीं आया। जिसके बाद तीनों उसे वहीं पर छोड़कर भाग गए। पुलिस ने आरोपियों के पास वारदात में उपयोग की गई रस्सी और लाठी जब्त की है। पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने वारदात का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

रिपोर्ट-रवि पांडेय

खबरें और भी हैं...