पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Illegal Possession Of Traffickers And Drug Dealers In Jabalpur Was Broken, 29 Crimes Registered, Construction Was Done On The Land Of The Pond

माफिया के रसूख पर चला हथौड़ा:फड़बाज और नशे के सौदागर का अवैध कब्जा तोड़ा, 29 केस दर्ज हैं; तालाब की जमीन पर कर लिया था निर्माण

जबलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गढ़ा थाने का कुख्यात फड़बाज और नशे के सौदागर मंजू चक्रवर्ती  के रसूख पर प्रशासन का हथौड़ा चला। - Dainik Bhaskar
गढ़ा थाने का कुख्यात फड़बाज और नशे के सौदागर मंजू चक्रवर्ती के रसूख पर प्रशासन का हथौड़ा चला।
  • पुलिस, प्रशासन और नगर निगम के संयुक्त अमले की शारदा चौक छुई खदान में कार्रवाई
  • आरोपी ने 3500 वर्गफीट की 50 लाख रुपए कीमत की सरकारी भूमि पर कब्जा कर 25 लाख की लागत से कराया था निर्माण

जुआ और नशे के सौदागर मंजू चक्रवर्ती के रसूख पर गुरुवार को प्रशासन का हथौड़ा चला। शारदा चौक छुई खदान में तालाब की 3500 वर्गफीट शासकीय भूमि पर कब्जा कर पक्का निर्माण करा लिया था। पुलिस, प्रशासन और नगर निगम की टीम अचानक शाम को पहुंची और हथाैड़ा चलाकर उसके निर्माण को ध्वस्त कर दिया। आरोपी के खिलाफ 29 प्रकरण दर्ज हैं। कुछ दिन पहले ही जुआ के मामले में उस पर एनएसए की कार्रवाई हुई थी।

कार्रवाई के दौरान एएसपी अमित कुमार भी मौके पर पहुंचे।
कार्रवाई के दौरान एएसपी अमित कुमार भी मौके पर पहुंचे।

35 की उम्र 29 प्रकरण हैं दर्ज
शारदा चौक छुई खदान निवासी 35 वर्षीय मंजू चक्रवर्ती के खिलाफ जुआ, NDPS, आर्म्स, मारपीट सहित कुल 29 मामले दर्ज हैं। कुछ दिन पहले ही गढ़ा पुलिस ने गिरफ्तार किया था। अभी वह जेल में है। उसके खिलाफ NSA की भी कार्रवाई हो चुकी है। आरोपी कुख्यात जुआ फड़बाज और नशे का सौदागर है। उस पर स्थानीय सफेदपोश का संरक्षण था। कुछ महीने पहले उसके फड़ पर जब पुलिस दबिश देने गई तो उक्त नेता ने पहुंच कर पुलिस की ही तलाशी करा ली थी।

कार्रवाई के दौरान मौके पर पहुंचे एएसपी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए
कार्रवाई के दौरान मौके पर पहुंचे एएसपी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए

छुई खदान में अड्‌डा बदल कर खिलाता था जुआ
मंजू चक्रवर्ती की इस क्षेत्र में आतंक था। वह पहाड़ी पर बने घरों में अड्‌डा बदल कर जुआ खिलाता था। उसका नेटवर्क इतना तगड़ा था, पुलिस के आने की भनक उस तक पहले ही पहुंच जाती थी। पहाड़ी पर बाइक जाने का ही संकरा रास्ता है। इस कारण पुलिस भी आसानी से नहीं पहुंच पाती थी। वह स्मैक भी बेचता था। इसी आतंक के बल पर उसने शासकीय भूमि पर भी कब्जा कर लिया था।

टीम ने शाम को पहुंचकर तोड़फोड शुरू की।
टीम ने शाम को पहुंचकर तोड़फोड शुरू की।

3500 वर्गफीट शासकीय भूमि पर कब्जा
मंजू चक्रवर्ती ने छुई खदान में शासकीय तालाब की भूमि पर 3500 वर्गफीट में कब्जा कर पक्का निर्माण कर लिया था। जमीन और निर्माण की कुल कीमत लगभग 75 लाख रुपए बताई जा रही है। पहाड़ी पर होने की वजह से वहां जेसीबी और दूसरी मशीनें नहीं पहुंच पाई। इसके चलते निगम कर्मियों ने हथौड़ा चलाकर निर्माण तोड़ा। मौके पर एएसपी सिटी अमित कुमार, गोरखपुर तहसीलदार अनूप श्रीवास्तव, सीएसपी गढ़ा तुषार सिंह, टीआई गढ़ा राकेश तिवारी, नायब तहसीलदार अरुण भूषण दुबे, एसआई विनय बुंदेला और नगर निगम का अमला मौजूद था।

खबरें और भी हैं...