पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ओपन बुक एग्जाम:किसी भी तरह का फर्जीवाड़ा किया तो निरस्त कर दी जाएगी छात्र की पूरी परीक्षा

जबलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रादुविवि ने परीक्षा को लेकर तैयार की रणनीति, कॉपियाँ जमा हाेने के बाद पूर्व में मौजूद कॉपियों से लिखावट का होगा मिलान

रानी दुर्गावती विवि 12 जून से ओपन बुक एग्जाम शुरू करने जा रहा है। ओपन बुक परीक्षाओं में फर्जीवाड़ा करने वाले विद्यार्थियों के पकड़े जाने पर उनकी पूरी परीक्षाएँ निरस्त कर दी जाएँगी। यहाँ तक कि वे आगामी तीन सालों तक परीक्षा के लिए अपात्र घोषित कर दिए जाएँगे। विवि अधिकारियों का कहना है कि उन्हें विद्यार्थियों के लिखावट के नमूने लेने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि उनके पास विद्यार्थियों के पहले की उत्तर पुस्तिकाएँ मौजूद हैं जिससे उनका मिलान किया जाएगा, इसलिए विद्यार्थी ईमानदारी के साथ स्वयं उत्तर पुस्तिकाएँ लिखें। किसी दूसरे व्यक्ति से उत्तर लिखवाने की गलती न करें।

यहाँ बता दें कि 12 जून को स्नातक बीकॉम, बीबीए, बीसीए व बीकॉम ऑनर्स के विद्यार्थियों के लिए प्रश्न पत्र अपलोड किए जाएँगे। इन विद्यार्थियों को 15 जून से 17 जून तक संग्रहण केन्द्रों में कॉपियाँ जमा करने कहा गया है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के ऐसे विद्यार्थी जो कोरोना के कारण कॉलेज आने में असमर्थ हैं वे डाक के जरिए कॉपियाँ जिले के अग्रणी महाविद्यालय में 21 तक पहुँचा सकेंगे। वहीं 14 जून को स्नातक बीएससी, बीएचएससी तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों के लिए व 25 जून को बीएड, बीएड साइंस चतुर्थ सेमेस्टर, एलएलबी षष्टम सेमेस्टर, बीएएलएलबी दशम सेमेस्टर के विद्यार्थियों के लिए प्रश्न पत्र अपलोड किए जाएँगे।

खबरें और भी हैं...