पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Keep Oxygen Cylinder Stock Up To 5 Times More Than Needed; Increase The Number Of Oxygen Supported Beds Private Hospital

आयुक्त मेडिकल एजुकेशन ने दिए निर्देश:जरूरत से 5 गुना ज्यादा रखें ऑक्सीजन सिलेंडर का स्टॉक; ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड की संख्या बढ़ाएँ निजी अस्पताल

जबलपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक के दौरान दिशा-निर्देश देते प्रशासनिक अधिकारी।
  • आयुक्त चिकित्सा शिक्षा ने ऑक्सीजन सप्लायर्स की बैठक में कहा- मिलकर ऐसे प्रयास करें कि आपूर्ति बाधित न हो

कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है इसलिये ऑक्सीजन की आपूर्ति हर हाल में बनी रहे। कमिश्नर मेडिकल एजुकेशन निशांत वरबड़े ने यह बात मेडिकल काॅलेज में बैठक के दौरान ऑक्सीजन सप्लायर्स से कही। उन्होंने कहा कि किसी भी पेशेंट की मृत्यु ऑक्सीजन की कमी से न हो इसका ध्यान अधिकारी भी रखें, हमारी पहली प्राथमिकता पेशेंट की जान बचाना है इसलिये कोशिश यह की जाये कि वर्तमान जरूरत से 5 गुना ज्यादा ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था बनाकर हम रखें।

भागायुक्त महेशचंद्र चौधरी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा भी मौजूद रहे। इस दौरान नये ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर चर्चा करते हुए अधिकारियों ने कहा कि इस दिशा में युवाओं को प्रोत्साहित करें। कोविड पेशेंट के लगातार बढ़ने की प्रकृति को देखते हुये उन्होंने कहा कि उपलब्ध संसाधनों का बेहतर उपयोग कर मरीजों का उपचार करें। श्री वरबड़े ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि ऑक्सीजन सिलेंडर के खाली व भरे सिलेंडरों का हिसाब रखें। बाद में आयुक्त चिकित्सा शिक्षा ने सुख सागर मेडिकल कॉलेज पहुँचकर निरीक्षण किया।

इंटर्नशिप करने वालों को बुलायें| अस्पताल प्रबंधन के साथ बैठक में उन्होंने कहा कि आयुर्वेदिक, यूनानी और होम्योपैथी के जितने भी इंटर्नशिप करने वाले हैं उन्हें बुलायें और कोरोना की रोकथाम में उनकी सेवायें लें, यदि वे नहीं आते हैं तो उनकी मान्यता समाप्त करने की कार्यवाही करें।

ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड की संख्या बढ़ाएँ निजी अस्पताल
आयुक्त चिकित्सा शिक्षा निशांत बरबड़े ने निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेण्डरों की उपलब्धता की समीक्षा की। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में निजी अस्पताल संचालकों की बैठक में उन्होंने कहा कि आकस्मिक स्थिति में ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित न हो, इसके लिये संचालकों को खुद के ऑक्सीजन सिलेण्डर रखने होंगे तथा ऑक्सीजन की स्टोरेज क्षमता बढ़ानी होगी। भविष्य की जरूरत को देखते हुये निजी अस्पताल संचालकों को ऑक्सीजन जनरेशन प्लाण्ट भी लगाने होंगे।

संभागायुक्त महेशचंद्र चौधरी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में आयुक्त चिकित्सा शिक्षा ने कहा कि अस्पतालों को ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड की संख्या बढ़ाने पर ध्यान देना होगा। इसी तरह निजी अस्पतालों को अब अपने पूरे अस्पताल को कोविड हॉस्पिटल का स्वरूप देने की दिशा में भी आगे बढ़ना होगा। बैठक में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा भी मौजूद रहे। संभागायुक्त ने बताया कि जबलपुर में ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति बनी हुई है। उन्होंने निजी अस्पतालों को ऑक्सीजन के स्टोरेज के लिये जम्बो सिलेण्डर क्रय करने की सलाह भी दी।

ऑक्सीजन की नहीं, सिलेण्डरों की कमी| निजी अस्पताल संचालक सौरभ बड़ेरिया और सरबजीत सिंह मोखा ने कहा कि जिला प्रशासन स्तर पर ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। प्रशासन चाहता है कि वे सिलेण्डर ज्यादा ले लें और ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता रखें। उन्होंने कहा कि अस्पतालों के पास सिलेण्डरों की कमी है। पी-2

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें