MP में गुड गवर्नेस में जबलपुर दूसरे स्थान पर:सीएम द्वारा की गई समीक्षा में ए श्रेणी के 6 शहरों में उज्जैन को मिला पहला स्थान

जबलपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर को गुड गवर्नेस में मिला दूसरा स्थान। - Dainik Bhaskar
जबलपुर को गुड गवर्नेस में मिला दूसरा स्थान।

एमपी के ए श्रेणी के 6 शहरों में गुड गवर्नेस के मामले में जबलपुर को प्रदेश में दूसरे स्थान पर रहा। जबकि उज्जैन को पहला स्थान मिला। सीएम द्वारा की गई समीक्षा में हत्या, हत्या के प्रयास, रेप, गुम बालक-बालिकाओं के दस्तयाब, अवैध शराब, अवैध खनन, भू-माफियाओं और सूदखारों सहित एनएसए की कार्रवाई के आधार पर मूल्यांकन किया गया।

सीएम शिवराज सिंह चौहान 29 नवंबर को गुड गवर्नेस को लेकर प्रदेश के सभी जिलों की ए, बी और सी श्रेणी के आधार पर जिलों के सभी अपराधाें के आधार पर समीक्षा कर रहे थे। एक जनवरी से 31 अक्टूबर के बीच की गई कार्रवाई और अपराधों के आधार पर ये समीक्षा की गई। ए श्रेणी के जिलों में जबलपुर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर, इंदौर व सागर को शामिल किया गया था। उज्जैन को जहां प्रथम वहीं जबलपुर दूसरे स्थान पर रहा। वहीं अन्य चारों जिले संतोषप्रद माने गए।

जिलों को श्रेणी के अनुसार इस तरह मिला स्थान

  • ए श्रेणी के शहर-उज्जैन प्रथम व जबलपुर द्वितीय
  • बी श्रेणी के शहर-गुना प्रथम, सतना द्वितीय व शहडोल तृतीय
  • सी श्रेणी के शहर-सिंगौली प्रथम, सिवनी द्वितीय व झाबुआ तृतीय
  • इन जिलों के प्रदर्शन से नाखुश-विदिशा, धार, मुरैना, अनुपपुर, श्योपुर, आगर व डिंडोरी

इन मानकाें के आधार पर हुआ मूल्यांकन

जिलों में शरीर सम्बंधी अपराध जैसे हत्या, हत्या का प्रयास, रे आदि के प्रकरणों में आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी, गुम बालक-बालिकाओं की दस्तयाबी, अवैध मादक पदार्थ और शराब की तस्करी में लिप्त अरोपियों, अवैध उत्खनन व परिवहन मे लिप्त खनन माफिया, भू माफिया के विरूद्ध की गयी कार्यवाही के साथ साथ आसामाजिक तत्वों के विरूद्ध जिला बदर, एन.एस.ए. और प्रतिबंधात्मक कार्यवाही के आधार पर मूल्यांकन किया गया।

जबलपुर का ये रहा मूल्यांकन

  • गुम बालक/बालिकाओ की दस्तयाबी मे चतुर्थ।
  • अवैध रेत के परिवहन/उत्खनन में तृतीय।
  • अवैघ शराब के विरूद्ध कार्यवाही में पांचवां।
  • चिटफंड कम्पनियों से निवेशकों को राशि दिलाने मे तीसरा।
  • मिलावटी खाद्य पदार्थ निमार्ण करने वाली फैक्ट्रीयों पर कार्यवाही में चौथा।
  • अपराधियों के विरूद्ध एनएसए की कार्यवाही में द्वितीय। राशन/खाद्यान की कालाबाजारी सम्बंधी अपराधों पर कार्यवाही में द्वितीय।
  • जबलपुर जिला सभी प्रकार की कार्यवाहियों में टॉप-5 में रहा है।