• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • IPS Shrutikirti Somvanshi Will Give Tips To Qualify The Exam To The Youth Preparing For Civil Services In Jabalpur, Classes Held In Sihora

IPS की पाठशाला:जबलपुर में सिविल सेवा की तैयारी कर रहे युवाओं को टिप्स दे रहे IPS श्रुतिकीर्ति, सिहोरा में लगाई क्लास, नागपुर और सतना से युवा आए

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आईपीएस की क्लास में सिहोरा के 20 से अधिक युवक-युवतियां शामिल हुईं। - Dainik Bhaskar
आईपीएस की क्लास में सिहोरा के 20 से अधिक युवक-युवतियां शामिल हुईं।

एक आईपीएस युवाओं को सिविल एग्जाम क्वालीफाई करने के टिप्स दे रहे हैं। कोविड के चलते सिविल सेवा की तैयारी करने वाले कई युवाओं को परेशानी हुई है। वहीं, बहुत से ऐसे भी लोग हैं, जो सही मार्गदर्शन और गाइड न मिलने से शुरुआती गलतियां कर जाते हैं। ऐसे युवाओं को विषय चयन से लेकर तैयारी की बारीकियां बताई जा रही है। ये क्लास संडे टू संडे लगेगी।

बात कर रहे हैं 2018 बैच के आईपीएस श्रुतिकीर्ति सोमवंशी (30) की। दूसरे प्रयास में UPSC क्वालीफाई कर आईपीएस बने सोमवंशी वर्तमान में SDOP सिहोरा का दायित्व संभाल रहे हैं। पुलिस के व्यस्त भरे जॉब के बीच उन्होंने सकारात्मक पहल शुरू की है। सिहोरा रेस्ट हाउस में उनकी पाठशाला लग रही है। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वह क्षेत्र के ऐसे युवा जो सिविल सेवा की तैयारी करना चाहते हैं या तैयारी कर रहे हैं, को 1 अगस्त से पढ़ाना शुरू किया है।

श्रुतिकीर्ति सोमवंशी।
श्रुतिकीर्ति सोमवंशी।

दो साल से दिमाग में चल रहा था

सोमवंशी ने दैनिक भास्कर को बताया, पिछले दो साल से दिमाग में चल रहा था। कोविड ने हाथ बांध रखे थे। जबलपुर मेरे लिए खास है। आईपीएस की ट्रेनिंग के बाद पहली पोस्टिंग यहीं मिली। बरगी टीआई के रूप में प्रशिक्षण लेने के बाद अब सिहोरा एसडीओपी की जिम्मेदारी संभाल रहा हूं। इस क्षेत्र के कई युवा जब भी मिलते थे, तो तैयारी के बारे में जिक्र करते थे। उनकी बातचीत से महसूस होता था कि उन्हें सही मार्गदर्शन और गाइड की जरूरत है। इसी सोच ने प्रेरणा दी।

युवाओं को सिविल सेवा की तैयारी के टिप्स देते आईपीएस सोमवंशी।
युवाओं को सिविल सेवा की तैयारी के टिप्स देते आईपीएस सोमवंशी।

युवाओं को ये टिप्स दिया

आईपीएस सोमवंशी के मुताबिक USPC की तैयारी से पहले इसके बारे में जान लेना जरूरी है। मसलन, कितने चांस मिलते हैं। प्रारंभिक परीक्षा कैसी होती है। मुख्य परीक्षा से लेकर इंटरव्यू तक के सफर और वहां पहुंचने तक सामने आने वाली चुनौतियों को कैसे फेस करना है, इस बारे में बताएंगे। वैकल्पिक विषय क्या रखें। जो दिल्ली या दूसरी जगह रहकर एक-दो साल से तैयारी कर रहे थे। कोविड के चलते घर आना पड़ा, उनकी समस्या भी दूसरी होगी। उनसे बात कर जानने का प्रयास करेंगे, क्या दिक्कत आ रही है। उसे हल करने की कोशिश करेंगे।

अभी संडे टू संडे लगेगी क्लास

सोमवंशी के मुताबिक पुलिस की जॉब टफ होती है। ऐसे में समय निकालना मुश्किल होता है। सिहोरा संभाग जिले में सबसे बड़ा है। इस कारण अभी शुरुआती दिनों में संडे टू संडे क्लास लगेगी। कोशिश रहेगी, मेरे अलावा इस क्लास में मेरे बैचमेट लखनादौन में पदस्थ सिद्धार्थ जैन और सीनियर भी शामिल हों। अलग-अलग लोगाें के अनुभव युवाओं के काम आएंगे। सभी लोगों ने अलग-अलग तरीके से परीक्षा फेस की होगी। उन्हाेंने कैसे तैयारी की, इसके बारे में वे बेहतर ढंग से समझाएंगे, तो युवाओं को काफी मदद होगी।

दिव्यजीत सिंह, मोहित सिंह परिहार और पंकज सक्सेना।
दिव्यजीत सिंह, मोहित सिंह परिहार और पंकज सक्सेना।

नागपुर व सतना तक से शामिल हुए युवा

आईपीएस सोमवंशी की इस क्लास में नागपुर और सतना के युवक शामिल हुए। वहीं, जबलपुर शहर से भी कई युवक पहुंचे थे। नागपुर से क्लास में शामिल होने पहुंचे पंकज सक्सेना के मुताबिक वह सोमवंशी के सोशल पेज से 2015 से जुड़े हैं। वहां इसके बारे में पता चला तो खुद को रोक नहीं पाया। वे एक बार परीक्षा दे चुके हैं। वहीं, सतना के मोहित सिंह परिहार ने बताया कि पांच घंटे की इस क्लास ने कांसेप्ट क्लीयर कर दिया। जबलपुर से पहुंचे दिव्यजीत सिंह ने कहा कि एक सफल हो चुके अधिकारी से एग्जाम के टिप्स मिलना मायने रखता है।

ट्रेनिंग के दौरान श्रुतिकीर्ति सोमवंशी।
ट्रेनिंग के दौरान श्रुतिकीर्ति सोमवंशी।

पिता डीआईजी रह चुके हैं, तो बड़े भाई IPS

श्रुतिकीर्ति सोमवंशी को सिविल सेवा की तैयारी का माहौल बचपन से मिला। रायबरेली (यूपी) के रहने वाले सोमवंशी के पिता डॉक्टर तहसीलदार सिंह यूपी में डीआईजी से रिटायर हुए हैं। बड़े भाई स्वरोचित सोमवंशी 2012 बैच के IPS हैं। वर्तमान में वल्लभ भवन भोपाल में पदस्थ हैं। स्कूली शिक्षा रायबरेली से पूरी करने वाली सोमवंशी ने लखनऊ से बीटेक किया और फिर दिल्ली सिविल की तैयारी करने चले गए। 2018 में सेकेंड टर्म में आईपीएस का एग्जाम क्वालीफाई करने में सफल रहे।

सिविल सेवा की तैयारी कर रहे युवाओं में दिखा उत्साह।
सिविल सेवा की तैयारी कर रहे युवाओं में दिखा उत्साह।

खबरें और भी हैं...