• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In Jabalpur, The Party Led By BJP MP Took Out Torch Procession, Described As The Most Shameful Act Of Democracy

पंजाब में पीएम की सुरक्षा में चूक पर बवाल:जबलपुर में बीजेपी सांसद की अगुवाई में पार्टी ने मशाल जुलूस निकाला, लोकतंत्र का सबसे शर्मनाक कृत्य बताया

जबलपुर4 महीने पहले

“चन्नी तुम कुछ शर्म करो, कुछ तो अच्छे कर्म करो’ की नारेबाजी के साथ जबलपुर में बीजेपी ने मशाल जुलूस निकाला। पंजाब प्रवास के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक को बीजेपी ने बड़ा मुद्दा बनाने की तैयारी में है। जबलपुर सांसद राकेश सिंह की अगुवाई में गुरुवार को मालवीय चौक में जुलूस निकाल कर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आक्रोश प्रकट किया। सांसद बोले विश्व के सबसे लोकतांत्रित देश में पंजाब की घटना सबसे शर्मनाक है। सोनिया गांधी व राहुल गांधी के साथ पूरी कांग्रेस पार्टी को देश के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

सांसद राकेश सिंह ने कांग्रेस की पंजाब राज्य सरकार और उसके सीएम चन्नी पर निशाना साधते हुए कहा कि विश्व में सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में राज्य सरकार द्वारा इस तरह कोताही की जाए। गलती करने के साथ-साथ पूरी ढिठाई के साथ उसे अलग-अलग तर्क से सही ठहराने का प्रयास देश के इतिहास में पहली बार हुआ है।

बीजेपी ने मशाल जुलूस निकाला।
बीजेपी ने मशाल जुलूस निकाला।

प्रधानमंत्री पूरे देश का होता है

राजनीतिक दल के नाते विरोध हो सकता है, लेकिन प्रधानमंत्री पूरे देश के होते हैं। दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता के रूप में मोदीजी पंजाब के प्रवास पर गए। मौसम खराब था। खराब मौसम के बाद राज्य सरकार को सूचित किया गया कि वे सड़क मार्ग से जाएंगे। उनकी सहमति के बाद वे गए तो रोड को बाधित कर दिया गया। पीएम के काफिले के सामने लोग आते हैं। रास्ता रोकते हैं। 20 मिनट तक अराजकता की स्थिति बनती है। विश्व में ऐसा कहीं नहीं देखा गया।

मशाल जुलूस निकाल कर पंजाब की घटना पर जताया विरोध।
मशाल जुलूस निकाल कर पंजाब की घटना पर जताया विरोध।

सोनिया गांधी व राहुल गांधी मौन क्यों हैं?

प्रधानमंत्री बराबरी के साथ देश के हर राज्य को आगे ले जाने का प्रयास कर रहे। किसी राज्य सरकार का ऐसा राजनीतिकरण कभी नहीं हुआ होगा। देश की जनता को जवाब देना चाहिए। इस शर्मनाक हरकत के लिए पंजाब के सीएम को इस्तीफा देना चाहिए। सोनिया गांधी व राहुल गांधी मौन क्यों हैं? लोकतंत्र की दुहाई देते रहते हैं। इससे शर्मनाक हालत कभी नहीं हुआ। कांग्रेस को देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।