• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In The Purchase Of Moong, Rs 400 Per Quintal Was Sought For Bribe, Salesman Absconded, Associate Arrested With 11 Thousand Rupees

लोकायुक्त ने सेल्समैन के सहयोगी को दबोचा:मूंग की खरीदी में प्रति क्विंटल 400 रुपए मांगे थे रिश्वत, सेल्समैन फरार, 11 हजार रुपए के साथ सहयोगी धराया

जबलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी अरविंद सिंह को लोकायुक्त टीम ने रुपए फेंक कर भागते समय दबोचा। - Dainik Bhaskar
आरोपी अरविंद सिंह को लोकायुक्त टीम ने रुपए फेंक कर भागते समय दबोचा।

जबलपुर लोकायुक्त ने शहपुरा तहसील के पिपरिया कला गांव में संचालित कृषि साख सहकारी समिति में मंगलवार 14 सितंबर की शाम को दबिश दी। टीम ने सेल्समैन के एक सहयोगी को 11 हजार रुपए रिश्वत लेते दबोचा। लोकायुक्त की टीम को देख सेल्समैन ने दौड़ लगा दी। लोकायुक्त ने दोनों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज किया है।

लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा के मुताबिक गोकला बेलखेड़ा निवासी किसान शोभाराम पटेल ने दो दिन पहले मामले की शिकायत की थी। शोभाराम ने शिकायत में बताया था कि कृषि साख सहकारी समिति पिपरिया कला का सेल्समैन अंकित ठाकुर सरकारी रेट पर मूंग की खरीदी के एवज में प्रति क्विंटल 400 रुपए की दर से 14 हजार रुपए मांग रहा है। 11 हजार रुपए पर सौदा तय हुआ है। एसपी ने दोनों की बातचीत को ट्रैप कराया।

सेल्समैन अंकित ठाकुर व अरविंद सिंह के खिलाफ कार्रवाई करती लोकायुक्त की टीम।
सेल्समैन अंकित ठाकुर व अरविंद सिंह के खिलाफ कार्रवाई करती लोकायुक्त की टीम।

लोकायुक्त टीम पहुंची रंगेहाथों दबोचने

एसपी के निर्देश पर निरीक्षक घनश्याम मर्सकोले की अगुवाई में रंजीत सिंह, राजेश ओहरिया, आरक्षक गोविंद राजपूत, अमित गावड़े, सोनू चौकसे, विजय बिस्ट, आरक्षक चालक जीत सिंह शिकायतकर्ता शोभाराम पटेल के साथ पिपरिया कला गांव स्थित शासकीय खरीदी केंद्र पहुंचे। यहां सेल्समैन ने पैसे लेने के लिए भैरोघाट निवासी अरविंद सिंह को भेजा। शोभाराम पटेल ने जैसे ही 11 हजार रुपए की रकम अरविंद को दिए। वहां मौजूद टीम ने दबोच लिया।

लोकायुक्त टीम को देख सेल्समैन भाग

आरोपी अरविंद भी रिश्वत की रकम फेंक कर भागने की कोशिश की थी, लेकिन टीम ने पकड़ लिया। जबकि सेल्समैन अंकित ठाकुर ने लोकायुक्त की कार्रवाई देख दौड़ लगा दी। टीम ने उसका भी पीछा किया, लेकिन वह हाथ नहीं आया। लोकायुक्त टीम ने दोनों आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया गया है।

खबरें और भी हैं...