पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In Balaghat, Two Real Sisters Committed Suicide Under Stress Due To Lack Of Relationship, Both Of Them Hanging On The Noose With The Same Sari

यह तो गलत बात है:बालाघाट में रिश्ता तय नहीं होने से तनाव में आकर दो सगी बहनों ने की आत्महत्या, एक ही साड़ी से फंदे पर झूली दोनों

बालाघाट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बालाघाट में शादी के लिए रिश्ता तय नहीं होने से तनाव में आकर दो सगी बहनों ने आत्महत्या कर ली। दोनों ने एक ही साड़ी का फंदा बनाया और झूल गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

शुक्रवार सुबह वार्ड क्रमांक-11, बूढ़ी निवासी रीता कालसर्पे (38) और संगीता कालसर्पे (36) ने एक ही साड़ी का फंदा बनाकर आत्महत्या की है। इनके पिता महारूलाल कालसर्पे का तीन साल पहले निधन हो गया था। वहीं, मां मेहतरीन बाई की भी डेढ़ महीने पहले मौत हो गई थी। परिवार में दो भाई हैं। बड़ा भाई अनिल (44) रायपुर में एक निजी कंपनी में काम करता है, जो मां के निधन के बाद से घर में बहनों के साथ रह रहा था। छोटा भाई सुनील (42) बैतूल में बिजली कंपनी में कार्यरत है।

मृतका रीता ब्यूटी पार्लर का काम करती थी। पड़ोसियों ने बताया कि दोनों बहनें अपनी शादी नहीं होने से पिछले कई दिनों से तनाव में रहती थीं। लंबे समय से उनका कहीं रिश्ता तय नहीं हो पा रहा था। जिसके कारण वे लोग डिप्रेशन में रहती थे तथा मोहल्ले वालों से भी ज्यादा संपर्क नहीं रहता था। कई बार उनके घर में इसी बात को लेकर झगड़े होने की बात भी बताई जा रही है। रहवासियों ने बताया कि दोनों बहनें समझदार थी लेकिन नादानी कर दी।

लापता होने की नहीं दी जानकारी:कटनी में युवक-युवती के शव मिले, जहर की खाली डिब्बी मिलने से पुलिस को प्रेम-प्रसंग में आत्महत्या की आशंका

जूडा V/s सरकार:सरकार बोली- मरीजों के साथ ब्लैकमेलिंग ठीक नहीं, जूडा ने कहा- सुप्रीम कोर्ट जाएंगे

भाई के नहाने जाते ही उठा लिया कदम

घटना के वक्त रीता और संगीता के साथ उनका बड़ा भाई अनिल था। सुबह 8 बजे के आसपास बड़ी बहन संगीता ने हाथठेले वाले से सब्जियां भी खरीदी। परिवार दो मंजिला घर में रहता है, इसलिए अनिल नहाने के लिए ऊपर बने बाथरूम में चला गया। इस दौरान दोनों बहनों ने किचन में एक ही साड़ी से फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। जैसे ही अनिल बाथरूम से बाहर निकला, अपनी दोनों बहनों को फांसी पर झूलते देख उसकी चीख निकल गई। जब तक दोनों बहनों को बचाने की कोशिश की जाती तब तक उनकी जान जा चुकी थी।

घटना की सूचना मिलते ही ASP गौतम सोलंकी, CSP कर्णिक श्रीवास्तव, कोतवाली थाना प्रभारी एमआर रोमड़े घटना स्थल पर पहुंचकर शवों का पंचनामा किया गया। पुलिस अधिकारियों के अनुसार दोनों बहनों ने साड़ी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली थी, जिनका शव परिजनों द्वारा उतार लिया गया था। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

MP में प्री-मानसून:भोपाल में शाम 4 बजे गरज-चमक के साथ बारिश, खंडवा में हल्की बौछारें; अगले 24 घंटे में सभी संभागों में बारिश के आसार

खबरें और भी हैं...