पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गांजे के साथ तस्कर गिरफ्तार:जबलपुर पुलिस ने 2.10 लाख रुपए का 14 किलो गांजा जब्त किया, दमोह का है तस्कर

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांजे की प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
गांजे की प्रतीकात्मक फोटो
  • बेलबाग पुलिस ने घोड़ा अस्पताल और तहसीली चौक के बीच दबिश देकर दबोचा

रायपुर से गांजा की खेप लेकर शहर पहुंचे दमोह के तस्कर को बेलबाग पुलिस ने रविवार देर रात दबोच लिया। आरोपी के पास से पुलिस ने 14 किलो गांजा जब्त किया। इसकी कीमत 2.10 लाख रुपए बताई जा रही है। आरोपी पेशेवर गांजा तस्कर है। पूर्व में मझौली पुलिस उसे 12 किलो गांजे के साथ गिरफ्तार कर चुकी है। बेलबाग पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ में जुटी है।
बैग की तलाशी में 14 किलो गांजा जब्त हुआ
जानकारी के अनुसार रविवार रात को गश्त के दौरान पुलिस ने घोड़ा अस्पताल से तहसीली चौक के बीच में एक युवक को संदिग्ध हालत में खड़ा पाया। युवक बैग लेकर वहां किसी के इंतजार में खड़ा था। पुलिस को संदेह हुआ। युवक को बुलाकर पुलिस ने पूछताछ की तो वह सकपका गया। इस पर पुलिस ने उसके बैग की तलाशी ली तो उसमें 14 किलो गांजा एक-एक किलो पैक में टेप से चिपका हुआ मिला।
दमोह का है आरोपी
टीआई बेलबाग अरविंद चौबे ने बताया कि गिरफ्त में आया आरोपी डेलनखेड़ा जबेरा दमोह निवासी सौरभ झारिया है। 23 वर्षीय सौरभ इससे पूर्व मझौली में गिरफ्तार हो चुका है। तब पुलिस ने उसके पास से 12 किलो गांजा जब्त किए थे। आरोपी ने प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि वह रायपुर से उक्त गांजा लेकर शहर में किसी को देने आया था। पूछताछ में पता चला कि वह बतौर कैरियर गांजा लाता था। उसे सिर्फ अलग-अलग नंबरों पर फोन से निर्देश मिलते थे।
एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण दर्ज
बेलबाग पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण दर्ज करते हुए 14 किलो गांजा जब्त कर लिया। आरोपी की जमानत अर्जी खारिज करते हुए कोर्ट ने जेल भेज दिया। खुलासा करने में टीआई के अलावा एसआई संध्या चंदेल, प्रधान आरक्षक महेन्द्र शुक्ला, आरक्षक प्रेमलाल, मनीष, मनोज, मोहम्मद इस्माइल, राजकुमार, मनीष सिंह, सुनील सिंह की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

और पढ़ें