पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • BJP Workers Were Hooting In Front Of SI's Vehicle, Sat On A Dharna In Front Of The Police Station At Night To Teach A Lesson.

महिला SI के साथ अभद्रता:बीजेपी के कार्यकर्ता एसआई के वाहन के आगे-आगे हूटिंग कर रहे थे, सबक सिखाने पर रात में थाने के सामने धरने पर बैठ गए

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहपुरा में बीजेपी नेताओं की शर्मनाक हरकत, अधिकारियों पर दबाव बनाकर नहीं दर्ज होनी दी एफआईआर
  • देर रात थाने में पहुंच कर अधिकारियों को संभालना पड़ा मामला, रोजनामचे में वारदात का उल्लेख

शहपुरा में बाइक सवार युवकों की शर्मनाक हरकत सामने आई है। बाइक पर चार-पांच की संख्या में युवकों ने थाने में पदस्थ महिला एसआई के वाहन के आगे-आगे चलते हुए हूटिंग की। महिला एसआई ने सबक सिखाया तो बीजेपी नेताओं संग थाने के बाहर धरने पर बैठ गए। देर रात हंगामे की खबर पाकर अधिकारी और आसपास के अन्य थानों का बल पहुंचा। तब कही जाकर धरना समाप्त हुआ। जानकारी के अनुसार थाने में पदस्थ 2018 बैच की महिला एसआई की मोबाइल ड्यूटी थी। वह थाना मोबाइल में बैठकर क्षेत्र गश्त में निकली थीं। इसी दौरान वार्ड नंबर सात शहपुरा निवासी वेदप्रकाश ठाकुर अपने चार-पांच साथियों के साथ महिला एसआई के वाहन के आगे-आगे हूटिंग करते हुए जा रहे थे। महिला एसआई ने रोक कर समझाने का प्रयास किया तो वे मर्यादा लांघ बैठे। इसके बाद महिला एसआई ने पुलिसिया अंदाज में जवाब दिया। बताते हैं कि आरोपी बीजेपी के स्थानीय कार्यकर्ता है।

सीएम का निर्देश भी नहीं मान रहे पार्टी के नेता-कार्यकर्ता

बीजेपी से जुड़े युवकों की यह हरकत इस कारण और भी शर्मनाक है, क्योंकि सीएम शिवराज सिंह महिला संबंधी अपराधों को लेकर काफी संजीदा है। अधिकारियों को सख्त निर्देश है कि महिला अपराध करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा न जाए। महिला एसआई के मामले में पार्टी नेताओं का आचरण विपरीत दिखा। वे आरोपियों को बचाने के लिए पुलिस अधिकारियों पर दबाव डालते हुए दिखे।

शहपुरा थाने के सामने देर रात धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता व नेता।
शहपुरा थाने के सामने देर रात धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता व नेता।

थाने के सामने बैठ गए धरने पर, देर रात हुआ समाप्त
महिला एसआई से अभद्रता और मर्यादा लांघने वाले बीजेपी कार्यकर्ता नशे में धुत थे। बाद में उनके समर्थन में बीजेपी नेता खैरी निवासी शैलू सिंह, दीपक सिंह, श्रीकांत परिहार, अनिल अग्रवाल, प्रिंस पटेल, यश नाहर, बिट्‌टू नाहर, अर्पित साहू, राजदीप राय, पीयूष जैन, सुनील जैन, प्रेतेश जैन, मनीष सिंह ठाकुर, विपिन सिंह ठाकुर और इनके 50-60 लोग मिलकर थाना गेट पर धरने पर बैठ गए।

ग्रामीण एएसपी शिवेश सिंह बघेल के आश्वासन पर समाप्त हुआ धरना।
ग्रामीण एएसपी शिवेश सिंह बघेल के आश्वासन पर समाप्त हुआ धरना।

धारा 144 का उल्लंघन, फिर भी नहीं हुई कार्रवाई
जिले में धारा 144 लागू है। कोरोना के चलते इस तरह से धरना-प्रदर्शन, जुलूस आदि पर रोक लगाई गई है। बावजूद 50-60 की संख्या में बीजेपी नेता व कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए। वे उलटे महिला एसआई से माफी मांगने का दबाव बनाने लगे। इसके साथ ही कई भाजपा नेताओं द‌वारा दबाव इस बात के लिए बनाया जाने लगा कि एसआई की शिकायत पर कोई एफआईआर नहीं होनी चाहिए। इसकी खबर अधिकारियों तक पहुंची तो पाटन, बेलखेड़ा, भेड़ाघाट की पुलिस भी पहुंच गई। मौके पर पहुंचे एएसपी ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल ने होली के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर किसी तरह धरना समाप्त कराया।

सांसद- विधायक का करीबी भाजयुमो नेता निकला दुष्कर्मी:नशीला शरबत पिला कर महिला से रेप, वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर 10 लाख रु. मांगे, पति को भेजे फोटो-चैट
पहले भी विवादों में आ चुके हैं बीजेपी नेता

महिलाओं से अभद्रता, छेड़छाड़, रेप सहित कई गंभीर आरोपी पहले भी बीजेपी नेताओं पर लगते रहे हैं। इसी तरह की एक शिकायत महिला थाने में दर्ज हुई है। वहां भाजयुमो मंडल अध्यक्ष ने एक महिला से रेप किया और फिर 10 लाख रुपए के लिए उसे ब्लैकमेल करने लगा। इससे पहले अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व प्रदेश मंत्री उपेंद्र धाकड़ के खिलाफ सहपाठी रह चुकी कॉलेज छात्रा ने रेप का मामला दर्ज कराया था। पूर्व विधायक अंचल सोनकर के खिलाफ महिला एसआई से अभद्रता करने का आरोप लग चुका है। इससे पूर्व मंडल अध्यक्ष अनिकेत चौरसिया के खिलाफ निकट की महिला ने रेप का मामला दर्ज कराया था। प्रदेश संगठन मंत्री रह चुके अरविंद मेनन को लेकर भी पूर्व में एक पूर्व एमआईसी सदस्य की पत्नी के साथ वायरल वीडियो पर हंगामा हो चुका है।

खबरें और भी हैं...