पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In The Meeting That Lasted For Hours, Only Suggestions Kept Coming, There Was No Agreement On Any Concrete Issue, Today The Picture Will Be Clear

छूट मिलेगी लेकिन कितनी और कैसे?:घंटों चली मीटिग में सिर्फ सुझाव आते रहे, किसी ठोस मुद्दे पर सहमति नहीं, आज साफ होगी तस्वीर

जबलपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लॉकडाउन में दिखे हैं ऐसे भी नजारे। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
लॉकडाउन में दिखे हैं ऐसे भी नजारे। (फाइल फोटो)

1 जून की सुबह शहर और ग्रामीण क्षेत्र अनलॉक होंगे लेकिन इसकी तस्वीर अभी तक साफ नहीं हो पाई है। रविवार को आपदा प्रबंधन समिति की वर्चुअल मीटिंग में प्रभारी मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया काफी देर तक मंथन करते रहे लेकिन पुख्ता तौर पर यह तय नहीं हो पाया कि अनलॉक में किस तरह की छूट और किस-किस व्यापार को छूट दी जाए। विधायकों ने अपने सुझाव रखे और समस्याएँ भी बताईं। पहले यह कहा गया कि 50 प्रतिशत दुकानें खोली जाएँ और इसके लिए ऑड-ईवन फाॅर्मूला अपनाया जाए लेकिन लगभग सभी विधायकों ने इस पर आपत्ति की और कहा कि सभी दुकानों को छूट दी जाए।

समय भले ही सीमित रखा जाए लेकिन ऑड-ईवन का फाॅर्मूला लागू न किया जाए। यह भी कहा गया कि संबंधित एसडीएम और जनप्रतिनिधि से चर्चा करने के बाद ही इस पर अंतिम फैसला लिया जाए। मीटिंग में कहा गया कि शासन स्तर पर जो गाइडलाइन जारी की गई है उसका पालन किया जाएगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि सदस्यों से मिले सुझावों पर छूटों का प्रस्ताव राज्य शासन को भेजा जाये तथा स्वीकृति मिलने के बाद अनलॉक की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। जिला आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य शशिकांत सोनी ने भी अपना सुझाव रखा। बैठक में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, नगर निगम आयुक्त संदीप जीआर, अपर कलेक्टर राजेश बाथम, सीएमएचओ डॉ. रत्नेश कुररिया जुड़े थे।

प्रभारी मंत्री बोले

  • कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए एकजुट होकर किये गये प्रयासों के फलस्वरूप जिले में कोरोना की स्थितियों में लगातार सुधार हो रहा है, परन्तु फिर भी पूरी सावधानी और सतर्कता जरूरी है।
  • संक्रमण फैलने कि संभावना वाली गतिविधियों पर प्रतिबंध के साथ-साथ व्यापारिक एवं आर्थिक गतिविधियों सहित सामान्य गतिविधियाँ शुरू करना भी जरूरी है।
  • नगर निगम जबलपुर को छोड़कर जिले के शेष नगरीय क्षेत्रों में लोगों को सुविधा देने के संबंध में कोई भी अंतिम निर्णय लेने से पहले संबंधित एसडीएम से एक बार पुन: चर्चा कर ली जाये।
  • सभी को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य किया जाये। कोई भी ग्राहक या व्यापारी बिना मास्क पहने कोई वस्तु खरीदते या विक्रय करते पाया जाये तो उस पर कठोर कार्यवाही की जाये।

ऐसे भी मिले सुझाव; हर वर्ग का रखा जाए ध्यान

सांसद राकेश सिंह; जनता के हित का निर्णय लेना होगा, सभी लोग इस महामारी से मुक्ति चाहते हैं, इसलिए सभी कदम सोच-विचार कर उठाने की जरूरत है।
विधायक अजय विश्नोई; कार, मोटर साइकिल, वर्कशॉप व शोरूम सहित सड़क के किनारे साइकिल, ऑटो व मोटर साइकिल मरम्मत की दुकानें खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए।
विधायक अशोक रोहाणी; प्रतिबंधों से छूट देने में सभी वर्ग के व्यापारियों के हितों का ध्यान रखा जाये।
विधायक सुशील तिवारी इंदू; कृषि उपज मंडियों में किसानों की फसलों की बिक्री प्रारंभ करने की सख्त जरूरत है। बरेला क्षेत्र में ऑड-ईवन नहीं चल पाएगा।

विधायक श्रीमती नंदनी मरावी; सीमित समय के लिए सभी दुकानें खोली जानी जरूरी है।
विधायक संजय यादव; कोरोना की चेन को हम सब तोड़ना चाहते हैं, लेकिन सभी वर्गों के रोजी-रोटी का ध्यान रखना होगा, विशेषकर चाय आदि के छोटे दुकानदारों का।
विधायक विनय सक्सेना; ऑड-ईवन की प्रक्रिया नहीं चल सकती। सभी व्यापारियों को व्यापार की छूट मिलनी चाहिए और दुकान खोलने के लिए पर्याप्त समय मिलना चाहिए।

खबरें और भी हैं...