जबलपुर की बेटी ने दिलाया तीरंदाजी में गोल्ड:मुस्कान किरार ने की विश्व रिकॉर्ड की बराबरी, राष्ट्रीय तीरंदाजी में एमपी को दिलाया संयुक्त गोल्ड मेडल

जबलपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुस्कान किरार के साथ टीम के खिलाड़ी। - Dainik Bhaskar
मुस्कान किरार के साथ टीम के खिलाड़ी।

मध्यप्रदेश तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ियों ने 40वीं राष्ट्रीय तीरंदाजी चैंपियनशिप में एक स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित किया है। जमशेदपुर में खेली जा रही प्रतियोगिता में मप्र तीरंदाजी अकादमी की मुस्कान किरार ने 150 में से 150 अंक हासिल करते हुए विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। मप्र अकादमी की मुस्कान, रागिनी मार्को, सृष्टि, निकिता और चिराग ने मप्र के लिए पदक जीते।

जमशेदपुर में 01 अक्टूबर से खेली जा रही प्रतियोगिता में महिला कम्पाउंड टीम में मुस्कान किरार, रागिनी मार्को, सृष्टि और निकिता की टीम ने स्वर्ण पदक जीता। मुस्कान ने व्यक्तिगत ओलंपिक राउंड में रजत पदक जीता। इसी स्पर्धा में रागिनी ने कांस्य पदक अपने नाम किया। स्पर्धा का स्वर्ण पदक ज्योति सुरेखा ने अपने नाम किया। सेमीफाइनल में मुस्कान ने रागिनी के खिलाफ 150 में से 150 अंक हासिल करते हुए विश्व रिकॉर्ड की बराबरी भी की।

मुस्कान किरार ने विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की।
मुस्कान किरार ने विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की।

मुस्कान ने कांस्य पदक अपने नाम किया

इसके साथ ही यह राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बन गया है। रागिनी ने रैंकिंग राउंड में मप्र को दूसरा रजत पदक दिलाया। इसी स्पर्धा में मुस्कान ने कांस्य पदक अपने नाम किया। वहीं, चिराग और रागिनी की जोड़ी ने मिश्रित युगल में महाराष्ट्र को 157-154 के अंतर से हराकर कांस्य पदक जीता। इस तरह मप्र ने एक स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक अपने नाम किए हैं।

कोच रिचपाल सलारिया के प्रशिक्षण में निखरा निशाना

यहां बताते चले कि मुस्कान सहित सभी खिलाड़ी मप्र राज्य तीरंदाजी अकादमी, जबलपुर में मुख्य कोच रिचपाल सलारिया के मार्गदर्शन में प्रशिक्षणरत है। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा एकलव्य और विक्रम पुरस्कार से सम्मानित नगर की गौरव मुस्कान किरार ने एक बार फिर राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर नया इतिहास रच दिया है।

खबरें और भी हैं...